Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »केरल के इन स्थानों पर लें ट्रेकिंग का रोमांच भरा अनुभव

केरल के इन स्थानों पर लें ट्रेकिंग का रोमांच भरा अनुभव

पश्चिमी घाट पर्वत श्रृंखला और अरब सागर के परिदृश्य के साथ स्थित दक्षिण भारत का केरल राज्य दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थलों में गिना जाता है, जहां की बैक वाटर, हरियाली, समुद्री आबोहवा और पहाड़ी खूबसूरती का आनंद लेने के लिए सालभर सैलानियों का आगमन लगा रहता है। केरल खूबसूरत वर्षावन, चाय-कॉफी के बागानों, प्राचीन जनजातीय बस्तियों और वन्य जीवा का एक घर है।

प्राकृतिक शौदर्यता के साथ-साथ यहां एडवेंचर के भी बहु अवसर मौजूद हैं। दिन-प्रतिदिन यह राज्य विश्व भर से आने वाले साहसिक एडवेंचर के शौकीनों का पसंदीदा स्थल बनते जा रहा है। खासकर केरल के पहाड़ी क्षेत्र ट्रेकिंग के लिए आदर्श विकल्प माने जाते हैं। इस लेख के माध्यम से जानिए आप यहां कौन-कौस से स्थानों की सैर कर इस रोमांच भरे एडवेंचर का अनुभव ले सकते हैं।

अगस्तमाला चोटी

अगस्तमाला चोटी

PC- Dr.Harikrishna Sharma

केरल में ट्रेकिंग का रोमांच भरा अनुभव लेने के लिए आप 1868 मीटर की ऊंचाई पर स्थित अगस्तमाला चोटी की सैर चुनाव कर सकते हैं। यह राज्य की दूसरी सबसे ऊंची चोटी है, जहां पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है। पौराणिक किवंदती के अनुसार यह पहाड़ी महान संत अगस्त मुनि का निवास स्थान थी। वर्तमान में पहाड़ी स्थल ट्रेकिंग के लिए काफी खास माना जाता है।

अगस्तमाला के लिए यात्रा प्राचीन पहाड़ियों के माध्यम से शुरु होती है। यह पहाड़ी औषधीय पौधों का भी एक बड़ा भंडार मानी जाती है। ट्रेकिंग के दौरान आप यहां की प्राकृतिक खूबसूरती का जी भरकर आनंद उठा सकते हैं।

चेम्बरा पीक

चेम्बरा पीक

PC- P maneesha

अगस्तमाला चोटी के अलावा आप केरल के चेम्बरा चोटी का चुनावा ट्रेकिंग के लिए कर सकते हैं। चेम्बरा चोटी न सिर्फ खूबसूरत मानी जाती है बल्कि यहां का पहाड़ी आकर्षण ट्रेकर्स को काफी ज्यादा रोमांचित करने का काम करता है। चेम्बरा पीक के ट्रेकिंग ट्रेल्स चाय बागानों, धुंधले बादलों और सुन्दर जंगलों से होकर गुजरते हैं।

यह चोटी समुद्र तल से 2100 मीटर की ऊंचाई तक बढ़ती है। चेम्बरा पीक का ट्रेक 14 कि.मी का है और इसे पूरा करने में 4-5 घंटों का समय लगता है। यह चोटी एक आकर्षक स्थल है, जहां आप कुदरती खूबसूरती का जी भरकर आनंद ले सकते हैं।

 राजामलाई

राजामलाई

PC- Harikrishnan S

केरल के ट्रेकिंग गंतव्यों की श्रृंखला में आप राजामलाई हिल स्टेशन का चुनाव कर सकते है। यह एक पहाड़ी गंतव्य है जो यहां एराविकुलम नेशनल पार्क के अंदर स्थित है। राजामलाई की यात्रा प्रकृति प्रेमियों के साथ साथ ट्रेकिंग लवर्स के लिए खास मानी जाती है। ट्रेकिंग के दौरान आप एराविकुलम नेशनल पार्क की जंगल सफारी का भी आनंद ले सकते हैं। यह राष्ट्रीय उद्यान दक्षिण भारत के प्रसिद्ध पर्यटन केंद्रों में गिना जाता है, जहां आप विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवों को देख सकते हैं।

जंगली जीवों में आप यहां दुर्लभ नीलगिरी तहर, तेंदुआ, विशालकाय गिलहरी, गौर, हाथी आदि को देख सकते हैं। राजमलाई की ट्रेकिंग आपके लिए काफी रोमांचक रहेगी।

धोनी हिल्स

धोनी हिल्स

PC- Jaseem Hamza

केरल में रोमांचक ट्रेकिंग का अनुभव लेने के लिए आप यहां की धोनी हिल्स की सैर का प्लान बना सकते हैं। प्राकृति संपदा से संपन्न यह पहाड़ी प्रकृति प्रेमियों के साथ-साथ एडवेंचर के शौकीनों के लिए काफी ज्यादा मायने रखती है।

खासकर यह हिल्स ट्रेकर्स के लिए काफी आदर्श मानी जाती है। हरे भरे माहौल, घने जंगल और पश्चिमी घाट की पहाड़ियों के बीच ट्रेकिंग का अपना अलग मजा है। यहां ट्रेकिंग के दौरान आपको कई वन्यजीवों को देखने का मौका भी मिलेगा।

साइलेंट वैली नेशनल पार्क

साइलेंट वैली नेशनल पार्क

PC- Divinwrct

ट्रेकिंग के लिए उपरोक्त स्थलों के अलावा आप यहां के साइलेंट वैली नेशनल पार्क का चुनाव भी कर सकते हैं। 8 वर्ग कि.मी की क्षेत्र में फैला यह राष्ट्रीय उद्यान नीलगिरी बायोस्फीयर रिजर्व के अंतर्गत आता है। इस नेशनल पार्क को 1985 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था। यह एक खास स्थल इसलिए आपको यहां ट्रेकिंग के लिए वन विभाग से अनुमति लेनी होगी।

अनुमति लेने के बाद आप यहां का प्राकृतिक खूबसूरती का आनंद जी भरकर उठा सकते हैं। आप यहां ट्रेकिंग के साथ यहां के वन्यजीवन को भी करीब से देख सकते हैं। ये थे केरल राज्य में मौजूद कुछ खास ट्रेकिंग डेस्टिनेशन, जहां आप इस एडवेंचर का रोमांच भरा अनुभव जी भर कर उठा सकते हैं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X