» »भारत की इन जगहों पर मिलती हैं पारंपरिक मार्केट

भारत की इन जगहों पर मिलती हैं पारंपरिक मार्केट

By: Namrata Shatsri

कुछ समय पहले हम अपने पूरे परिवार के साथ बाहर शॉपिंग करने जाया करते थे और दिनभर कई सारी दुकानें घूमने के बाद स्‍ट्रीट फूड का मज़ा लेना और रात को थक कर घर जाना, एक अलग ही अहसास देता है। इसमें शॉपिंग के साथ-साथ परिवार के साथ सम बिताने का मौका भी मिल जाया करता था।

अगर आप में है शॉपिंग का कीड़ा...तो यहां जाना बिल्कुल भी ना भूले

लेकिन आज समय बदल गया है। आज सब कुछ आपसे केवल एक क्लिक की दूरी पर है। किराने के सामान से लेकर खाने तक, कपड़ों से लेकर अन्य घरेलू सामान तक, सब कुछ निर्धारित समय पर आपके दरवाजे पर पहुंचा दिया जाता है।चूंकि मॉल और ऑनलाइन शॉपिंग शुरू हो गई है तो ऐसे में हम धीरे-धीरे पारंपरिक बाज़ारों से दूर होते जा रहे हैं। लेकिन ये बाजार इतने सुंदर और सहायक हैं कि इन्हें चाह कर भी पूरी तरह से भुलाया नहीं जा सकता है।

राजस्थान के इन लोकप्रिय बाज़ारों में करिये जम कर खरीददारी!

कपड़ों से लेकर मसालों और आभूषणो तक इन बाज़ारो में कम कीमत पर बेहतरीन और उम्‍दा सामान मिल जाता है साथ ही आप यहां पर दुकानदार से मोल-भाव भी कर सकते हैं। आइए देश के इन पारम्परिक बाजारों पर एक नज़र डालते हैं।

जौहरी बजार - जयपुर

जौहरी बजार - जयपुर

जयपुर के लोकप्रिय मार्केट्स में से एक जौहरी मार्केट हवा महल के पास स्थित है..यह बाजार उनके लिए सबसे खास है जिन्हें आभूषण काफी पसंद है। इस बाजार में आप विभिन्न प्रकार के रत्न आदि खरीद सकते हैं। जेवरों के अलावा आप इस मार्केट से और भी कई तरह की चीज़ें खरीद सकते हैं। यहां आपको कपड़े, बर्तन, जूते और बहुत कुछ घर ले जाने को मिल जाएगा। जब थक जाएं तो एक गिलास लस्सी पीकर अपनी शॉपिंग फिर शुरु कर सकते हैं।

दादर फूल बाजार - मुम्बई

दादर फूल बाजार - मुम्बई

सपनों का शहर मुम्बई स्ट्रीट खरीदारी के लिए बहुत प्रसिद्द है। यहां का फूल बाजार कुछ अलग है और यहां पर शॉपिंग करना एक अनूठा अनुभव साबित हो सकता है।इस बाजार में सामान थोक के भाव मिलता है, हालांकि छोटे विक्रेता अपनी दैनिक खरीदारी करने के लिए यहां आ सकते हैं। यह जगह एक इनडोर बाजार है और फ़ोटोग्राफरों व पर्यटकों के लिए किसी तोहफे से कम नहीं है।

कनौज बाजार - उत्तर प्रदेश

कनौज बाजार - उत्तर प्रदेश

ये बाजार अपने विभिन्न प्रकार के इत्र के साथ-साथ, तम्बाकू और गुलाब जल के लिए प्रसिद्द है। यहां घूमने पर आपको कई तरह के इत्रों की सुंगध मिलेगी। इस जगह को आप इद्ध की खुशबू में डूबा हुआ कह सकते हैं।

इस बाज़ार में आपको वनस्‍पति स्रोतों से बने इत्र भी मिल जाएंगं। बाजार में 650 से अधिक प्रकार के इत्र मौजूद हैं, जो निष्कर्षण के पारंपरिक तरीकों से तैयार किये गये हैं।

महिंद्रपुरा डाइमन्ड बाजार - सूरत

महिंद्रपुरा डाइमन्ड बाजार - सूरत

इस बाजार में जैसे ही अपना अंदर जायेंगे आपको लोगो के हाथ में जगमगाते हुए हीरे नजर आयेंगे..आप इस मार्केट में लोगो के हाथों में हीरो को ऐसे देखेंगे जैसे ये कोई सामान्य पत्थर हो।आप यहां लोगो को हीरे खरीदते हुए ऐसे देखेंगे जैसे घर का राशन खरीद रहे हों।

ईमा बाजार - इम्फाल

ईमा बाजार - इम्फाल

इस बाजार को मदर्स मार्केट के नाम से भी जाना जाता है। इमा मार्केट दुनियाभर में एकमात्र बाजार है जो केवल महिलाओ द्वारा संचालित और नियंत्रित किया जाता है।यहां 30,000 से अधिक महिलाएं पंक्तियों में बैठती हैं और अपने उत्पादों जैसे हस्तशिल्प, जूट की टोकरियां, कपड़े, मछली, किराने का सामान इत्यादि बेचती हैं।

ज्यू टाउन - कोची किला

ज्यू टाउन - कोची किला

ज्यू टाउन बाजार अपने मसालों के लिए बेहद मशहूर है। यह जगह प्राचीन वस्तुओं, शॉल, इत्र, हस्तशलिप के लिए भी जानी जाती है। यहूदी परिवारों द्वारा बनाए गए उत्‍पादों को यहां बेचने के लिए भेजा जाता है।
मसालों की सुगंध आपको यहां की कई छोटी दुकानो में खींच ले जाएगी। हालांकि, प्रतिस्पर्धा के कारण यहां पर बडी संख्या में दुकानों को बंद किया जा चुका है।

खाड़ी बावली

खाड़ी बावली

खाड़ी बावली, एशिया का सबसे बड़ा थोक मसालों का बाजार है, जहां विभन्न प्रकार के मसालों के साथ-साथ जड़ी-बूटियां, बादाम आदि मिलते हैं।यह बाजार तकरीबन 17वीं शताब्दी की शुरूआत में स्थानीय लोगों द्वारा स्थापित किया गया था।

यह बाजार दुनिया के सबसे पुराने बाजारो में से एक माना जाता है और यह चांदनी चौक बाजार के पास स्थित है।

लाद बाजार - हैदराबाद

लाद बाजार - हैदराबाद

चारमीनार स्मारक के पास स्थित इस बाजार में बड़े पैमाने पर चूडियां, अर्ध कीमती पत्थर और मोती मिलते हैं। बाजार छोटी-छोटी गलियों में फैला हुआ है और ये मार्केट एक जाल सी प्रतीत होती है। इस बाजार में जाने से पहले ज़रा मोलभाव करना जरूर सीख लें क्योंकि आपकी इस खूबी का यहां आपको बहुत फायदा मिल सकता है।

Please Wait while comments are loading...