» »लॉन्ग वीकेंड अलर्ट...इस वीकेंड करें यहां की सैर

लॉन्ग वीकेंड अलर्ट...इस वीकेंड करें यहां की सैर

Written By: Goldi

रोह रोज ऑफिस..बॉस की चिक-चिक और दौड़ती भागती जिन्दगी में हम खुद को तो समय देना भूल ही जाते हैं। लेकिन जैसे ही लॉन्ग वीकेंड आता है तो दिल खुश हो जाता है।हम कई हफ्ते और दिन पहले ही दोस्तों के साथ वीकेंड्स की प्लानिंग करने लग जाते हैं। अगर आप सोच रहें हैं कब है लॉन्ग वीकेंड...

                       जयपुर की अनसुनी जगह..यहां जाना ना भूले

तो बता दें..आगामी शनिवार से सोमवार तक छुट्टियाँ है।अब तीन दिन की छुट्टी को घर में सोकर या फिर बैठकर बर्बाद तो नहीं करना चाहेंगे आप। इतना पढने के बाद आप सोच रहे होंगे कि, आखिर तीन दिन कि छुट्टी को कहां एन्जॉय  किया जाए..तो परेशान ना हो और क्लिक कर स्लाइड में जाने

कसोल

कसोल

कुल्लू से करीब 42 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कसोल पर्यटकों को हर सीजन में अपनी ओर आकर्षित करती है।यह पर्यटकों की कम भीड़ भाड़ के चलते छुट्टियों को अच्छे से एन्जॉय किया जा सकता है।
PC:Alok Kumar
कसोल में क्या क्या घूमे

कोटा के सेवेन वंडर्स

कोटा के सेवेन वंडर्स

भले ही दुनिया के सात अजूबे दुनिया के अलग अलग हिस्सों में हो लेकिन आप इन सैट अजूबो को एक साथ कोटा के सेवेन वंडर पार्क में देख सकते हैं। सेवेन वंडर्स इन कोटा
PC: wikimedia.org

अमृतसर

अमृतसर

अमृतसर को अम्बरसर के नाम से भी जाता है। भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित पंजाब का यह शहर स्वर्ण मंदिर गुरुद्वारा श्री हरमंदिर साहिब जी के लिए पूरी दुनियां में सुविख्यात है। यह सिख धर्म का प्रमुख धार्मिक स्थान है। साथ ही साथ यहाँ का खाना भी बहुत मशहूर है। अमृतसर जलियांवाला बाग के लिए भी लोगो के बीच खासा प्रसिद्ध है..बता दें , यह वही बाग़ है जिसमे स्वतंत्रता संग्राम का सबसे बड़ा नरसंहार हुआ था।साथ ही आप यहां वाघा बॉर्डर भी देख सकते हैं। जिसे देखने के बाद आप बार बार अमृतसर आना पसंद करेंगे। कैसे पहुंचे अमृतसर
PC: Asajaysharma13

पंचममढ़ी

पंचममढ़ी

पंचमढ़ी टूरिस्ट के बीच खासा पॉपुलर टूरिस्ट डेस्टिनेशन है...यह जगह चरों और से खूबसूरत वादियों से घिरी हुई है। यह जगह थोड़ी सी खतरनाक और भयावह भी लेकिन वाबजूद यह जगह सैलानियों की पहली पसंद है।
PC: Yashjaiswal12
कैसे पहुंचे पंचमढ़ी

चटपाल

चटपाल

चटपाल कश्मीर मिनी पहलगाम के नाम से भी जाना जाता है, इसकी मनमोहक खूबसूरती आपका मन मोह लेगी। यह जगह पर्यटकों के बीच खास लोकप्रिय नहीं है जिस कारण आप यहां शांति और सुकून भरे पलों को आसानी से बिता सकते हैं।

कुल्लू-मनाली

कुल्लू-मनाली

उत्तर भारत में गर्मियों का दौर शुरू हो चुका है..ऐसे में कुल्लू मनाली घूमना सबसे बेस्ट होगा..साथ ही अभी वहां आपको पर्यटकों की भीड़भाड़ भी कम मिलेगी..जिसके चलते आप हिमाचल की खूबसूरत वादियों में अपनों के साथ एक अच्छा टाइम स्पेंड कर सकते हैं। साथ ही एडवेंचर स्पोर्ट्स और ट्रेकिंग भी आजमा सकते है।
PC:Gayatri Priyadarshini
कैसे पहुंचे मनाली

