• Follow NativePlanet
Share
» »जम्मू के इस झरने का दीवाना था बादशाह जहांगीर

जम्मू के इस झरने का दीवाना था बादशाह जहांगीर

Written By:

जम्मू कश्मीर अपनी अंतत खूबसूरती के चलते पर्यटकों के बीच खासा लोकप्रिय है, जिसे निहारने दूर देश विदेश से पर्यटकों पहुंचते हैं। यकीनन यहां की वादियों में पर्यटकों के लिए काफी कुछ है, लेकिन क्या आप यहां के अद्भुत झरनों से वाकिफ है।

जी हां, जम्मू कश्मीर में कई खूबसूरत झरने है, जो पर्यटकों को हर मौसम में अपनी ओर आकर्षित करते हैं, जहां सर्दियों के दौरान यह झरने से बर्फ में तब्दील हो जाते हैं, तो वहीं गर्मियों के दौरान इन बहते हुए झरनों के बीच वाटर स्पोर्ट्स का लुत्फ उठाया जा सकता है। जम्मू कश्मीर में स्थित इन झरनों की खास बात यह कि, ये सभी अपने औषधीय गुणों से सम्पन्न होते हैं, इसलिए भी लोग इन झरनो में नहाना पवित्र मानते हैं.

 कोकरनाग

कोकरनाग

अनंतनाग से 25 किलोमीटर और श्रीनगर से 80 किलोमीटर दूर स्थित है कोकरनाग कई छोटे-छोटे सरोवर और झरनों के लिए विखाय्त है और इन सरोवरों को एकत्रित रूप से 'कोकर' नाम से जाना जाता है। कोकरनाग ऐतिहासिक दृष्टि से भी काफ़ी महत्त्वपूर्ण है. इसका ज़िक्र आइन-इ-अकबरी में भी किया गया है।Pc:Naina Sandhir

करू झील

करू झील

करू झील बाबा धनसरे का पवित्र स्थान के पस स्थित है, जोकि कटरा से 17 किलोमीटर दूर करुआ गांव में स्थित है। इस झील के जल को बेहद पवित्र माना जाता है, लेकिन इस झील में श्रधालु बीच में ना जाकर बल्कि किनारे ही स्नान कर सकते हैं। झील के किनारे ही भगवान शिव की एक गहरी गुफा है, जहां शिव रात्रि के मौके भारी तादाद में भक्त पहुंचते हैं।Pc:Sahuajeet

नूरी चंब झरना

नूरी चंब झरना

कहा जाता है कि, बादशाह जहांगीर अपनी पत्नी नूरजहां के साथ यहां आते थे, तो दोनों इस जगह की खूबसूरती को खुद को खो देते थे, खासकर की रानी नूरजहां को यह खास पसंद थी, इसके लिए खुद बादशाह जहाँगीर ने इस जगह का नूरी चम्बा रख दिया। 100 फिट की ऊंचाई से गिरने वाला यह झरना वाला पानी एक दम सफेद दूध की तरह लगता है, जिस कारण इसे "दूधिया झरना" भी कहा जाता है। यह मुगल रोड पर बेहरगला और चंदिमाह के बीच में स्थित है, पुंछ जिले से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी पर है।

सिअर बाबा मंदिर

सिअर बाबा मंदिर

यह उत्तर भारत में सबसे बड़ा झरना में से एक का दर्जा हासिल करता है। 466 मीटर की ऊंचाई पर स्थित रियासी जिले में चिनाब नदी पर स्थित यह 100 फीट से बढ़कर एक शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है। इस झरने के पानी औषधीय मूल्य हैं। यहां आने वाले पर्यटक इस झरने में स्नान करना कतई नहीं भूलते हैं, साथ ही इस जगह की मिट्टी भी काफी लाभकारी बताई जाती है, जो शरीर को रोगों का नाश करती है।
Pc: Rinku4426

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स