» »चेन्नई से वीकेंड पर एडवेंचर ट्रिप के लिए जरूर आएं नागलापुरम

चेन्नई से वीकेंड पर एडवेंचर ट्रिप के लिए जरूर आएं नागलापुरम

Posted By: Staff

भारत एक ऐसा खूबसूरत देश है जहां हर तरह की जगहें हैं। यहां खूबसूरत, आकर्षक और रोमांचक जगहों की कोई कमी नहीं है। इस बात में कोई शक नहीं है, कि भारत के हर राज्‍य में वीकेंड पर घूमने के लिए असंख्‍य स्‍थल मौजूद हैं। चेन्‍न्‍ई के आसपास वीकेंड पर घूमने के लिए ऐसा ही पर्यटन स्‍थल है नागलापुरम। आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में 213 फीट की ऊंचाई पर स्थित नागलापुरम अपने वेदनारायण मंदिर के लिए प्रसिद्ध है।

इस मंदिर में भगवान विष्‍णु के प्रथम अवतार मतस्‍य की पूजा की जाती है। ये वैष्‍णव धर्म का प्रमुख तीर्थस्‍थल है। अपने प्राकृतिक सौंदर्य और एडवेंचर के कारण पिछले कुछ समय से नागलापुरम पर्यटकों और ट्रैकर्स के बीच बहुत लोकप्रिय हो चुका है। 

नागलापुरम आने का सही समय

नागलापुरम आने का सही समय

PC- editor crazyyatra

इस छोटे से शहर का इतिहास प्राचीन विजयनगर शासनकाल से जुड़ा हुआ है। किवदंती के अनुसार नागलापुरम को कृष्‍णदेवराय ने अपनी माता नगला देवी की याद में बनवाया था। उस काल की समृद्ध संस्‍कृति और जीवनशैली आज आप इस शहर में बने मंदिरों की वास्तुकला के ज़रिए देख सकते हैं। आज मंदिरों और इतिहास के अलावा नागलापुरम अपने खूबसूरत नज़ारों के कारण ट्रैकर्स क बीच भी बहुत लोकप्रिय हो चुका है। देशभर से लोग इसके प्राकृतिक सौंदर्य को देखने यहां आते हैं। ट्रैकर्स, कैंपर्स और फोटोग्राफर्स को भी ये जगह बहुत पसंद है।

कैसे पहुंचे नागलापुरम

कैसे पहुंचे नागलापुरम

PC- Maps

वायु मार्ग द्वारा : अगर आप चेन्‍नई तक हवाई यात्रा से जा रहे हैं तो आपको एयरपोर्ट से नगलापुरम के लिए कैब करनी पड़ेगी। चेन्‍नई एयरपोर्ट से नगलापुरम की दूरी 82 किमी है।

रेल मार्ग द्वारा : चेन्‍नई और नगलापुरम के बीच कोई सीधी ट्रेन नहीं है। हालांकि, आप चेन्‍न्‍ई से गुम्मिदीपुंदी तक लोकल ट्रेन ले सकते हैं और फिर यहां से नागलापुरम के लिए टैक्सी लेनी होगी।

सड़क मार्ग द्वारा : चेन्‍नई से सड़क मार्ग से जाने पर नागलापुरम महज़ 70 किमी की दूरी पर पड़ेगा। चेन्‍नई से नागलापुरम के लिए निजी बसें ही चलती हैं जिनमें समय और पैसा दोनों ही ज्‍यादा लगेंगें इसलिए बेहतर होगा कि आप कैब या अपने निजी वाहन से जाएं।

रूट 1 : चेन्‍न्‍ई - पुज़हल - पेरियापालायम - नागलपुरम

रूट 2 : चेन्‍न्‍ई - वेनगल - नगलापुरम

रूट 3 : चेन्‍न्‍ई - मदुरवोयल - तिरुवल्‍लूर - नगलापुरम

हालांकि, तेज और ज्‍यादा दिलचस्‍प रूट 1 है। इस रूट पर आपको कई खूबसूरत नज़ारे और मंदिर देखने को मिलेंगें। इस रूट पर आप प्राकृतिक सौंदर्य से सजी पुज़हल झील भी देख सकते हैं और पेरियापलायम में देवी भवानी का आशीर्वाद ले सकते हैं।

पुजहल झील

पुजहल झील

PC - Puzhal2015

रेड हिल्‍स की तलहटी में स्थित होने के कारण इसे रेड हिल्‍स झील के नाम से भी जाना जाता है। पुज़हल झील राज्‍य का प्रमुख वर्षा जलाशय है और इससे आसपास के कई शहरों और कस्‍बों को पानी की आपूर्ति की जाती है। 1876 में ब्रिटिश काल के दौरान इसे बनवाया गया था और तब से लेकर आज तक ये झील आसपास के शहरों और कस्‍बों की जरूरतों को पूरा कर रही है। अगर आप पानी के पास किसी शांत सी जगह पर कुछ देर बैठना चाहते हैं तो आपको इस झील पर जरूर आना चाहिए। इस झील का खूबसूरत नज़ारा आपको निश्चित ही मंत्रमुग्‍ध कर देगा। आज यहां से गुज़रने वाला हर पर्यटक इस झील पर जरूर रूकता है।

