Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »महाराष्ट्र : इन गर्मियों बनाएं तारकरली के इन खास गंतव्यों का प्लान

महाराष्ट्र : इन गर्मियों बनाएं तारकरली के इन खास गंतव्यों का प्लान

PC-Rohit Keluskar

अपने समुद्री तटों और वार्षिक रामनवमी उत्सव के लिए प्रसिद्ध तारकरली भारत के महाराष्ट्र राज्य का एक खूबसूरत पर्यटन गंतव्य है। अपनी मनमोहक आबोहवा के लिए प्रसिद्ध राज्य का यह कोना, भारत की उन चुनिंदा जगहों में शामिल है जहां 'स्कूबा डाइविंग' का रोमांचक आनंद आसानी से लिया जा सकता है। अपनी इन खूबियों की वजह से आम पर्यटक से लेकर साहसिक एडवेंचर के शौकीन यहां आनंद की अनुभूति करने के लिए आते हैं।

यहां घूमने-फिरने के लिए कई शानदार स्थल मौजूद हैं, इसलिए यहां साल भर पर्यटकों का आवागमन लगा रहता है। इस लेख के माध्यम से जानिए पर्यटन के लिहाज से तारकरली आपको किस प्रकार आनंदित कर सकता है, जानिए यहां के शानदार स्थलों के बारे में।

तारकरली बीच

तारकरली बीच

PC-Uttpal Krushna

तारकरली भ्रमण की शुरूआत आप यहां के प्रसिद्ध समुद्री तट से कर सकते हैं। तारकरली बीच शहर के सबसे देखे जाने वाले स्थानों में शामिल है। दूर-दूर तक फैला यहां का तट सैलानियों को बहुत हद तक प्रभावित करने का काम करता है। यह तट अपने शांत परिवेश और साफ पानी के लिए जाना जाता है।

इस तट पर आप चहलकदमी के अलावा विभिन्न जल क्रीडाओं(वाटर स्पोर्ट्स) का आनंद ले सकते हैं। बीच के आसपास फैली वनस्पति इस स्थल को शानदार बनाने का काम करती हैं। आरामदायक अनुभव के लिए आप यहां अपने परिवार या दोस्तों के साथ आ सकते हैं।

आचरा बीच

आचरा बीच

PC- Sballal

तारकरली बीच के अलावा भी यहां और कई शानदार समुद्री तट मौजूद हैं, जहां आरामदायक समय बिताया जा सकता है। मुख्य शहर से लगभग 6 किमी की दूरी पर स्थित आचरा बीच पर्यटकों द्वारा ज्यादा पसंद किया जाने वाला समुद्री कोना है। यहां का पानी भी काफी स्वच्छ है, इसलिए यहां पर्यटक आना पसंद कर करते हैं। इस समुद्री तट पर भी की तरह की जल क्रीडाओ का आनंद लिया जा सकता है।

अपनी समुद्री आबोहवा के अलावा यह स्थल धार्मिक महत्व भी रखता है, यहां आसपास कई मंदिर मौजूद है, जिनमें 260 साल पुराना भगवान रामेश्वर का मंदिर काफी प्रसिद्ध है, जहां श्रद्धालुओं से लेकर पर्यटक दर्शन के लिए जाते हैं। पारिवारिक यात्रा के लिए यह समुद्री तट एक आदर्श गंतव्य है।

कोलंब बीच

कोलंब बीच

PC- Manas46951

उपरोक्त दो तटो के अलावा आप शहर के नजदीक कोलंब बीच की सैर का आनंद भी ले सकते हैं। यह समुद्री तट भी अपने विभिन्न वाटर स्पोर्ट्स के लिए जाना जाता है, जहां आप साहसिक एडवेंचर का आनंद ले सकते हैं। इस तट पर डॉलफिन साइट्स की सुविधा भी उपलब्ध है।

यहां एक क्रीक भी है जो तट की समाप्ति के बाद शुरू होती है, इसे कोलंब क्रीक के नाम से जाना जाता है। यह तट शहर के चुनिंदा सबसे खास पर्यटन गंतव्यों में गिना जाता है, आप यहां अपने दोस्तों के साथ एक शानदार ट्रिप प्लान कर सकते हैं।

धामपुर झील

धामपुर झील

समुद्री तटों के अलावा आप यहां की खूबसूरत धामपुर झील का भ्रमण भी कर सकते हैं। लगभग 10 एकड़ में फैली यह झील सैलानियों को काफी ज्यादा रोमांचित करने का काम करती है। इस झील में भी वाटर एक्टिविटी का आनंद लिया जा सकता है। यह झील स्थल धार्मिक महत्व भी रखता है, यहां स्थित भगवती मंदिर शहर के प्रसिद्ध मंदिरों में गिना जाता है, जहां श्रद्धालुओं की अच्छी-खासी भीड़ उमड़ती है।

माना जाता है कि इस झील का निर्माण 1530 में यहां के नागेश देसाई नाम के राजा ने करवाया था। झील को बनाने के लिए दो गांवों को डुबोया गया था। यहां का साफ पानी और हरा-भरा माहौल सैलानियों का काफी ज्यादा प्रभावित करता है।

सिंधुदुर्ग किला

सिंधुदुर्ग किला

PC- Shoukatalli

उपरोक्त प्राकृतिक स्थलों की सैर के अलावा आप यहां के ऐतिहासिक स्थलों की सैर का भी आनंद ले सकते हैं। आप यहां का सिंधुदुर्ग किला देख सकते हैं। माना जाता है कि इस किले का निर्माण शिवाजी के शासनकाल के दौरान करवाया गया था, जिसे बनाने में 3 साल का वक्त लगा था।

इस एकमात्र किले को बनाने के लिए 100 पुर्तगाली वास्तुकार और 1000 से ज्यादा मजदूरों को काम पर लगाया गया था। इस किले में आप कई देवी-देवताओं को समर्पित मंदिरों को भी देख सकते हैं। अगर आप इतिहास में दिलचस्पी रखते हैं तो यहां जरूर आएं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X