» »अब वीकेंड पर ताजमहल नहीं... दिल्ली के आसपास की ये चीजें घूमिये

अब वीकेंड पर ताजमहल नहीं... दिल्ली के आसपास की ये चीजें घूमिये

Written By: Goldi

एक बार फिर आने वाला है वीकेंड..तो आपने इस वीकेंड कहीं घूमने का प्लान बनाया है या नहीं..नहीं तो कोई बात नहीं क्यों कि आज मै आपको अपने आर्टिकल के जरिये बताने जा रहीं हूं दिल्ली से 150 किमी के अंदर बेस्ट हॉलिडे और
वीकेंड गेटवे। तो बिना देर किये मै आपको बताने जा रहीं हूं दिल्ली के परफेक्ट वीकेंड गेटवे जहां आप अपने दोस्तों, फैमली और अपने स्पेशल वन के साथ आप बीता सकते हैं एकदम अच्छा वाला टाइम..

अलवर (दिल्ली से 166 किमी दूर)

अलवर (दिल्ली से 166 किमी दूर)

अरावली की पथरीली चट्टानों में बसा यह ऐतिहासिक शहर अलवर राजस्थान के मुख्य आकर्षणों में से एक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार पांडवों ने इसी स्थल पर 13 साल भेष बदलकर बिताया था। इतिहास में यह स्थान मेवाड़ के नाम से भी जाना जाता था। यहाँ आकर आप अलवर की खूबसूरती को सही से देख सकते हैं। यहाँ के किले, झील और यहाँ का अद्भुत दृश्य देखने लायक होता है।
PC: wikimedia.org

कुरुक्षेत्र (दिल्ली से 154 किमी दूर)

कुरुक्षेत्र (दिल्ली से 154 किमी दूर)

कुरूक्षेत्र में कई धार्मिक स्‍थल है जो कुरूक्षेत्र पर्यटन को रोचक बना देते है। यहां स्थित ब्रह्मा सरोवर टैंक में, विशेष रूप से सूर्यग्रहण के दौरान हर वर्ष श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है।कुरूक्षेत्र का इतिहास बेहद समृद्ध और रंगारंग रहा है। समय बीतने के साथ, यहां की पवित्रता में दिनों - दिन विकास हुआ है, और यहां के दौरे पर भगवान बुद्ध और कई सिक्‍ख गुरू आएं, जिन्‍होने यहां आकर अपनी अमिट छाप छोडी। साथ ही बता दें, कुरुक्षेत्र वही जगह है जहां की भूमि पर पांडवो और कौरवों के बीच का ऐतिहासिक युद्ध, महाभारत लड़ा गया था। यही वह जगह है जहां भगवान श्री कृष्‍ण ने, अर्जुन का मोह भंग करते हुए उन्‍हे भगवद् गीता का उपदेश दिया था।
PC: wikimedia.org

सूरजकुंड (दिल्ली से 20 किमी दूर )

सूरजकुंड (दिल्ली से 20 किमी दूर )

जैसा की आप जानते ही होंगे की दुनियाभर में सूरजकुंड का मेला बहुत प्रसिद्ध है और इसी प्रकार से यहां की सूरजकुंड झील भी बहुत प्रसिद्ध है, जो की बहुत शांत और सुन्दर है। यह झील दिल्ली से मात्र 20 किमी दूर हरियाणा में स्थित है। इस झील का निर्माण राजा सूरजमल ने 10 वी शताब्दी में करवाया था। सिर्फ एक दिन की छुट्टी में मिले समय को यादगार बनने के लिए यह जगह बहुत ही सुन्दर है।
PC: wikimedia.org

नीमराना (दिल्ली से 122 किमी दूर)

नीमराना (दिल्ली से 122 किमी दूर)

नीमराना राजस्थान के अलवर जिले में स्य्हित एक ऐतिहासिक शहर है जोकि दिल्ली से 122 किमी की दूरी पर स्थित है।नीमराना में घूमने के लिए नीलकंठ मंदिर,सिलिसरेह झील,विराटनगर आदि हैं। नीमराना के पास ही भानगढ़ भी है जोकि सैलानियों के बीच खासा प्रसिद्ध है।

PC: wikimedia.org

सोहना (दिल्ली से सोहना की दूरी 69 किमी)

सोहना (दिल्ली से सोहना की दूरी 69 किमी)

सोहना गुड़गांव अल्वर हाईवे पर शहर से 24 किमी दूर स्थित है और दिल्ली से इसकी दूरी महज 54 किलोमीटर है। दमदम झील यहां का एक जाना पहचाना पर्यटन स्थल है, जिसकी प्राकृतिक छटा देखते ही बनती है।
पर्यटक यहां बोटिंग का भी आनंद उठा सकते हैं। यहां हर साल फरवरी में विंटेज कार रैली का आयोजन भी किया जाता है, जो काफी चर्चा जगाने वाला होता है।

