• Follow NativePlanet
Share
» »भारत में इन जगहों पर ले सकते हैं आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट का मज़ा

भारत में इन जगहों पर ले सकते हैं आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट का मज़ा

Posted By: Namrata Shatsri

सदियों से आयुर्वेद का औषधि के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान रहा है। वैदिक काल के दौरान इसकी स्थापना के बाद से, यह अपनी आवश्यकता और प्रगति के संदर्भ में तेजी से प्रगति कर रहा है।

आज की भागती हुई जिंदगी में इंसान कई तरह की बीमरियों से घिर गया है और प्राकृतिक तरीके से इन बीमारियों का ईलाज है आयुर्वेद। प्राचीन समय से ही भारत में कई रोगों के ईलाज के लिए आयुर्वेद का प्रयोग किया जाता रहा है। आज अन्‍य किसी औषधि से ज्‍यादा लेगा आयुर्वेदिक दवाओं को प्राथमिकता देते हैं। हर कोई आज भागती-दौड़ती जीवनशैली में तनाव से ग्रस्‍त है और ऐसे में सभी के मन में किसी ऐसी जगह जाने का विचार आता है जहां उनके मन को शांति और सुकुन मिल सके।

भारत की धार्मिक राजधानी की पवित्र यात्रा!

अगर आप किसी ऐसी जगह जाना चाहते हैं जहां आप घूमने के साथ-साथ आंतरिक रूप से भी शुद्ध हो सकें तो इस लेख आपको अपने काम की चीज़ मिल सकती है। आज हम आपको भारत की 3 शीर्ष आयुर्वेदिक जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं।

केरल

केरल

केरल को स्‍वय ईश्‍वर की धरती कहा जाता है। प्राकृतिक सौंदर्य से सराबोर केरल अपनी आंतरिक शक्‍ति को जागृत करने और प्राकृतिक ईलाज द्वारा खुद को रोगहीन बनाने के लिए बेहतरीन जगह है। शांतिमय स्‍थान के अलावा केरल प्रकृति से भरा है। यहां आपको अपने पसंद की हर चीज़ मिल जाएगी।

केरल में कई स्‍पा और आयुर्वेदिक रिजॉर्ट हैं। भारत का ये खूबसूरत राज्‍य संतोष और स्थिरता का प्रतीक है। यहां पर कई आयुर्वेदिक केंद्र हैं जिनमें से कई पर्वत की चोटी पर स्थित हैं। यहां पर आयुर्वेदिक ईलाज का आनंद और लाभ दोगुना हो जाता है। इस जगह पर आप योग, ध्‍यान और प्राकृतिक आयुर्वेदिक थेरेपी ले सकते हैं।

केरल के कुछ प्रसिद्ध आयुर्वेदिक केंद्रों में से एक है अथरेया आयुर्वेदिक सेंटर, सोमाथीरम आयुर्वेदा रिजॉर्ट, केराली आयुर्वेदिक हैल्‍थ विलेज आदि।

Pc:Kashyap13

उत्तराखंड

उत्तराखंड

आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट के लिए अन्‍य लोकप्रिय जगहों में उत्तराखंड का नाम भी आता है। इस राज्‍य में पवित्र नदियां बहती हैं और यहां पर कई तीर्थस्‍थल भी स्‍थापित हैं। आध्‍यात्मिक शांति के लिए उत्तराखंड से बेहतर और कोई जगह नहीं है।

खूबसूरत जगहों और धार्मिक स्‍थलों के अलावा ये पहाड़ी इलाका कई आयुर्वेदिक और मेडिटेशन केंद्रों के लिए भी प्रसिद्ध है। हर साल यहां लाखों की संख्‍या में पर्यटक उत्तराखंड के प्राकृतिक सौंदर्य को देखने के लिए आते हैं।

उत्तराखंड में स्थित आयुर्वेदिक केंद्रों में मेडिकल थेरेपी और योग के अलावा एक्‍सरसाइज़ और मेडिटेशन द्वारा कई रोग ठीक किए जाते हैं। अगर आप मेडिटेशन या किसी थेरेपी द्वारा मानसिक और शारीरिक संतुलन पाना चाहते हैं तोआप यहां आ सकते हैं।

उत्तराखंड के प्रमुख आयुर्वेदिक केंद्र आनंदास, हेमाद्रि आयुर्वेद केंद्र, पंचकर्मा सेंटर आदि हैं।

PC - Tanuj Namboodri

गोवा

गोवा

भारत में पार्टियों और मौज-मस्‍ती के लिए सबसे पहले गोवा का नाम आता है। भारत के पर्यटन स्‍थलों में गोवा बहुत मशहूर है। यहां आप समुद्रतट पर कई घंटों तक पानी की लहरों को देखते हुए बिता सकते हैं। खूबसूरत नज़ारों से सराबोर इस शहर में रातभर पार्टियां चलती हैं। दिन और रात, दोनों समय यहां पर मौज-मस्‍ती का माहौल रहता है।

अगर आप भीड़भाड़ और शहर की भागदौड़ भरी जिंदगी से दूर कहीं घूमना चाहते हैं तो आप गोवा स्थित मेडिटेशन सेंटर और स्‍पा की ओर रुख का सकते हैं, जहां आपके मन को सुकुन और शांति मिलेगी। गोवा में कई मेडिटेशन और आयुर्वेद सेंटर्स हैं जो आपको शांति और सुकुन पाने में मदद करेंगें।

इस तटीय शहर में ठंडी हवाओं के बीच मन को एक अलग ही खुशी का अनुभव होता है। पार्टी डेस्टिनेशन होने के बावजूद गोवा में हर जगह शांति बिखरी हुई है। गोवा के प्रमुख मेडिटेशन सेंटर में देवाया आयुर्वेद और नेचर क्‍योर सेंटर, आयुरक्‍लीनिक गोवा, भारगव नैचुरल हीलिंग सेंटर आदि हैं।

तो ये थीं भारत की प्रमुख आयुर्वेदिक जगहें। इन जगहों पर आप घूमने के साथ-साथ आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट का आनंद भी ले सकते हैं।

Pc:AndreaJillMiller

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स