» »पश्चिम बंगाल का भव्य महल...जिसके द्वार है 1000

पश्चिम बंगाल का भव्य महल...जिसके द्वार है 1000

Written By: Goldi

राजस्थान के भव्य महलों को आपने खूब घूमा होगा...महलों की भव्यता से शाही खानदान को देखा और समझा जा सकता है।इसी क्रम में आज हम आपको बतायेंगे एक ऐसे किले के बारे में जो आपनी वास्तुकला के चलते पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है।

गुलाबी नगरी छोड़िये..और घूमिये राजस्थान की ब्लू सिटी को..

ज्यादा बात ना घुमाते हुए बताते हैं..इस महल का नाम हजारद्वारी...इस नाम का अर्थ होता है - हजार द्वार वाला महल।  यह महल पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में स्थित है जो कभी बंगाल राजधानी हुआ करती थी। इस कृति को प्रसिद्ध वास्‍तुकार मैकलिओड डंकन द्वारा ग्रीक (डोरिक) शैली का अनुसरण करते हुए बनवाया गया था।

जाने पश्चिम बंगाल के 6 खूबसूरत हिलस्टेशन

इस महल को 1829 में बनवाया गया था, भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण ने इस महल के संरक्षण के लिए एक अच्‍छा काम किया है और अब यह जगह लोगों के देखने के लिए एक खास स्‍थल है।

900 दरवाजे झूठे

900 दरवाजे झूठे

भागीरथी नदी के किनारे बसे इस तीन मंजिले महल में 114 कमरे और 100 वास्तविक दरवाजे हैं । दिलचस्प बात यह है कि इन 1000 दरवाजों में से 900 दरवाजे झूठे (भ्रमित करने वाले) हैं। ये दरवाजे शिकारियों को भ्रमित करने और सिपाहियों को आसानी से उन्हें फंसाने में मदद करने के इरादे से बनाये गये थे।PC:Banibrata Mandal

महल की रक्षा के लिए बनाये गये थे दरवाजे

महल की रक्षा के लिए बनाये गये थे दरवाजे

महल की रक्षा के लिए ये दरवाजे बनवाये गए थे। दरवाजों की वजह से हमलावर भ्रमित हो जाते थे और पकड़े जाते थे। लगभग 41 एकड़ की जमीन पर फैले हुए इस महल में नवाब अपना दरबार लगाते थे।PC:Banibrata Mandal

निजामत इमामबाड़ा

निजामत इमामबाड़ा

यह भारत का सबसे बड़ा इमामबाड़ा है इसका निर्माण सिराजुद्दौला द्वारा करवाया गया था।PC: Manasthemarvel

मदीना मस्जिद

मदीना मस्जिद

यह मस्जिद केवल मुहर्रम महोत्सव के दौरान खोली जाती है।

PC: Lancenil

बच्चावाली तोप

बच्चावाली तोप

12-14 शताब्दी में बनी इस 16 फीट की तोप में लगभग 18किलो बारूद इस्तेमाल किया जा सकता था। कहते हैं कि इसे सिर्फ एक ही बार इस्तेमाल किया गया है और उस समय धमाका इतना बड़ा और तीव्र हुआ था कि कई गर्भवती महिलाओं ने समय से पूर्व ही बच्चों को जन्म दे दिए था, इसलिए इसे बच्चावाली तोप कहते हैं।PC:Lancenil

हजारद्वारी पैलेस संग्रहालय

हजारद्वारी पैलेस संग्रहालय

संग्रहालय के पुरावशेष में शाही परिवार के कई सामान मौजूद हैं, जिनमें दरबार हॉल में लगा हुआ खूबसूरत झूमर भी शामिल है।यह झूमर दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा झूमर है, पहला बकिंघम महल में है। यह झूमर नवाब को रानी विक्टोरिया द्वारा तोहफे के रूप में भेंट किया गया था। यहाँ का झूमर बहुत ही सुन्दर दिखता है इसमें संगमरमर की मूर्तियाँ, हथियार, प्लास्टर की कलाकृतियाँ, नक्शे, पांडुलिपियाँ और अलग-अलग तरह की दिलचस्प कला के बहुत सारे टुकड़े हैं।

PC: Mahintamani

लाइब्रेरी

लाइब्रेरी

इस लाइब्रेरी की सैर करने के लिए आपको परमिशन की जरूरत होगी...जिसके बाद आप यह लाइब्रेरी घूम सकते हैं। इस पुस्तकालय में पांडुलिपियों और पुस्तकों के दुर्लभ संग्रह हैं। PC: Czarhind

Please Wait while comments are loading...