Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »तमिलनाडु : डिंडीगुल में घूमने लायक पांच सबसे खास स्थल

तमिलनाडु : डिंडीगुल में घूमने लायक पांच सबसे खास स्थल

PC- SriniGS

तमिलनाडु स्थित डिंडीगुल एक प्राचीन शहर है, जो राज्य के मदुरै क्षेत्र में स्थित है। यह शहर ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रूप में काफी महत्व रखता है। इतिहास पर प्रकाश डालें तो पता चलता है कि यहां कई शक्तिशाली राजवंशों का शासन रह चुका है, जिसमें पंड्या राजवंश, मध्यकाल के चोल, पल्लव, मदुरै सल्तनत, डिंडीगुल सल्तनत, विजयनगर साम्राज्य, मदुरै नायक अंग्रेज आदि शामिल थे। प्राचीन काल से जुड़ी कई भव्य संरचनाओं को यहां देखा जा सकता है।

इतिहास और कला-संस्कृति में दिलचस्पी रखने वालों के लिए यह एक आदर्श स्थल है, जहां एक शानदार ट्रिप का प्लान किया जा सकता है। यह स्थल खूबसूरत खेतों और हरे-भरे पहाड़ों से घिरा है, जो इसे एक उपयुक्त पर्यटन स्थल बनाने का काम करते हैं। इस लेख में हमारे साथ जानिए अपने विभिन्न आकर्षणों के साथ यह शहर आपको किस प्रकार आनंदित कर सकता है।

डिंडीगुल फोर्ट

डिंडीगुल फोर्ट

PC-SriniGS

डिंडीगुल भ्रमण की शुरुआत आप यहां डिंडीगुल फोर्ट से कर सकते हैं, यह एक प्राचीन किला है, जिसका निर्माण 17वीं में मदुरै नायक के शासनकाल के दौरान हुआ था। यह किला एक चट्टानी पहाड़ी पर बनाया गया था जहां से आप पूरे शहर को देख सकते हैं। यह प्राचीन फोर्ट यहां का सबसे मुख्य पर्यटन स्थल है, जिसका इतिहास और वास्तुकला पर्यटकों को काफी ज्यादा प्रभावित करने का काम करते हैं। यहां आकर आप डिंडीगुल के इतिहास को अच्छी तरह समझ सकते हैं। किले के अंदर की प्राचीन संरचनाएं मौजूद हैं, जिनमें मंदिर, मंडप आदि शामिल हैं। इतिहास की बेहतर समझ के लिए आप यहां आ सकते हैं।

 श्री अबिरामी अम्मन टेंपल

श्री अबिरामी अम्मन टेंपल

PC-Karthikeyanvirus

डिंडीगुल फोर्ट एक अद्भत किला है, क्योंकि इसके अंदर कई प्राचीन संरचनाओं का समावेश है। कई प्राचीन कलाकृतियों के साथ आप यहां कई प्राचीन मंदिरों को देख सकते हैं। जिनमें श्री अबिरामी अम्मन टेंपल, श्रीनिवास पेरुमल मंदिर, कालाहस्थिश्वर मंदिर आदि शामिल है। ये सभी मंदिर इस स्थल के धार्मिक और प्राचीन इतिहास को भली भांति प्रकट करते हैं। इन मंदिरों को देखकर लगता है कि यहां के प्राचीन शासक धर्म, कला-संस्कृति में भी काफी दिलचस्पी रखते थे। एक शानदार अनुभव के लिए आप यहां आ सकते हैं।

बेगमपुर मस्जिद

बेगमपुर मस्जिद

PC-Ssriram mt

डिंडीगुल में प्राचीन संरनचानों की श्रृंखला में आप यहां स्थित बेगमपुर मस्जिद को भी देख सकते हैं। यह मस्जिद किले के पास ही मौजूद है और इसका निर्माण हैदर अली ने 18वीं शताब्दी के दौरान करवाया था। हैदर अली मैसूर साम्राज्य के सुल्तान थे। माना जाता है कि यह वो ऐतिहासिक स्थान है, जहां हैदर अली ने अपनी बहन अमीरुन्निसा बेगम को दफनाया था। इस मस्जिद को बेगमपुर मस्जिद के नाम से जाना जाता है। हर साल यहां हजारों की तादाद में मुस्लिम श्रद्धालुओं का आगमन होता है। इस मस्जिद का निर्माण मुगल शैली में किया गया है। इतिहास की बेहतर समझ के लिए आप यहां आ सकते हैं।

सिरुमलाई हिल्स

सिरुमलाई हिल्स

PC-Harish Kumar Murugesan

प्राचीन स्थलों के अलावा आप यहां के प्राकृतिक स्तलों की सैर का प्लान बना सकते हैं। आप डिंडीगुल से पास में स्थित सिरुमलाई हिल्स की सैर का प्लान बना सकते हैं। यहां का पहाड़ी माहौल आपको अपार आत्मिक और मानसिक शांति का अनुभव कराएगा। एक प्रकृति प्रेमी के लिए यह स्थल किसी जन्नत से कम नहीं। फोटोग्राफी के शौकीन यहां के अद्भुत दृश्यों को अपने कैमरे में कैद कर सकते हैं। यहां आपको घने जंगल और वन्यजीवन को करीब से देखने का मौक भी मिलेगा। आप यहां विभिन्न प्रजातियों की वनस्पतियां और जंगली जानवरों को भी देख सकते हैं।

सेंट जोसफ चर्च

सेंट जोसफ चर्च

उपरोक्त स्थलों के अलावा आप यहां स्थित सेंट जोसफ चर्च को देख सकते हैं। यह चर्च डिंडीगुल के खास प्रयटन आक्रषणों में गिनी जाती है। चर्च की वास्तुकला प्रयटकों को काफी ज्यादा आकर्षित और प्रभावित करती है। यह जिले की सबसे खूबसूरत चर्च है, जिसका निर्माण 19वीं शताब्दी में किया गया था। यह शहर के मध्य में स्थित है और अपने शीशे के काम के लिए जानी जाती है। इस चर्च को देखने स्थानीय और दूर-दूर से पर्यटकों का आगमन होता है।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X