Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »उत्तरायण 2018: इस मकर संक्रांति पधारो गुजरात में

उत्तरायण 2018: इस मकर संक्रांति पधारो गुजरात में

By Goldi

जब भी हम बात मकर संक्रांति की करते हैं तो दिमाग में सबसे पहले नाम गुजरात का आता है, यहां मकर संक्रांति के दिन अलग ही रौनक देखने को मिलती है। गुजरात में मकर संक्रांति का त्योहार उत्तरायण के नाम से जाना जाता है और इस दिन पतंगबाजी का बहुत महत्व है। पूरे विश्व में गुजरात की पतंगबाजी प्रसिद्ध है। इस दिन पूरा आसमान रंग बिरंगी पतंगों से सज रहता है। हर कोई पतंग के माध्यम से अपनी प्रार्थना अपने ईश के पास भेजता है।

इस पर्व के दौरान सबसे अच्छे पतंग उड़ाने वाले अपने पतंग उड़ाने का हुनर दिखाते हैं। पूरे आकाश में कई डिजाइनों और आकृतियों के पतंग के साथ रंगीन हो जाता है। सबसे रोमांच क्षण आता है, जब पेंच लड़ाया जाता है,जिसमे लोग एक दूसरे की पतंग से पेंच लड़ाकर उसे काटने का प्रयास करते हैं। इस त्योहार पर पतंग उड़ने की प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाता है।

जाने भारत में कहां कहां होते हैं काईट फेस्टिवल?जाने भारत में कहां कहां होते हैं काईट फेस्टिवल?

पतंग उड़ाने की परम्परा पीढ़ी दर पीढ़ी से चली आ रही है, पतंग के इतिहास को अहमदाबाद के पतंग संग्रहालय में बहुत ही सुंदर ढंग से वर्णित है। यह त्यौहार सिर्फ गुजरात ही नहीं बल्कि भारत के हर प्रान्त में बेहद हर्षौल्लास के साथ मनाया जाता है।

अगर आप वाकई गुजरात को घूमना चाहते हैं, तो मकर संक्राति के पर्व के दौरान इस राज्य की यात्रा करें। आप हर गली नुक्कड़ पर लोगो को उत्साहपूर्ण देखेंगे, चारो और त्यौहार की रौनक रहती है।

जमकर पतंग बाजी

जमकर पतंग बाजी

इस पर्व की तयारी कई दिनों पूर्व से ही शुरू हो जाती है, पतंगबाजी के लिए प्रसिद्ध गुजरात में कई हफ्ते पहले से ही पतंगो की दुकाने सज जाती है। बताया जाता है, इन दिनों में पतंगों का व्यापार कमाई के कई नये आंकड़े पार कर जाता है।Pc:Shailya

होती है प्रतियोगिताएं

होती है प्रतियोगिताएं

राज्य के हर शहर में कई पतंग प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं, जिनमे जीतने वाले को इनाम भी प्रदान किया जाता है।

रंग बिरंगी पतंगे

रंग बिरंगी पतंगे

मकर संक्रांति के पूरे दिन आप आप आसमान में रंग बिरंगी पतनो को उड़ते हुए देख सकते हैं, जोकि एक बेहद ही मनोरम नजारा होता है, जो आपको गुजरात के अलावा, कहीं नहीं देखने को मिलेगा।

बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक उड़ाते हैं पतंग

बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक उड़ाते हैं पतंग

इस पर्व पर पुराने यार दोस्त मिलकर पतंगें उड़ाते हैं, घर के बुजुर्ग से लेकर बच्चे तक इस दिन पतंग उड़ाने का मजा उठाते उठाते हैं।

रात में उड़ते हुए कंदील

रात में उड़ते हुए कंदील

जहां पूरे दिन आप रंग बिरंगी पतंगो को देखते हैं, तो वहीं रात में आप जगमगाते कंदील को रात में उड़ते हुए देख सकते हैं, ये समां इतना खूबसूरत होता है, जिसे देखने के लिए हर कोई अपनी छत पर पार्क में निकल आता है।Pc:Bhavishya Goel

लजीज पकवान

लजीज पकवान

कोई भी पर्व बिना मिठाई और पकवान के पूरा नहीं होता है। इस पर्व का मेन्यू कई हफ्तों पहले से ही बन जाता है , इस दिन हर घर में ऊंधिया, ढोकला और तिल के लड्डू आदि जरुर बनते हैं। रंग बिरंगी पतंग उड़ाने के साथ साथ लजीज व्यंजनों का लुत्फ क्या होता है, ये आप जाकर गुजरात में भलीभांति देख सकते हैं।Pc:Saloni Desai

इंटरनेशनल काईट फेस्टिवल

इंटरनेशनल काईट फेस्टिवल

गुजरात में मकर संक्रांति के पर्व पर पतंगोत्सव बेहद हर्षौल्लास के साथ मनाया जाता है..इस दिन सभी अपनी छतों पर निकलकर रंग बिरंगी बिरंगी पतंगे उड़ाते हैं..और चिक्की, गजक और मूंगफली खाकर इस पर्व का लुत्फ उठाते हैं। इतना ही नहीं गुजरात में हर वर्ष 7 जनवरी से 15 जनवरी के बीच इंटरनेशनल काईट फेस्टिवल का भी आयोजन किया जाता है। इस दौरान इस पर्व कई विदेशी शहर हिस्सा लेने पहुंचते हैं जैसे जापान,मलेशियाचाइना ,सिंगापुर आदि।Pc:Sagarp7

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X