» »रोमांचक सफर से भरा है यह पहाड़ी ट्रेक रूट, जिसके आगे है खूबसूरत किला

रोमांचक सफर से भरा है यह पहाड़ी ट्रेक रूट, जिसके आगे है खूबसूरत किला

Written By: Nripendra

अपनी भौगोलिक विशेषताओं से सब को आकर्षित करती भारत की चारों दिशाएं, रोमांच प्रेमियों के लिए किसी सौगात से कम नहीं। चाहे उत्तर में स्थित हिमालय पर्वतमाला हो, या फिर दक्षिण के तटीय क्षेत्र। देखा जाए तो भारत में कुदरती खूबसूरती के अलाव कई और ऐसी जगहें हैं, जहां एडवेंचर के शौकीन बार-बार आना पसंद करते हैं।

इसी क्रम में आज हम आपको महाराष्ट्र स्थित ऐसे पहाड़ी किले की सैर कराने जा रहे हैं, जो अपने साहसिक एडवेंचर के लिए दुनिया भर में जाना जाता है।

पहाड़ी चोटी पर बना खतरनाक किला

पहाड़ी चोटी पर बना खतरनाक किला

PC- Ccmarathe

देखा जाए तो भारत भूमि अपने ऐतिहासिक किलों के लिए ज्यादा जानी जाती है, इसलिए राजस्थान पर्यटकों के मध्य ज्यादा लोकप्रिय है। यहां के फोर्ट्स अपनी शाही अंदाज के लिए विख्यात हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताने जा रहे हैं, जो यहां होने वाली रोमांचक गतिविधियों के लिए जाना जाता है।

यह है, महाराष्ट्र स्थित 'हरिहर का किला'। ये किला दूर पहाड़ की चोटी पर बसा है, जहां पहुंचने का रास्ता बेहद खतरनाक है। दूर चोटी पर बसा यह किला हर्षगढ़ किले के नाम से भी प्रसिद्ध है।

खतरनाक ट्रेक रूट

खतरनाक ट्रेक रूट

PC- Ccmarathe

हरिहर किले का खतरनाक ट्रेक रूट ट्रैवलर्स व एडवेंचर प्रेमिया के मध्य काफी लोकप्रिय है। यहा किला, राज्य के नासिक जिले के पहाड़ पर बसा है, जिसकी ऊंचाई लगभग 170 मीटर है। इस किले की चढ़ाई करना इतना खतरनाक है, कि कई बार ट्रैवलर्स बीच रास्ते में ही अपना सफर खत्म कर देते हैं। किले तक पहुंचने के लिए रखा हर एक कदम मौत के मुंह तक ले जा सकता है। सफर के दौरान कई ऐसे मोड़ भी आते हैं, जो इस ट्रेक रूट को काफी मुश्किल भरा बना देते हैं। लेकिन यही ट्रेक रूट इस किले की सबसे बड़ी खासियत है, जो इसे एक रोमांचक मोड़ मे तब्दील कर देती है।

 117 सीढ़ियों का सफर

117 सीढ़ियों का सफर

PC- Ccmarathe

प्रिज्म की आकृति सा दिखने वाले, इस किले तक पहुंचने के लिए 117 सीढ़ियों का सफर तय करना होता है। इस दौरान सांस फूल जाती है, और काफी थकावट का अनुभव होता है। ऊपर जाती हर एक सीढी पर चढ़ने के लिए अत्यधिक शारीरिक बल लगाने की जरूरत पड़ती है। लेकिन इसी अनुभव को पाने के लिए यहां साहसिक पर्यटकों का तांता लगा रहता है। पत्थरों को काट कर बनाई गईं ये सीढ़ियां, इस सफर के दौरान रोमांचक अनुभव देती है। कुछ सीढ़ियां चढ़ने के बाद एक बड़ा दरवाजा आता है, जो आज भी अपनी प्रारंभिक संरचना लिए खड़ा है।

ट्रेक रूट की खोज

ट्रेक रूट की खोज

PC- Ccmarathe

इस खतरनाक ट्रेक रूट की खोज, एक डग स्कॉट नाम के पर्वतारोही ने की थी। यही वो पहला ट्रैवलर था, जो सबसे पहले इस रूट के सहारे इस किले तक पहुंचा। उसी के नाम पर अब इस पहाड़ को स्कॉटिश कहा जाता है। इस सफर के खतरनाक होने का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है, कि इसे पूरा करने के लिए लगभग 2 दिन का समय लगता है।

कैसे पहुंचे

कैसे पहुंचे

PC- Ccmarathe

हरिहर फोर्ट के लिए आपको महाराष्ट्र के नासिक शहर पहुंचना पड़ेगा। नासिक से इस स्थल की दूरी लगभग 42 किमी है। आप यहां तक बस या ट्रैक्सी के जरिए पहुंच सकते हैं। अगर आप हवाई मार्ग से यहां पहुंचना चाहते हैं, तो आपको मुंबई स्थित छत्रपति शिवाजी टर्मिनल एयरपोर्ट का सहारा लेना पड़ेगा। जहां से आप सड़क मार्ग से नासिक फिर हरिहर फोर्ट आसानी से पहुंच सकते हैं। यहां का नजदीकी रेलवे स्टेशन नासिक है। जो कई मुख्य शहरों व राज्यों से जुड़ा हुआ है।