Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »जोधपुर भ्रमण के दौरान इन जायकेदार व्यंजनों का लुत्फ उठाना न भूलें

जोधपुर भ्रमण के दौरान इन जायकेदार व्यंजनों का लुत्फ उठाना न भूलें

राजस्थान का दूसरा सबसे बड़ा शहर जोधपुर भारत के चुनिंदा सबसे खास पर्यटन स्थलों में गिना जाता है, जहां वर्षभर पर्यटकों का आगमन लगा रहता है। राज्य की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत को अपने अंदर समेटे हुए यह शहर पर्यटन आकर्षणों का घर माना जाता है। मुख्यत: जोधपुर अपने महलों, किलों और शानदार वास्तुकला से युक्त प्राचीन मंदिरों के लिए विख्यात है।

देशी पर्यटकों के साथ-साथ यहां विश्व भर के इतिहास प्रेमियों का आगमन होता है। भौगोलिक खासियत की वजह से इस शहर को 'सूर्य नगरी' भी कहा जाता है। इसके अलावा नीले रंग के हजारों मकानों की वजह से इसका एक नाम 'नीली नगरी' भी है।

वैसे अधिकांश पर्यटक यहां आकर अतीत से जुड़ी संरचनाओं को देखनी ही पसंद करते हैं, लेकिन इससे इतर इस शहर की एक बड़ी खासियत यहां की संस्कृति में जुड़े परंपरागत व्यंजन भी हैं। इस लेख में हमारे साथ जानिए जोधपुर भ्रमण के दौरान आप कौन-कौन से स्वादिष्ट खानों का लुफ्त उठा सकते हैं।

जायकेदार लाल मांस

जायकेदार लाल मांस

PC- Hamzaghanchi

आपने नॉन वेज फूड्स तो बहुत खाएं होंगे, लेकिन जोधपुर में बनने वाला राजस्थानी लाल मांस का जायका शायद ही चखा हो। इस स्पेशल डिश की खासियत इस बात से पता लगाई जा सकती है कि बिना इसके जोधपुर के व्यंजनों की बात ही नहीं की जा सकती।

दरअसल लाल मांस एक खास प्रकार की मटन करी है, जिसे चुनिंदा राजस्थानी मसालों के साथ पारंपरिक तरीके से बनाया जाता है। आप यह खास मटन करी शहर के किसी भी नॉन वेज भोजनालयों में जाकर ट्राई कर सकते हैं।

मिर्ची का बड़ा

मिर्ची का बड़ा

PC- JVRKPRASAD

अगर आप तीखे खानों के शौकीन हैं तो आपको जोधपुर आकर यहां का खास मिर्ची बड़ा जरूर ट्राई करना चाहिए। ध्यान रहे यह खास बड़ा उन्हीं लोगों के लिए है जो मिर्ची की तीखापन बर्दाश्त कर सकते हैं। क्योकि इसे बनाने में पूरी मिर्च का इस्तेमाल किया जाता है। एक बड़ी मिर्च जो साधारण मिर्ची से कम तीखी होती है, उसे बेसन में मिलाकर तेल में डीप फ्राई किया जा सकता है।

बाहर से यह पूरा एक पकौड़े की तरह दिखता है, लेकिन इसके अंदर मिर्च रहती है। इस खास मिर्च बड़े को आप पुदीने की चटनी या टमाटर की चटनी के साथ खा सकते हैं। शाम के नाश्ते के लिए यह डिश सबसे उपयुक्त मानी जाती है।

प्याज की कचौरियां

प्याज की कचौरियां

PC- Biswarup Ganguly

आपने कचौरियां तो बहुत ही खाई होंगी, लेकिन जोधपुर में बनने वाली खास प्रकार की प्याज की कचौरी का जायका आपका दिल खुश कर देगा। यह खास प्रकार की कचौरी आपको शहर की किसी भी फूड स्ट्रीट में मिल जाएगी।

इस कचौरी को बनाने के लिए प्याज और कुछ चुनिंदा मसालों की फिलिंग की जाती है। जिसे आप टमाटर या पुदीने की चटनी के साथ खा सकते हैं। यह डिश आप सुबह के नाश्ते या शाम को खास सकते हैं। मात्र 2 कचौरी आपको भूख को शांत करने के लिए काफी है।

 मक्खनी लस्सी

मक्खनी लस्सी

जोधपुर की फूड स्ट्रीट में आप राजस्थानी मक्खनिया लस्सी को भी ट्राई कर सकते हैं। मीठे के शौकीनों के लिए यह पेय बहुत ही खास है। यह मक्खन से भरी लस्सी है जो दही, इलायची और केसर के साथ मिलाकर बनाई जाती है।

इस पेय को आप हल्के खाने के साथ ले सकते हैं। यह पेय आपकी प्यास और भूख दोनों को मिटाने की क्षमता रखता है। ये थे जोधुपर की गलियों में मिलने वाले कुछ खास पकवान और व्यंजन, जिसे आप शहर भ्रमण के दौरान ट्राई कर सकते हैं।

 मीठी कचौरी

मीठी कचौरी

दाल और प्याज की कचौरी के अलावा आप जोधपुर में मीठी कचौरी भी ट्राई कर सकते हैं। इस खास कचौरी को जलेबी की तरह चाशनी में डूबोकर परोशा जाता है। इस स्वीट डिश आपको जोधपुर की किसी मिठाई की दुकान में मिल जाएगी। या फिर इसे आप अपने घर में भी बना सकते हैं। यह राजस्थान की खास डिश है, जिसकी रेसिपी आपको इंटरनेट पर आसानी से मिल जाएगी। काफी कम किमतों पर आप इस स्वीट डिश को शहर की गलियों में जाकर ट्राई कर सकते हैं।

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X