Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »आंध्र प्रदेश : पुट्टपर्थी में घूमने लायक चुनिंदा खास पर्यटन स्थल

आंध्र प्रदेश : पुट्टपर्थी में घूमने लायक चुनिंदा खास पर्यटन स्थल

मानवजाति के उद्भव से ही यह विश्व निरंतर बदलाव की प्रक्रिया में है, समय की दौड़ के साथ इंसानों ने समाज और संस्कृति के गठन में अपनी भूमिका को महत्व दिया है। दुनिया के हर कोनों में निवास करने वाली यह मानवजाति अपनी विविध संस्कृति के लिए जानी जाती है, और हर संस्कृति अपने अंदर खास मान्यताओं और परंपराओं को जगह देती है। यह अपने आप में ही एक सुखद एहसास है जब आप किसी धार्मिक स्थल की सैर करते हैं।

आत्मिक और मानसिक शांति के लिए धार्मिक यात्राएं बहुत जरूरी हैं। और जब भी 'पुट्टपर्थी' की जिक्र आता है, मन मस्तिष्क में कुछ खास प्रज्वलित आध्यात्मिक तरंगे विचरणकरने लगती हैं। इस खास लेख में हमारे साथ जानिए आध्यात्मिक पर्यटन के लिए आंध्र प्रदेश का 'पुट्टपर्थी' नगर आपके लिए कितना खास है, जानिए यहां चुनिंदा स्थलों के बारे में।

साईं कुलवंत हॉल

साईं कुलवंत हॉल

'पुट्टपर्थी' आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले का एक छोट मगर खूबसूरत धार्मिक नगर है, जो संत सत्य साईं के जीवन के बहुत ही करीब से जुड़ा हुआ है। इस नगर के भ्रमण की शुरुआत आप यहां के साईं कुलवंत हॉल से कर सकते हैं। यह स्थल नगर के मुख्य आकर्षणों में गिना जाता है। यह दो मंजिला एक पवित्र स्थान है, जो धार्मिक सहिष्णुता को भली भांति प्रदर्शित करते है।

दूसरी मंजिल पर मौजूद बालकॉनी दरवाजे विश्व की अलग-अलग आस्थाओं के प्रतिकों को पेश करते हैं। ग्राउंड फ्लोर में प्राथना स्थल हैं, जहां ध्यान-साधना की जाती है।

चैतन्य ज्योति म्यूजियम

चैतन्य ज्योति म्यूजियम

PC- Guy Veloso

साईं कुलवंत हॉल के बाद आप यहां के प्रसिद्ध चैतन्य ज्योति म्यूजियम की सैर का आनंद ले सकते हैं। यह संग्रहालय सन् 2000 में खोला गया था। यह एक खास संग्रहालय है जिसमें सत्य साईं बाबा के जीवन से जुड़े संग्रह मौजूद हैं। यहं बाबा के बचपन से लेकर अंतिम समय तक की यादें संग्रहित हैं।

इस संग्रहालय की वास्तुकला देखने लायक है, जिसमें आप चीनी, थाई, जापानी और भारतीय शैली का अच्छा खासा प्रभाव देख सकते हैं। यहां बनाई गई चीनी छत देखने लायक है। एक शानदार अनुभव के लिए आप यहां आ सकते हैं।

स्पेस थियेटर

स्पेस थियेटर

पुट्टपर्थी का सत्य साईं स्पेस थियेटर भी एक खास पर्यटन स्थल है, जो सैलानियों को काफी ज्यादा प्रभावित करता है। इस स्पेस थियेटर को सन् 1985 में बनाकर तैयार किया गया था। इस थियेटर का बनाने का उद्देश्य खगोल विज्ञान, भौतिक-विज्ञान और गणित संबंधी जानकारियों को विस्तार करना है। यहां बिना किसी शुल्क के हर हफ्ते तारामंडल शो चलाया जाता है। यह शो नवीन तकनीक की मदद से चलाया जाता है, जिसके आने वाले पर्यटक आसानी से ब्रह्यांड संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकें।

गांव की मस्जिद

गांव की मस्जिद

इन सब के अलावा आप यहां गांव की मस्जिद देख सकते हैं, जिसका निर्माण 1978 में किया गया था। इस मस्जिद के निर्माण के पीछे एक दिलचस्प कहानी जुड़ी है। माना जाता है कि वर्तमान स्थल पर मस्जिद बनने से पहले यहां अजीबोगरीब घटनाएं घटती रहती थी, मगर मस्जिद निर्माण के बाद सब बंद हो गया। माना जाता है कि इस स्थल से एक प्लेट मिली थी जिसपर इस्लामिक धर्म संबंध पवित्र शब्द लिखे हुए थे। जिसके बाद यहं मस्जिद का निर्माण करवाया गया था।

चित्रावती नदी

चित्रावती नदी

उपरोक्त स्थलों के अलावा आप यहां की चित्रावती नदी की सैर का आनंद ले सकते हैं। यह एक पवित्र नदी है जिसे सत्य सांई बाबा के अनुयायी नई गंगा मानते हैं। माना जाता है कि इस नदी के जल से बाबा स्नान किया करते थे। और इस नदी के किनारे रहकर बाबा ने कई चमत्कार किए। एक शानदार अनुभव केलिए आप यहां आ सकते हैं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X