मथुरा

मथुरा

कृष्ण जन्म भूमि यानी मथुरा उत्तर प्रदेश का प्रमुख तीर्थ स्थल है..कान्हा नगरी में पर्यटकों के देखने के लिए काफी कुछ है ..यहां के मन्दिरों की वास्तु कला देख आप खुद हैरत में पड़ जायेंगें।यहां आने वाले पर्यटक कृष्ण जन्मभूमि, बरसाने, वृन्दावन,गोवर्धन आदि घूम सकते हैं।PC: Ritukejai
कैसे पहुंचे मथुरा

पुदुच्चेरी

पुदुच्चेरी

तमिलनाडू (चेन्नई) के दक्षिण में 160 किलोमीटर दूर ये जगह (पांडिचेरी) फ्रांस का चोला ओढ़े है। आपको यहां अधिकतर लोग बड़ी आसानी से फ्रेंच में बात करते मिल जाएंगे।और तो और सड़क पर लगे साइन बोर्ड में तमिल,अंग्रेजी के साथ-साथ फ्रेंच भी चमकती दिखेगी। पांडिचेरी के रेस्ट्रों में आपको बिना किसी दिक्कत के फ्रेंच फूड खाने को मिल जाएगा।
PC: Darshika28
कैसे पहुंचे
पुदुच्चेरी

मुन्नार

मुन्नार

मुन्नार महिलायों के घूमने के लिए सुरक्षित स्थान है.. मुन्नार की खूबसूरती को देखकर ऐसा लगता है, जैसे कि यह धरती का स्वर्ग है। मुन्नार की सुन्दरता इतनी अधिक है कि इसे ईश्वर का देश भी कहा जाता है। आपको यहा आने के बाद जाने का बिलकुल ही मन नहीं करेगा।
PC: wikimedia.org
कैसे पहुंचे मुन्नार

हम्पी

हम्पी

कर्नाटक के उत्तरी भाग में स्थित हम्पी बेंगलुरु से केवल 350 किलोमीटर दूर है, और सड़क मार्ग द्वारा बेंगलुरु से हम्पी तक केवल कुछ घंटों में पहुंचा जा सकता है। यह यूनेस्को का विश्व विरासत स्थल है जो हर साल लाखों पर्यटकों को आकर्षित करता है।PC: Jojdas
कैसे पहुंचे हम्पी

 औली

औली

औली को भारत का छोटा स्विट्जर्लेंड भी कहते हैं। यहां आप दूर दूर तक फैली हुई प्राकृतिक सौन्दर्यता को देख सकते हैं।बर्फ से ढकी चोटियों और ढलानों को देखकर मन प्रसन्न हो जाता है। यहां पर कपास जैसी मुलायम बर्फ पड़ती है, जिसमे आप स्किंग आदि का लुत्फ उठा सकते हैं। नंदा देवी के पीछे सूर्योदय देखना एक बहुत ही सुखद अनुभव है। नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान यहां से 41 किमी. दूर है। इसके अलावा बर्फ गिरना और रात में खुले आकाश को देखना मन को प्रसन्न कर देता है। शहर की भागती-दौड़ती जिंदगी से दूर औली एक बहुत ही बेहतरीन पर्यटक स्थल है। कैसे पहुंचे औली

पिथौरागढ़

पिथौरागढ़

उत्तराखंड का छोटा कश्मीर के नाम से प्रसिद्ध पिथौरागढ़ में आपको हर वह चीज मिलेगी जो कश्मीर में मिल सकती है। पिथौरागढ़ के आस पास बहुत सी झीलें, हरी-भरी पहाड़ियाँ और ऊँचे-नीचे घुमावदार रास्ते मन को एक नजर में ही भा जाते हैं। ठंडी हवाओं के झोंके दिल्ली, लखनऊ, भोपाल की गर्मी को भुला देते हैं।PC: Vipin Vasudeva
कैसे पहुंचे पिथौरागढ़