दमदमा लेक (दिल्ली से दमदमा लेक की दूरी 45 किमी)

दमदमा लेक (दिल्ली से दमदमा लेक की दूरी 45 किमी)

दमदमा लेक गुड़गांव में है। यह धौला कुंआ से 45 किलोमीटर दूर है, जो दिल्ली-अलवर हाइवे पर है। आप दो घंटे में यहां पहुंच सकते हैं। यहां आना आपके लिए एक अडवेंचरस ट्रिप साबित हो सकता है। आप यहां हॉट एयर बलूनिंग, पारा सेलिंग, रॉक क्लाइंबिंग, साइकिलिंग, एंगलिंग, ट्रैकिंग व कैंपिंग वगैरह इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर कई रिसॉर्ट हैं, जहां से आपको 500 रुपए से लेकर 1000 रुपए तक पैकेज मिल जाएगा। इसमें घूमना-फिरने के अलावा ऐक्टिविटीज व खाना-पीना भी शामिल है।
PC: wikimedia.org

चोखी धानी विलेज ((दिल्ली से 61 किमी दूर) )

चोखी धानी विलेज ((दिल्ली से 61 किमी दूर) )

आप ट्रडिशनल फूड और डांस इंजॉय करना चाहते हैं, तो जयपुर के चोखी धानी जा सकते हैं। यहां दाल-बाटी चूरमा से लेकर पपेट शो, मड हट्स व कैमल राइड्स का मजा ले सकते हैं। वहीं, ट्रडिशनल ड्रेसेज व जूलरी की शॉपिंग का भी यहां अपना ही मजा है। यह सुबह साढ़े 6 बजे खुलता है और रात में 11 बजे बंद होता है। वहीं, चोखी धानी में लास्ट एंट्री रात 10 बजे तक ही होती है। आप 2 से 6 घंटे में पूरा विलेज घूम सकते हैं। इसमें एंट्रेस फीस बड़ों के लिए 350 रुपए है और बच्चों के लिए आपको 175 रुपए चुकाने होंगे।

सुलतानपुर बर्ड सेंचुरी (दिल्ली से 58 किमी दूर)

सुलतानपुर बर्ड सेंचुरी (दिल्ली से 58 किमी दूर)

यह दिल्ली से 15 किलोमीटर की दूरी पर है और सुलतानपुर गांव के नजदीक है। आपको यहां पर तरह-तरह के बर्ड्स देखने को मिल जाएंगे। यही नहीं, हर साल माइग्रेटेड बर्ड्स भी यहां बड़ी तादाद में आते हैं। इसके अलावा, आप गुड़गांव में माता शीतला देवी मंदिर और शेख मूसा टॉम्ब भी जा सकते हैं।
PC: wikicommon

प्रतापगढ़ फार्म्स (दिल्ली से 57 किमी दूर)

प्रतापगढ़ फार्म्स (दिल्ली से 57 किमी दूर)

अगर आपको शहर में रहकर गांव का मजा लेना है तो बस दिल्ली से निकल पड़िए प्रतापगढ़ फार्म्स। यह फार्म हाउस सुबह 9:30 बजे से शाम 5:30 तक खुला रहता है। आप यहां ऊंट और बैलगाड़ी की सवारी कर सकते हैं। साथ ही यहां इंडोर गेम्स के साथ साथ आउटडोर गेम्स का भी मजा ले सकते हैं..जिनमे क्रिकेट, गिल्ली डंडा, वॉलीबॉल जैसे खेल शामिल है। यकीन मानिए यहां आकर आपके बचपन की यादें ताजा हो जाएँगी।

पटौदी पैलेस (दिल्ली से 60 किमी दूर)

पटौदी पैलेस (दिल्ली से 60 किमी दूर)

गुड़गांव से 26 किलोमीटर और दिल्ली से 60 किलोमीटर है। पटौदी पैलेस हैरिटेज होटल में पटौदी फैमिली की दो जेनरेशन आपको नजर आएंगी। बता दें कि वीरा जारा, मंगल पांडे, रंग दे बसंती, गांधी माई फादर व मेरे ब्रदर की दुल्हन वगैरह की शूटिंग यहां हो चुकी है।
PC: wikicommon

करनाल

करनाल

करनाल हरियाणा का एक जिला है, जो पर्यटकों के बीच अपने पर्यटन स्मारकों और आकर्षण के लिए प्रसिद्ध हैं। ऐसा माना जाता है कि यह शहर महाभारत के प्राचीन काल के दौरान महाकाव्य कहानी में एक पौराणिक नायक राजा कर्ण द्वारा स्थापित किया गया था। करनाल आने वाले पर्यटक कोस मीनार, कलंदर शाह का मकबरा, करन ताल, और बाबर की मस्जिद जैसे कई स्थल जा सकते हैं। करनाल राष्ट्रीय राजमार्ग 1 पर स्थित है और दिल्ली से तीन घंटे की दूरी
पर है।

Please Wait while comments are loading...