श्री भवानी अम्‍मान मंदिर

श्री भवानी अम्‍मान मंदिर

PC- Official website

अरानी नदी के पास पेरिआपलायम में श्री भवानी अम्‍मान मंदिर में हर महीने हज़ारों श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते हैं। देवी भवानी यानि मां पार्वती के अवतार को समर्पित यह मंदिर इस शहर का प्रमुख आकर्षण है। मंदिर की दीवारों को खूबसूरत चित्रों से सजाया गया है और यहां असंख्‍य देवी-देवताओं की मूर्तिंया देख सकते हैं। हर साल यहां आद‍ी, आवनी, थ्‍ज्ञाइ्र, एप्‍पासी और चिथिराई के त्‍योहार के दौरान हज़ारों संख्‍या में श्रद्धालु आते हैं। अगर आप पेरियापलायम की समृद्ध संस्‍कृति और पंरपरा को देखना चाहते हैं तो श्री भवानी अम्‍मान मंदिर जरूर आएं।

नागलापुरम

नागलापुरम

PC- Santhosh Janardhanan

नागलापुरम पहुंचने के बाद आपको इस शहर के प्राकृतिक सौंदर्य और शांत वातावरण में घूमने का मौका मिलेगा। यहां पर ऐतिहासिक स्‍थलों जैसे वेदनारायण मंदिर से लेकर खूबसूरत जगहें जैसे नगलापुरम हिल्‍स आदि देखने को मिलेंगें। इस छोटे से शहर में पर्यटकों के लिए सब कुछ है। नागलापुरम हिल्‍स पर आप ट्रैक भी कर सकते हैं और झरने के पास कैंप लगा सकते हैं।

नागलापुरम के दर्शनीय स्‍थल

नागलापुरम के दर्शनीय स्‍थल

PC- Bhaskaranaidu

ये मंदिर अपने खूबसूरत वास्‍तुकला के लिए प्रसिद्ध है। वेदनारायण मंदिर को कुछ इस तरह डिजाइन किया गया है कि ब्रह्मोत्‍सव के दौरान सूर्य की किरणें मूर्ति के सीधा पैरों, नाभि और माथे पर आकर पड़ती हैं। मतस्‍य रूप में भगवान विष्‍णु का भारत में ये प्रथम मंदिर है। देशभर से श्रद्धालु यहां दश्रन करने के लिए आते हैं और भगवान विष्‍णु से मतस्‍य अवतार में आशीर्वाद पाते हैं।

नागलापुरम झरना

नागलापुरम झरना

PC- Shmilyshy

नगलापुरम में आपको एक खूबसूरत पानी का झरना भी देखने को मिलेगा जहां आपको शांतिपूर्ण वातावरण मिलेगा। वीकएंड पर ट्रैकर्स और फोटोग्राफर्स के लिए नगलापुरम बेहतरीन जगह है। नगलापुरम के झरनों में आपको प्रकृति के खूबसूरत नज़ारों के साथ-साथ चहचहाते पक्षी भी देखने को मिलेंगें। इस झरने तक आपको थोड़ी ट्रैकिंग भी करनी पड़ेगी। अगर आप प्राकृतिक सौंदर्य के बीच अपना वीकएंड बिताना चाहते हैं तो नगलापुरम आ सकते हैं।

नागलापुरम हिल्‍स

नागलापुरम हिल्‍स

PC- Prashant Dobhal

नगलापुरम रात को ट्रैकिंग और कैंपिंग के लिए मशहूर है। बल्कि शहर के बाहरी छोर पर भी आप कैंपिंग का मज़ा ले सकते हैं। एक बार तलहटी में पहुंचने के बाद कैंप तक आने के लिए आपको थोड़ी ट्रैकिंग करनी पड़ेगी। रात के समय ट्रैकिंग के दौरान आपको थोड़ी सावधानी बरतनी पड़ेगह। अगर आप ट्रैकिंग और कैंपिंग में माहिर हैं तो इस जगह के इतिहास और प्राकृतिक सौंदर्य को बेहतर तरीके से जान पाएंगें। यहां कैमरा से तस्‍वीरें खींचने के बहुत मौके मिलेंगें। हरियाली और प्राकृतिक सौंदर्य से भरी इस जगह को फोटोग्राफर्स के लिए जन्‍नत कहा जाता है।