• Follow NativePlanet
Share
» »भोपाल में कुछ इस तरह बनाएं समर वेकेशन को खास

भोपाल में कुछ इस तरह बनाएं समर वेकेशन को खास

भारत के ह्रदय राज्य मध्य प्रदेश के सबसे बड़े और खूबसूरत शहरों में भोपाल की गिनती होती है। जो अपनी नायाब भाषा शैली(भोपाली) के लिए पूरे देश भर में प्रसिद्ध है। खान-पान से लेकर लोक संस्कृति के मामले में यह शहर समृद्ध माना जाता है। ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के साथ यह खूबसूरत शहर भारत आए सैलानियों के मुख्य गंतव्यों में हमेशा शामिल रहता है।

आजादी से पहले भोपाल एक बड़ी मुस्लिम रियासत (हैदराबाद के बाद) हुआ करती थी। इतिहासकारों की मानें तो भोपाल को बसाने काम परमार राजा भोज ने किया था। भोपाल के नवाब महिला शासक सुल्ताना जहां के पुत्र हमीदुल्ला खान थे, जिन्होंने भोपाल रियासत के भारत में विलीनीकरण तक यहां राज किया।

यह था भोपाल का संक्षिप्त विवरण आगे हमारे साथ जानिए इन गर्मियों के दौरान आप भोपाल की कौन सी चुनिंदा आरामदायक जगहों का भ्रमण कर सकते हैं।

ऐतिहासिक भोजताल झील

ऐतिहासिक भोजताल झील

PC- Sanyam Bahga

शहर की व्यस्त जिंदगी और चिलचिलाती गर्मी के बीच भोजताल एक ठंडक भरा स्थान है। माना जाता है कि इस झील का इतिहास शहर के संस्थापक राजा भोज से है। स्थानीय किंवदंतियों के अनुसार एक बार राजा भोज त्वचा की गंभीर बीमारी से पीड़ित हुए, वैद्य-हकीमों को दिखाने के बावजूद भी कोई असर न पड़ा। जिसके बाद किसी साधु ने उन्हें 365 सहायक नदियों के जल से एक कुंड का निर्माण करने को कहा।

पास की छोटी झील

पास की छोटी झील

PC- Ajay DAs

माना जाता है उस कुंड में स्नान के बाद राजा भोज की त्वता की बीमारी पूरी तरह ठीक हो गई। वही कुंड आज भोजताल के नाम से जाना जाता है। इस ताल के पास एक छोटी झील भी है जिसे 'लोअर लेक' के नाम से जाना जाता है। इन गर्मियों के दौरान आप भोपाल की सबसे खूबसूरत भोजताल झील और लोअर झील का भ्रमण कर सकते हैं। परिवार व दोस्तों से साथ घूमने का यह सबसे आदर्श विकल्प है।

वन विहार नेशनल पार्क

वन विहार नेशनल पार्क

PC- Arpitargal1996

लगभग 445 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला'वन विहार नेशनल पार्क' भारत के सबसे लोकप्रिय राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है, जिसकी स्थापना सन् 1979 में की गई थी। भोपाल घूमने के लिए यह स्थान बेहद खास माना जाता है। यह राष्ट्रीय उद्यान भोजताल के पास ही स्थित। वर्ष के हर माह यहां प्रकृति प्रेमियों, वन्यजीव उत्साही और नचर फोटोग्राफरों का भारी जमावड़ा लगता है।

यह एक बेहद ही खास उद्यान यहां जहां आप चिड़ियाघर और वन्यजीव अभयारण्य का आनंद ले सकते हैं। यह उद्यान बाघ, तेंदुए, पैंथर, शेर, भालू और घड़ियाल आदि जंगली जानवरों के लिए संरक्षित किया क्षेत्र है। जंगली जीवों के अलावा आप यहां विभिन्न पक्षी प्रजातियों को भी देख सकते हैं।

एकांत पार्क, गुरु गोविंद सिंह पार्क

एकांत पार्क, गुरु गोविंद सिंह पार्क

भोपाल शहर का एक अज्ञात स्थान एकांत पार्क है, जिसे गुरु गोबिंद सिंह पार्क के नाम से भी जाना जाता है। यह पार्क शहर के मध्य में स्थित है, जो आंशिक प्राकृतिक वन और आंशिक रूप से स्वदेशी और सजावटी पौधों के खूबसूरत बागान के रूप में शहर शहर के भीतर उल्लेखनीय जैव विविधता को पदर्शित करता है।

चिलचिलाती गर्मी के बीच यह हरा-भरा पार्क एक शानदार स्थान है। आप यहां परिवार और दोस्तों के साथ एक अच्छा समय बिता सकते हैं।मानसिक-शारीरिक थकान उतारनी है तो पहुंचे इन स्थानों पर


कैसे करें प्रवेश

कैसे करें प्रवेश

PC- carol mitchell

भोपाल मध्य प्रदेश का एक प्रसिद्ध राजधानी शहर है, यहां आप तीनों मार्गों सें पहुंच सकते हैं। यहां का नजदीकी हवाईअड्डा राजा भोज एयरपोर्ट (भोपाल)/इंदौर एयरपोर्ट है।

रेल मार्ग के लिए आप भोपाल रेलवे स्टेशन का सहारा ले सकते हैं, जो भारत के बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़ा है।

आप चाहें तो यहां सड़क मार्गों से भी पहुंच सकते हैं, राज्य के बड़े शहरों से भोपाल आसानी से पहुंचा जा सकता है।

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स