Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »झारखंड : पर्वतों का शहर है गिरीडीह, ये स्थल बनाते हैं इसे खास

झारखंड : पर्वतों का शहर है गिरीडीह, ये स्थल बनाते हैं इसे खास

भारत के झारखंड राज्य के गिरिडीह जिले के मुख्यालय के रूप में लोकप्रिय गिरीडीह शहर 1972 से पहले हजारीबाग जिले का हिस्सा हुआ करता था। स्थानीय भाषा के अनुसार गिरिडीह का शाब्दिक अर्थ होता है पहाड़ियों की भूमि। यह शहर राज्य के चुनिंदा सबसे खास पर्यटन गंतव्यों में भी गिना जाता, जो आकर्षक पहाड़ियों से घिरा हुआ है। गिरिडीह प्रतिष्ठित भारतीय सांख्यिकी संस्थान का केंद्र भी है।

यह शहर कोयले के क्षेत्र में भी काफी समृद्ध माना जाता है, शहर में और उसके आस-पास कई छोटी-बड़ी कोयले की खानें मौजूद हैं। इन सबसे अलग यहां कई शानदार पर्यटन स्थल भी मौजूद हैं जिनका प्लान गिरिडीह भ्रमण के दौरान बनाया जा सकता है। इस खास लेख में जानिए शहर के चुनिंदा सबसे लोकप्रिय स्थलों के बारे में।

उर्सी फॉल्स

उर्सी फॉल्स

PC- Kajari

उर्सी फॉल्स गिरीडीह स्थित एक लोकप्रिय पिकनिट स्पॉट के रूप में जाना जाता है। यह जलप्रपात पारसनाथ पहाड़ों के एक घने जंगल के बीच हैं जो स्वाभाविक रूप से शांतिपूर्ण माहौल प्रदान करने का काम करता है। इस जलप्रपात से तीन अलग-अलग धाराओं से पानी 39 फीट की ऊंचाई से गिरता है। स्थानीय पर्यटकों के साथ-साथ आसपास के शहरों से सैलानी यहां पिकनिट मनाने और वीकेंड पर आनंद का अनुभव करने के लिए आते हैं।

यहां बहने वाली नदी बराकर नदी की सहायक नदी है जो यहां पहाड़ों और जंगलों के माध्यम से होकर गुजरती है। एक शानदार अनुभव के लिए आप यहां की सैर का प्लान कर सकते हैं।

पारसनाथ हिल्स

पारसनाथ हिल्स

PC- CaptVijay

पारसनाथ हिल्स गिरिडीह और झारखंड के सबसे लोकप्रिय स्थलों में गिना जाता है। इस पहाड़ी श्रृंखला के अद्भुत नजारों और वातावरण के लिए यहां दूर-दूर से पर्यटक आते हैं। यहां की पहाड़ियों में से एक के ऊपर एक जैन मंदिर स्थित है जो जैन अनुयायियों और पर्यटकों के मध्य काफी लोकप्रिय है। यह मंदिर जैनों के सबसे पवित्र स्थलों मे से एक है। सालभर यहां श्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहता है।

धार्मिक पहलुओं के अलग यह पहाड़ी स्थल ट्रेकिंग जैसे एडवेंचर के लिए भी काफी ज्यादा प्रसिद्ध है। हरे-भरे परिदृश्य के साथ यहां का वातावरण एक यादगार यात्रा के लिए सबको आमंत्रण देता है।

इन गर्मियों लें तमिलनाडु के इस अभयारण्य की रोमांचक सैर का आनंद

स्टीवंसन मेमोरियल चर्च

स्टीवंसन मेमोरियल चर्च

प्राकृतिक स्थानों अलावा आप यहां के चुनिंदा खास प्राचीन धार्मिक स्थलों की सैर का भी प्लान बना सकते हैं। पचम्बा क्षेत्र में स्थित स्टीवंसन मेमोरियल चर्च एक प्राचीन ईसाई स्थल है जिसका निर्माण 1871 में एक विदेशी आर्चिबाल्ड टेम्पलेटन के करवाया था। उन्होंने जनजातीय क्षेत्रों की सेवा के लिए इस क्षेत्र का दौरा किया और एक अस्पताल की स्थापना भी की थी।

इस चर्च का नाम विलियम हैंडर्सन स्टीवंसन नामक एक डॉक्टर के नाम पर रखा गया था। पचम्बा एक प्राचीन स्थल है जहां सैलानी इस प्रसिद्ध चर्च को देखने के लिए ही ज्यादा आते हैं।

रानी सती मंदिर

रानी सती मंदिर

PC-Niru786

इन सब के अलावा आप रानी सती मंदिर के दर्शन का भी प्लान बना सकते है। हिन्दुओं की आस्था का केंद्र यह धार्मिक स्थल पारसनाथ हिल्स के मध्य उर्सी फॉल्स के निकट स्थित है। पारसनाथ हिल्स के शीर्ष पर जैन मंदिर जाने के लिए भक्त माता सती के दर्शन के लिए भी आते हैं।

श्रद्धालुओं के अलावा पारसनाथ भ्रमण को निकले पर्यटक भी यहां आते हैं। यहां वार्षिक स्तर पर धार्मिक-सांस्कृतिक उत्सवों का आयोजन भी किया जाता है। आत्मिक और मानसिक शांति के लिए आप यहां आ सकते हैं।

जैन संग्रहालय

जैन संग्रहालय

PC-Shubham Jain

उपरोक्त स्थानों के अलावा आप गिरिडीह के करीब मधुबन स्थित जैन संग्रहालय की सैर का प्लान बना सकते हैं। इस संग्रहालय में प्राचीन ग्रंथों, मूर्तियों और पांडुलिपियों का एक बड़ा संग्रह मौजूद है। संग्रहालय की बालकनी में एक दूरबीन लगी है, जहां से आप पारसनाथ हिल्स के अद्बभुत नजारों कोआनंद उठा सकते है। मधुबन एक बड़ा कस्बा है जो एक प्रसिद्ध मंदिर के लिए जाना जाता है।

स्थानीय लोगों के अनुसार यह मंदिर 200 साल पुराना है। यह स्थान जैन धर्म के अनुयायियों के लिए एक महत्वपूर्ण स्थान है, और संग्रहालय उनके लिए एक और बड़ा आकर्षण है। यहां रखी गईं विभिन्न ग्रंथों और पांडुलिपियों के माध्यम से बहुत ज्ञान प्राप्त किया जा सकता है।

अद्भुत : राउरकेला के इस स्थान पर वेदव्यास ने लिखी थी महाभारत

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X