मसूरी

मसूरी

मसूरी देहरादून से 34 किमी. दूर स्थित है। यह गढ़वाल की पहाड़ी पर समुद्र तल से 2003 मी. ऊंचाई पर है। मसूरी देश के सबसे आकर्षक हिल स्टेशनों में से एक है। हिंदुओं के प्रमुख तीर्थस्थल, जैसेः केदारनाथ, गंगोत्री, बद्रीनाथ, हरिद्वार, यमुनोत्री और ऋषिकेश यहां से ज्यादा दूर नहीं हैं।
PC:Paul Hamilton

कौसानी

कौसानी

भारत का खूबसूरत पर्वतीय पर्यटक स्‍थल है।हिमालय की खूबसूरती के दर्शन कराता कौसानी पिंगनाथ चोटी पर बसा है।यहां से बर्फ से ढके नंदा देवी पर्वत की चोटी का नजारा बडा भव्‍य दिखाई देता है।कोसी और गोमती नदियों के बीच बसा कौसानी भारत का स्विट्जरलैंड कहलाता है।PC:Sujayadhar
कैसे पहुंचे कसौनी

कुम्भलगढ़

कुम्भलगढ़

कुम्भलगढ़, राजस्थान के राजसमन्द जिले में स्थित एक एतिहासिक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल है। बता दें,भारत में दुनिया की दूसरी सबसे ऊँची दीवार मौजूद है। इस दुर्ग के अंदर दुर्ग के अंदर 360 से ज्यादा मंदिर हैं जिनमे से 300 प्राचीन जैन मंदिर तथा बाकि हिन्दू मंदिर हैं। PC:Eklavya Yadav
भारत की ग्रेट वाल ऑफ़ इंडिया

ग्वालधाम

ग्वालधाम

ग्वालधाम उत्तराखंड की वादियों में छुपा हुआ एक छोटा सा हिल स्टेशन है जोकि समुद्री ऊंचाई से 1829 फीट पर स्थित है। यह छोटा सा शहर चारो ओर से बागों से घिरा हुआ है।

चंबा

चंबा

बा एक खुबसूरत पर्यटन स्थल है जो की उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले में स्थित है जिसकी उचाई समुद्री तट से लगभग 1524 मीटर की है। यह जगह अपने प्राकृतिक परिवेश और प्रदूषण रहित खूबसूरती क लिए पर्यटकों के बीच लोकप्रिय है। देवदार और चीड़ के पेड़ों से घिरा हुआ, चंबा का अन्नवेषित इलाका प्रकृति प्रेमियों के लिए एक सपनों की दुनिया के सामान है।कैसे पहुंचे चम्बा
PC: wikimedia.org

अबोट माउंट

अबोट माउंट

अबोट माउंट उत्तराखंड के चंपावत जिले में समुद्री स्तर से 6400 की ऊंचाई पर स्थित है। शहर की भीड़भाड़ से दूर यह यह जगह यहां आने वाले पर्यटकों को असीम शांति का एहसास कराती है। इतना ही नहीं यहां से बर्फ से ढके हुए पहाड़ भी बेहद मनोरम नजर आते हैं।
PC:Detroit Photographic

गोवा

गोवा

गोवा में छुट्टियाँ मनाने का मजा ही अलग है..बीच पार्टी मस्ती। आप तीन दिन में गोवा में बखूबी मस्ती कर सकते हैं।PC: wikimedia.org

धर्मशाला-मैक्लोडगंज

धर्मशाला-मैक्लोडगंज

हिमाचल प्रदेश में बसा छोटा सा हिल स्टेशन धर्मशाला-मैक्लोडगंज। यहां घूमने के लिए सिर्फ पहाड़ ही नहीं बल्कि कई छोटे छोटे मंदिर भी है। यह जगह उन लोगो के लिए और भी परफेक्ट है जिन्हें ट्रेकिंग करना बेहद पसंद है।PC:Derek Blackadder
कैसे पहुंचे धर्मशाला

धनौलटी

धनौलटी

दिल्ली के पास ही धनौलटी की यात्रा आपकी सारी चिंताओं और थकावट को दूर कर सुकून भरे पल और यादों का अनुभव कराएगा। यहाँ आकर आप अपने हॉर्स राइडिंग, ट्रेकिंग और हाइकिंग जैसे शौक को भी पूरा कर सकते हैं।PC: Royalvarun266

Please Wait while comments are loading...