• Follow NativePlanet
Share
» »नागपुर वसियों की छुट्टियों होगी मजेदार, क्योंकि ये खास जगहें कर रही हैं आपका इंतजार

नागपुर वसियों की छुट्टियों होगी मजेदार, क्योंकि ये खास जगहें कर रही हैं आपका इंतजार

Written By:

महाराष्ट्र राज्य में स्थित नागपुर, अपने खास संतरों और संतरों की खेती के लिए पूरे भारत में जाना जाता है। संतरों के अलावा नागपुर का इतिहास भी बेहद समर्द्ध है, जो पर्यटकों का रुझान अपनी ओर करता है। प्राकृतिक खूबसूरती से लेकर कलकल बहते झरने, उद्यान, नागपुर के इतिहास को बयाँ करते किले,मंदिर आदि नागपुर को पर्यटन की नजरिये से भी बेहद खास बनाते हैं।

नागपुर एक बेहद ही खूबसूरत शहर है, सिर्फ खूबसूरत शहर ही नहीं,,बल्कि आप इस शहर के आसपास भी कई खूबसूरत जगहों को निहार सकते हैं, जो अपने अलौकिक नजारों से यहां आने वाले पर्यटकों को हतप्रभ करते हैं। अगर आप नागपुर में रहते हैं, और वीकेंड की बोरियत से राहत पाने के लिए घूमने की जगहों को तलाश कर रहे हैं, तो हमारा ये खास लेख आप ही के लिए है

पंचमढ़ी

पंचमढ़ी

मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में भी सतपुड़ा की रानी के रूप में प्रसिद्ध पंचमढ़ी एक बेहद ही खूबसूरत हिलस्टेशन है। यदि आप एक शांत और प्राकृतिक चमत्कारिक जगह की तलाश में हैं, तो आपकी यह तलाश पंचमढ़ी में खत्म हो सकती है। यहाँ आकर आप यहाँ के शांत वातावरण, हरे-भरे पेड़पौधे, संगीतमय झरने, कल-कल करती नदियां आदि के दिलकश नज़ारों में डूब जाएंगे। साथ ही पचमढ़ी में आप शिवशंकर के कई मंदिरों के दर्शन भी कर सकेंगे। आपको बता दें कि कैलाश पर्वत के बाद पचमढ़ी को ही भगवान शिव का दूसरा घर माना जाता है।Pc:Abhayashok

सांची

सांची

यदि आप अपने सप्ताहांत को पेड़ों और उद्यानों की प्राकृतिक सुंदरता से घिरे ऐतिहासिक स्मारकों के बीच में बिताना चाहते हैं, तो सांची आपको यह वीकेंड हॉलिडे डेस्टिनेशन होना चाहिए।

मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में स्थित, सांची दुनिया भर में अपने महान स्तूप के लिए लोकप्रिय है, जिसे दुनिया में वास्तुकला के बेहतरीन उदाहरणों में से एक माना जाता है और यह यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल है। साँची में पर्यटन के दौरान आप कई स्तूप, पवित्र मंदिर, मठ एवं स्तंभ देख सकते हैं, जो यहाँ पर तीसरी शताब्दी ई. पू. से लेकर बारहवीं शताब्दी से हैं। साँची के स्मारकों पर नक्काशियां हैं जो इस स्थान की संस्कृति और बौद्ध मिथकों को दर्शाती हैं। साँची घूमते समय महान स्तूप, उदयगिरी गुफाएं और चेतियागिरी मंदिर आदि अवश्य देखने चाहिए।

Pc:Suyash Dwivedi

लोनर

लोनर

महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में स्थित, लोनार अपने लोणार क्रेटर लेक के लिए घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों के बीच बेहद लोकप्रिय है, जो एक अतिपरिवर्तन उल्का सतह के बाद बनाई गई थी। कहा जाता है कि पद्म पुराण, स्कंद पुराण और आइन-ए-अकबरी में भी इस गड्ढ़े के बारे में उल्‍लेख किया गया है। जानकारी के अनुसार एक ब्रिटिश अधिकारी जेई अलेक्जेंडर ने सबसे पहले इस गड्ढे के बारे में खोजबीन की थी।

यह खूबसूरत झील हरे भरे पेड़ और सुंदर वनस्पतियों से घिरा हुई है, यहां आने वाले पर्यटक इस मनोरम झील के किनारे प्राचीन मंदिरों की भी यात्रा कर सकते हैं जो लोणार क्रेटर लेक के आसपास स्थित हैं। इस क्षेत्र के प्रमुख मंदिरों में द्यत्य सुदान मंदिर, कमलाजा देवी मंदिर और गोमुख मंदिर शामिल हैं।Pc:VinyS

भोपाल

भोपाल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को तालों के ताल के नाम से जाना जाता है। भोपाल भारत में सबसे ग्रीनस्टेस्ट में से एक है और प्राकृतिक सुंदरता के साथ-साथ ऐतिहासिक वैभव के लिए पर्यटकों के बीच लोकप्रिय है। प्राचीन स्मारकों से लेकर आकर्षक झीलों तक, आप भोपाल के भीतर सब कुछ देख सकते हैं। इसलिए, यह प्रत्येक यात्री के लिए पसंदीदा सप्ताहांत स्थलों में से एक है। यहां आने वाले प्रमुख स्थानों में अपर लेक, बिड़ला मंदिर, भीमबेटका गुफाएं, वन विहार और ताज-उल-मस्जिद आदि देख सकते हैं।Pc:Deepak sankat

जबलपुर

जबलपुर

मध्यप्रदेश के प्रमुख शहरों में से एक जबलपुर भी नागपुर के वीकेंड गेट्वेज में से प्रमुख है। संगमरमर सिटी के नाम से प्रसिद्ध जबलपुर सुरम्य झरने और खूबसूरत मंदिरों आदि के चलते पर्यटकों के बीच जाना जाता है। पर्यटक शहर में और आसपास तीर्थ स्थलों में चौंसठ योगिनी मंदिर, पिसनहारी की मढ़िया और त्रिपुर सुंदरी मंदिर, धुआंधार जलप्रपात ,तिलवारा घाट, प्राकृतिक हनुमान ताल आदि देख सकते हैं।
Pc: Hariya1234

एमपी के फ़ूड कैपिटल कहे जानें वाले इंदौर में क्या है एक टूरिस्ट और ट्रैवलर के लिए

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स