Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »हिमाचल के शोजा में है आपकी छुट्टियों को खास बनाने वाले सारे गुण

हिमाचल के शोजा में है आपकी छुट्टियों को खास बनाने वाले सारे गुण

शोजा एक बहुत ही सुंदर पर्यटन स्थल है जो हिमाचल प्रदेश के सेराज की घाटी में स्थित है। जलोरी पास से करीब पांच किमी की दूरी, शोजा समुद्र तल से लगभग 2368 मीटर की ऊचाई पर है। इस खूबसूरत जगह की चोटी पर जाकर हिमालय की बेहिसाब खूबसूरती को देखा जा सकता है। जिन्हें पहाड़ी इलाकों से प्रेम है उनके लिए यहां जाना काफी सफल हो सता है। देश भर के पर्यटकों से व्यस्त शोजा में इसके अलावा भी बहुत सी जगहें हैं देखने के लिए। आइये जानते हैं शोजा के पर्यटन स्थलों के बारे में।

जलोरी

जलोरी

PC: Manish57335

कुल्लू में शिमला से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, जालोरी पास शहरी जीवन की हलचल से दूर है। विशाल हिमालय का शांत वातावरण शरीर को सुकून देने और प्रकृति के सुंदर रूपों के लिए बेजोड़ अवसर प्रस्तुत करता है। बेहद खतरनाक, जालोरी एक उच्च पर्वतीय पास है, जो हिमाचल प्रदेश के करसोग घाटी में 10570 फीट (3223 मीटर) की ऊंचाई पर स्थित है। जिन्हें रोमांच पसंद है उनके लिए ये जगह एकदम आदर्श है।

सेरोल्सार झील

सेरोल्सार झील

सेरोल्सार एक छोटी झील है, जो जालोरी पास से सुंदर ओक और देवदार के जंगलों के माध्यम से 6 किमी की ट्रेक द्वारा पहुंचा जा सकता है। झील का पानी क्रिस्टल की तरह साफ है और झील के पास एक पुराना मंदिर भी है। मंदिर देवी बूढ़ी नागिन का है जो स्थानीय लोगों द्वारा बहुत पूजनीय है। जलोरी पास पर मंदिर के ठीक पीछे सरयोलसर झील का रास्ता शुरु होता है। गर्मियों के मौसम में, यात्रियों और पैदल यात्रियों की सेवा के लिए ठहरने के लिए कई ढाबे हैं। यह जालोरी जोत से 2-3 घंटे की दूरी पर है।

रघुपुर किला

रघुपुर किला

PC: Nathan Pratyksh Khanna

सेरोलसर झील के लिए एक योग्य पास रघुपुर किला है जो 360 डिग्री घाटी के दृश्य पेश करता है जो धौलाधार पर्वतमाला तक फैला है। रघुपुर किला, जिसे रघुपुर गढ़ के नाम से भी जाना जाता है, जालोरी पास से लगभग 3 किमी की दूरी पर है और ये एक खंडहर किला है जिसमें मुश्किल से कुछ दीवारें खड़ी हैं। रघुपुर किले की सैर एक सुंदर जंगल से होकर गुजरती है और पहाड़ों के शानदार दृश्य हैं। जैसे ही आप उन घास के मैदानों में पहुँचते हैं जहां किला स्थित है, वहां अविश्वसनीय दृश्य हैं जहां तक आपकी आंखें देख सकती हैं।

वाटरफॉल प्वाइंट

वाटरफॉल प्वाइंट

शोजा में वाटरफॉल प्वाइंट एक ऐसा स्थान है जिसे देखने से चूकना नहीं चाहिए। प्रकृति की गोद में स्थित, वाटरफॉल प्वाइंट बेहद सुंदर है। ये शोजा से लगभग सिर्फ 1 किमी की दूरी पर स्थित है और इसलिए लोग यहां सुबह की सैर के लिए आते हैं। फॉल का पानी ठंडा और मीठा बताया जाता है। जहां झरना हो वहां पर्यटक तो होंगे ही।

 त्रिथान वैली

त्रिथान वैली

PC: Ankitwadhwa10

इस दुनिया में कुछ जगहें हैं जो आपको सुकून और शांति का एहसास कराती हैं। ये जगहें आपको आधुनिक, तेज़-तर्रार दुनिया से एक ब्रेक देती हैं, जो आप में पहले जैसी चुस्ती और जौश को फिर से ज़िंदा करने और फिर से हासिल करने का मौका देती हैं। और इन्हीं जगहों में से एक अद्भुत जगह है त्रिथान घाटी है जो कुल्लू घाटी के दक्षिणी छोर पर स्थित है।शोजा जाने का सही समय

शोजा जाने का सही समय

यूं तो किसी भी हिल स्टेशन पर जाने के लिए, मौसम कोई भी हो हम हमेशा तैयार रहते हैं। लेकिन कुछ मौसमों में हिल स्टेशन घूमने का मज़ा ही अलग होता है, जैसे शोजा में घूमने के सबसे बेहतरीन गर्मियों और मानसून का, यानि अप्रेल से अक्टूबर तक का समय है।

कैसे पहुंचे शोजा

हवाई जहाज़ से: हवाई जहाज़ से शोजा जाने के लिए कोई सीधी फ्लाइट नहीं है इसलिए आपको यहां आने के लिए भुंतर हवाई अड्डे से टैक्सी करी होगी।

रोड से: अगर आप रोड के रास्ते आना चाहते हैं तो अपने शहर से हिमाचल के किसी भी शहर, जैसे कुल्लु, मनाली या शिमला तक की कोई बस करलें और इन शहरों से आप शोजा तक के लिए टैक्सी कर सकते हैं और लोकल बस द्वारा भी सफर कर सकते हैं।

रेल से: ट्रेन से शोजा पहुंचने कि लिए सबसे नज़दीकी रेलवे स्टेशन चंडिगढ़ है। इसके बाद आप यहां से हिमाचल जाने वाली बस में सफर कर सकते हैं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X