• Follow NativePlanet
Share
» »यह कोई हॉरर फिल्म नहीं हकीकत है, जानिए इन जगहों की सच्चाई

यह कोई हॉरर फिल्म नहीं हकीकत है, जानिए इन जगहों की सच्चाई

भारत के प्रमुख मेट्रो शहरों में शामिल चेन्नई अपनी प्राकृतिक खूबसूरती, आकर्षक समद्री तटों और बौद्धिक जमावड़े के लिए पूरी दुनिया भर में प्रसिद्ध है। इसके अलावा चेन्नई विश्व के खास पर्यटन स्थलों में भी गिना जाता है। जहां दुनिया के कोने-कोने से सैलानी मानसिक थकान के बीच फुर्सत के पल बिताने के लिए आते हैं। लेकिन शायद बहुत कम लोग इस बात से वाकिफ होंगे कि यह शहर अपने प्रेतवाधित स्थानों के लिए भी जाना जाता है।
रहस्य की पड़ताल में आज हम आपको चेन्नई के उन 5 कुख्यात जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पैरानॉर्मल एक्टिविटी को आसानी से महसूस किया जा सकता है। कुछ जगहें नेगेटिव एनर्जी से इतनी भरी हुई हैं, जहां आपका मोबाइल नेटवर्क भी काम नहीं करेगा। आइए जानते हैं उन चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों के बारे में।

करिकट्टू कुप्पम

करिकट्टू कुप्पम

यह चेन्नई शहर का वो समुद्री इलाका है जो 2004 की सुनामी से पूरी तरह बर्बाद हो गया था। जिसमें कई लोगों की जान गई। और अब माना जाता है कि यहां आपदा में मरे इसानों की आत्माएं भटकती है। यह इलाका शहर के सबसे प्रेतवाधित स्थानों में गिना जाता है। जहां शाम के बाद आसानी से पैरानॉर्मल एक्टिविटी को महसूस किया जा सकता है।

करिकट्टू कुप्पम में एक वृद्ध इंसान और एक बच्ची की आत्मा को ज्यादातर देखा जाता है। लोगो का मानना है कि ये दोनों भी आपदा का शिकार हुए थे। अपने डरावने अनुभवों के कारण यहां कोई जल्दी से आना नहीं चाहता, खासकर शाम के बाद।यहां गढ़ा है परशुराम का फरसा, जिसने भी छूने की कोशिश की...

मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज

मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज

PC- User:Tshrinivasan

कहते हैं प्यार अंधा होता है और एक तरफा प्यार सबसे दुखदाई। मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज कुछ इन्हीं शब्दों के लिए जाना जाता है। कहा जाता है कॉलेज के हर्बर हॉल में एकतरफा प्यार करने वाले किसी आशिक ने आत्महत्या की थी। जिसकी आत्मा आज तक इस कॉलेज के कमरों में भटकती है। यहां कई अनहोनियों को घटते देखा गया है।

जैसे खिड़कियों के कांच का टूटना, अपने आप बर्तनों का हिलना आदि। उस आशिक की आत्मा आय दिन यहां के छात्रों को परेशान करती है। इसलिए यह कॉलेज शहर के चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों में गिना जाता है।अद्भुत : यहां की आर्ट गैलरी करती हैं इंसानों से बात, जानिए कैसे

डेमोंटे कोलोनी

डेमोंटे कोलोनी

जॉन डे मोंटे द्वारा निर्मित, दस एक जैसे घरों वाली यह पूरी कॉलोनी शहर के चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों में गिनी जाती है। कहा जाता है यहां अब डेमोंटे की आत्मा भटकती है। चेन्नई में सेंट मैरीज़ रोड के निकट स्थित डेमोंडो कॉलोनी, शहर के सबसे ख़तरनाक इलाकों में से एक है। जहां नेगेटिव एनर्जी चारों दिशाओं में फैली है।

कहा जाता है यहां कई पालतू जानवर से लेकर सुरक्षा गार्ड तक गायब हो गए हैं। जिनका आज तक कुछ पता नहीं चल सका। यहां खड़े बड़ी-बड़ी शाखाओं वाले पेड़, खंडहरनुमा घर इस कॉलोनी को भयानक शक्ल देने का काम करते हैं। यह जगह इतनी खतरनाक है कि इसपर एक तमिल हॉरर फिल्म भी बन चुकी है।

ब्लू क्रास रोड़

ब्लू क्रास रोड़

चेन्नई के ब्लू क्रास रोड़ को सुसाइड स्पार्ट का जाता है। यहां कई आत्महत्याओं के किए जाने की बात का पता चला है। जिस वजह से अब यह जगह शहर के चुनिंदा प्रेतावधित स्थानों में गिनी जाती है। यहां खड़े घने अजीबोगरीब पेड़ इस जगह को और भी खतरनाक बनाने का काम करते हैं। जो यहां की जमीन पर सूरज की रोशनी भी पड़ने नहीं देते हैं।

ब्लू क्रास रोड़ पैरानॉर्मल एक्टिविटी के लिए काफी चर्चा में रहती है। जहां शाम के वक्त कोई(जानकार) गुजरने की हिम्मत तक नहीं करता। लेकिन जो अजनबी यहां से रात के वक्त गुजरते हैं वो किसी न किसी अनहोनी का सामना जरूर करते हैं।मौत की खदान का बड़ा रहस्य, गूंजती है मृत मजदूरों की आवाजें

वाल्मीकि नगर

वाल्मीकि नगर

10 सालों से खाली पड़ा चेन्नई का वाल्मीकि नगर शहर के सबसे भुतहा जगहों में गिना जाता है। कहा जाता है यहां के एपार्टमेंट नं एफ-2 ऑन 3, सिवार्ड रोड़ पर यहां के मकान मालिक की बेटी का आत्मा भटकती है, जिसकी मृत्यु कई सालों पहले यहीं हुई थी। यहां पूरे दिन के दौरान उस भटकती आत्म की सिसकियां, खिड़कियों के खड़खड़ाने की आवाज सुनी जा सकती है।

यहां नेगेटिव एनर्जी का इस कदर कब्जा है कि यहां मोबाइल के नेटवर्क भी गायब हो जाते हैं। कहा जाता यहां दो लोगों ने आत्मा के रहस्य का पता लगाने की कोशिश की थी लेकिन वहां जाते ही वो आत्मा उनपर हावी हो गई थी। इसलिए यहां कोई गलती से भी नहीं भटकता है।रहस्य : यहां गढ़ा है मौत की भविष्यवाणी और मुक्ति कोठरी का बड़ा राज

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स