Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »महाराष्ट्र : रोमांच का मजा लेना है तो बनाएं भंदार्दारा की सैर का प्लान

महाराष्ट्र : रोमांच का मजा लेना है तो बनाएं भंदार्दारा की सैर का प्लान

भंदार्दारा पश्चिमी राज्य महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले का एक खूबसूरत नगर है। 'प्रवरा नदी' के किनारे स्थित यह नगर अपने बेशकीमती प्राकृतिक खजानों के लिए जाना जाता है। नदी,झील,पहाड़ों के साथ यह स्थल राज्य के चुनिंदा ग्रीष्मकालीन गंतव्यों में शामिल है, जहां आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ एक आरामदायक समय बिता सकते हैं।

भंदार्दारा और उसके आसपास सैलानियों के मनोरंजन के लिए काफी कुछ मौजूद है। यहां बहने वाली प्रवरा नदी इस पूरे इलाके में जान डालने का काम करती है। पौराणिक किवदंती के अनुसार 'अगस्त्य ऋषि' ने यहां सिर्फ पानी और हवा के सहारे एक साल तक तपस्या की थी । तपस्या से खुश होकर भगवान ने उन्हें गंगा नदी की एक धारा का आशीर्वाद दिया जो आज 'प्रवरा नदी' के नाम से जानी जाती है।

इसलिए यह स्थान पौरााणिक महत्व भी रखता है। यहां की विशेष भौगोलिक संरचनाएं एडवेंचर के शौकीनों को आमंत्रित करती है। अगर आप रोमांच प्रेमी हैं तो यहां आकर ट्रेकिंग का रोमांचक अनुभव ले सकते हैं।

आर्थर झील

आर्थर झील

PC- Desktopwallpapers

भंदार्दारा भ्रमण की शुरूआत आप यहां की सबसे प्रसिद्ध आर्थर झील से कर सकते हैं। आर्थर झील यहां के मुख्य पर्यटन स्थलों में गिनी जाती है, जो आर्थर पर्वत की झील के नाम से से भी प्रसिद्ध है। यह जलाशय प्रवरा नदी से बना है। यहां का आसपास का इलाका रमणीय दृश्यों से भरा है, पौराणिक किवदंतियों के अनुसार यह स्थल 'अगस्त्य ऋषि' का कुछ दिनों के लिए निवास स्थान बना था।

यह झील 34 किमी लंबी है और इसमें कई नदिका(छोटी धाराएं) भी शामिल हैं। इस झील में आप नौकायन का आनंद भी उठा सकते हैं। पारिवारिक भ्रमण के लिए यह एक खास स्थल है।

राधा फॉल्स

राधा फॉल्स

PC- Desktopwallpapers

आर्थर झील के अलावा आप विल्सन बांध से करीब 10 किमी दूर इगतपुरी क्षेत्र में स्थित राधा जलप्रपात की सैर का आनंद उठा सकते हैं। इस फॉल की सैर गर्मी के राहत पाने के लिए एक आदर्श विकल्प है। यह जलप्रपात 45 मीटर ऊंचाई पर स्थित है और जो भारत का तीसरा सबसे बड़ा झरना भी माना जाता है। आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ एक क्वालिटी टाइम यहां बिता सकते हैं।

इस जलप्रपात के सहारे प्रवरा नदी यहां 170 फीट की ऊंचाई से गिरती है। थोड़ा रिफ्रेशिंग अनुभव के लिए आप यहां का प्लान बना सकते हैं।

माउंट कलसुबाई

माउंट कलसुबाई

PC- Rox-zee

माउंट कलसुबाई को सह्याद्री पहाड़ी श्रृंखला का सबसे ऊंची पर्वत चोटी माना जाता है। 1646 मीटर की ऊंचाई वाली से इस चोटी का इस्तेमाल मराठा साम्राज्य द्वारा दुश्मनों पर नजर रखने के लिए किया जाता था। यह पहाड़ी चोटी सबसे मशहूर ट्रेकिंग स्थलों में से एक है और आसपास के विभिन्न किलों के अद्भुत दृश्य पेश करती है।

यहां स्थित कलसुबाई मंदिर में मेले का आयोजन भी किया जाता है, जिसमें शामिल होने के लिए दूर-दराज के सैलानी आते हैं। अगर आप एडवेंचर का शौक रखते हैं तो यहां का एक बार अनुभव जरूर लें।

विल्सन बांध

विल्सन बांध

PC- Desktopwallpapers

आर्थर झील के साथ बनाया गया विल्सन बांध यहां के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में गिना जाता हैं। यह बांध समुद्र तल से 750 मीटर की ऊंचाई पर है और जो निकट स्थित अम्ब्रेला फॉल के लिए भी जाना जाता है।

विल्सन बांध महाद्वीप के सबसे पुराने बांधों में से एक है, इसलिए यहां पर्यटक ज्यादा आना पसंद करते हैं। यह बांध स्थल एक शानदार पिकनिट स्पॉर्ट भी है। आरामदायक अनुभव के लिए आप यहां का प्लान बना सकते हैं।

रतनगढ़ किला

रतनगढ़ किला

PC- Ccmarathe

उपरोक्त स्थानों के अलावा आप यहां प्रसिद्ध ऐतिहासिक संरचना रतनगढ़ फोर्ट की सैर का प्लान बना सकते हैं। इस मुगल विरासत से बहुत सारे ट्रेक गुजरते हैं। अतीत से जुड़े साक्ष्यों के अनुसार यह किला 20 शताब्दी पुराना है, और प्रवरा नदी की उत्पत्ति भी इस स्थल से हुई है।

यह किला कलसुबाई श्रृंखला के साथ-साथ आसपार से अद्भुत दृश्यों को देखने का मौक प्रदान करता है। ऐतिहासिक और प्राकृतिक तौर से से यह स्थल काफी ज्यादा मायने रखता है। भंदार्दारा भ्रमण के दौरान आप यहां का प्लान बना सकते है।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X