» »बैंगलोर से मसिनगुड़ी : एडवेंचरस रोड ट्रिप

बैंगलोर से मसिनगुड़ी : एडवेंचरस रोड ट्रिप

By: Namrata Shatsri

 क्‍या आपने कभी बांदीपुर के जंगलों में जंगल सफारी का मज़ा या जंगल के जानवरों को अपनी आंखों के सामने देखा है ?अगर आप भी जानवरों को देखने का शौक रखते हैं और जंगल की लाइफ को देखना चाहते हैं तो आप बैंगलोर से मसिनगुड़ी के सफर में बांदीपुर और मदुमलई के जंगली क्षेत्रों को देख सकते हैं।यहां पर पक्षी अभ्‍यारण्‍य में कई तरह के पक्षियों को देखने का मौका मिलेगा।

ट्रिप की करें शुरुआत

ट्रिप की करें शुरुआत

इस ट्रिप को किसी लंबे वीकएंड पर प्‍लान करें। नाश्‍ते के बाद सुबह 7 बजे बैंगलोर-मैसूर रोड़ से होकर निकलें। अपने दिन की अच्‍छी शुरुआत करने के लिए कलसिपलयम में कामत रेस्‍टोरेंट बेहतर ऑप्‍शन रहेगा।

इसे ना भूलें

इसे ना भूलें

रूट पर गोपालस्‍वामी पर्वत को देखना ना भूलें। बांदीपुर से पहले कुछ किलोमीटर पहले दाईं तरफ मुड़ने पर आप इस पर्वत को देख सकते हैं। ये पर्वत सुबह 8.30 बजे से शाम 4 बजे खुलता है और यहां का नज़ारा बहुत बढिया है।

बांदीपुर पहुंचे

बांदीपुर पहुंचे

सड़क के रास्‍ते आप दोपहर 12 बजे तक बांदीपुर पहुंचे। जंगल के पास आने परपर आप वन्‍यजीवों जैसे जंगली कुत्ते, चीता, वाइल्‍ड बोअर, चिताल और गौर देख सकते हैं। जंगल की बाउंड्री पर आप बांदीपुर सफारी लॉज में भी रूक सकते हैं जोकि कुछ किलोमीटर दूर स्थित है।

बांदीपुर में रूकें

बांदीपुर में रूकें

बांदीपुर के जंगल में नेचर वॉक की सुविधा है और यहां पर आप सफारी लॉज में रातभर ठहर भी सकते हैं। यहां एक रात ठहरने का अनुभव आपको उम्र भर याद रहेगा। सफारी के अलावा रिजॉर्ट में कैंप फायर की सुविधा और खाने के लिए रेस्‍टोरेंट भी उपलब्‍ध हैं।

बांदीपुर से सफारी

बांदीपुर से सफारी

बांदीपुर सफारी का समय सुबह 6.30 बजे से शाम 4.30 बजे है। इसका मतलब है कि आपको शाम को सफारी करनी पड़ेगी या फिर अपनी अगली मंजिल के लिए निकलने से पहले सुबह सफारी का मज़ा लें। यहां आप कुछ पक्षियों की दुर्लभ प्रजातियों जैसे ग्रे जंगलफाउल और ड्रोंगोज़ देख सकते हैं।

मदुमलई में जंगल सफारी

मदुमलई में जंगल सफारी

इसके बाद आपका अगला स्‍टॉप मदुमलई नेशनल पार्क होगा जोकि बांदीपुर से 20 किमी दूर है और यहां पहुंचने में आपको एक घंटे से कम का समय लगेगा। यहां पर सफारी सुबह 9 बजे खत्‍म हो जाती है। जंगल में आप 30 मिनट की सफारी का मज़ा ले सकते हैं जिसमें आप बंगाल टाइगर, गौर और भारतीय चीता देख सकते हैं।

36 हेयरपिन बैंड से ड्राइव

36 हेयरपिन बैंड से ड्राइव

मदुमलई में एडवेंचरस जंगल सफारी के बाद मसिनगुड़ी के लिए निकल जाएं। इसके लिए कोयंबटूर-ऊटी-गुंडलूपेत हाईवे लें और 36 हेयरपिन बैंड से होकर निकलें। ये रोड़ अपने रैकलैस हेयरपिन बैंड के लिए मशहूर है। रोड़ के 36वें बैंड तक सतर्क रहें। इस रूट पर आपको कई खूबसूरत नज़ारे देखने को मिलेंगें और यहां आप रीयल एडवेंचर का मज़ा भी ले सकते हैं। मदुमलई से मसिनगुड़ी 75 किमी दूर है। इस हिसाब से मसिनगुड़ी आप दोपहर तक पहुंच जाएंगें।

मसिनगुड़ी में बर्डिंग

मसिनगुड़ी में बर्डिंग

मदुमलई वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य का हिस्‍सा है मसिनगुड़ी जोकि पक्षियों और वन्‍यजीव प्रेमियों के लिए किसी उपहार से कम नहीं है। जंगल‍ रिजॉर्ट में आप ठहर कर बर्डिंग, ट्रैकिंग, कैंपिंग और कई तरह की एक्टिविटीज़ का मज़ा ले सकते हैं।

मसिनगुड़ी में एक रात

मसिनगुड़ी में एक रात

यहां पर ब्‍लू वैली जंगल रिजॉर्ट, मोनार्क सफारी पार्क, क्‍लब महिंद्रा और जंगल रीट्रीट जैसी जगहों में ठहर सकते हैं। देर शाम को पक्षियों को देख सकते हैं और मसिनगुड़ी के खूबसूरत नज़ारों से आपका मन खुश हो जाएगा। सुबह जल्‍दी उठकर पक्षियों की चहचहाहट देखना ना भूलें। नाश्‍ते के बाद अपना बैग पैक करें और बैंगलोर के लिए निकल जाएं।

बैंगलोर वापसी

बैंगलोर वापसी

बैंगलोर से मसिनगुड़ी 235 किमी दूर है जिसमें 5 से 7 घंटे का समय लगेगा, बाकी ट्रैफिेक पर निर्भर करता है। इस रोमांचिक रोड़ ट्रिप के बाद आप देर शाम तक बैंगलोर पहुंच सकते हैं। इस ट्रिप पर वन्‍जीवों, पक्षियों और एडवेंचरस रोड़ की यादों को हमेशा अपने मन में संजोए रखेंगें।

Please Wait while comments are loading...