• Follow NativePlanet
Share
» »5 कारण: इन गर्मियों क्यों जरूरी है तीर्थन घाटी की यात्रा

5 कारण: इन गर्मियों क्यों जरूरी है तीर्थन घाटी की यात्रा

Written By:

जब भी बात हिमाचल प्रदेश की घूमने की आती है तो दिमाग में सबसे पहले आता है शिमला या फिर कुल्लू-मनाली, माना ये हिमाचल के लोकप्रिय हॉलिडे डेस्टिनेशन हैं, लेकिन बीते कुछ सालों में ये जगहें पर्यटकों की भीड़ से एकदम पट चुकी है, ऐसे में आप छुट्टियां तो मनाते हैं, लेकिन वह मजा नहीं आता, जिसकी आपको दरकार होती है।

ऐसे में अक्सर पर्यटक किसी ऐसी जगह की तलाश करते हैं, जहां शांति भी हो, और खूबसूरत नजारों के बीच छुट्टियां भी अच्छे से बीत सकें, ऐसे में हम आपको बताना चाहेंगे तीर्थन घाटी के बारे में। जोकि कसोल से करीबन 75 किमी की दूरी पर स्थित है।

इस घाटी के आसपास कई खूबसूरत गांव भी हैं जहां आप प्राकृतिक छटाओं का मज़ा ले सकते हैं। सालभर इस घाटी का मौसम बेहद सुहावना रहता है। यहां एडवेंचर भी कर सकते हैं। इस शांत जगह को देखने के लिए हर तरह के पर्यटक आते हैं।

तो क्यों ना इन गर्मियों की छुट्टियों में मनाली की जगह इस प्राकृतिक सौन्दर्य और शांतिप्रिय स्थल की सैर की जाये, अगर आपके मन में सवाल आ रहे हैं क्यों, तो जनाब जवाब के रूप में हम आपको दे रहे हैं कुछ खास कारण, जिन्हें पढने के बाद यकीनन आप तीर्थान घाटी को जीवन में एकबार अवश्य घूमना चाहेंगे

नदी का किनारा

नदी का किनारा

Pc: Ankitwadhwa10
अगर आपको नदी के किनारे पसंद है, तो ये जगह आप ही के लिए बनी हुई है, हरे भरे जंगलों से गुजरती हुई तीर्थन नदी आगे जाकर ब्यास नदी में मिल जाती है। इस नदी के किनारे हिमाचल के कई खूबसूरत गांव भी बसे हुए हैं, जहां आप असीम, अनछुई खूबसूरती को देख सकते हैं।

छुपे हुए झरने

छुपे हुए झरने

नदी के बाद झरने देखना सभी को भाता है, फिर चाहे वह बच्चा हो या फिर युवा। तीर्थन घाटी को घूमते हुए आप कई खूबसूरत झरनों को देख सकते हैं, जहां पर्यटकों की भीड़ बिल्कुल भी नहीं होगी, होंगे तो सिर्फ आप और कलकल कर बहता हुआ झरना। अगर आप चाहे तो आप इन झरनों की खूबसूरती को अपने कैमरे में कैद कर सकते हैं।

एडवेंचर गतिविधियों का मजा

एडवेंचर गतिविधियों का मजा


तीर्थन घाटी प्रकृति प्रेमियों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। खूबसूरत हरे जंगलों में फूलों और पहाड़ों के बीच यह जगह विभिन्न तरह के ट्रेकिंग ट्रेल्स का प्रवेश द्वार भी है। पर्यटक यहां ट्रेकिंग अपनी क्षमता और कठिनाई के स्तर के आधार पर, आधा दिन या फिर पएक पूरे दिन में कर सकते हैं, इसके साथ ही यहां कैम्पिंग भी की जा सकती है। इसके अलावा पर्यटक तीर्थान नदी में ट्राउट फिशिंग का मजा ले सकते हैं। हिमाचल सरकार इस नदी के जलीय जीवों का संरक्षण करती है।

ग्रेट हिमालय नेशनल पार्क

ग्रेट हिमालय नेशनल पार्क

Pc:Pbhuker007
अगर आप प्रकृति प्रेमी और वन्य जीव प्रेमी हैं, तो तीर्थन घाटी आपके लिए स्वर्ग से कम नहीं है। तीर्थान से तीन किमी की दूरी पर स्थित ग्रेट हिमालय नेशनल पार्क 50 वर्ग किमी का एक क्षेत्र में फैला, राष्ट्रीय पार्क 30 से अधिक स्तनधारियों और पक्षियों की 300 से अधिक प्रजातियों सहित वनस्पतियों और पशुवर्ग की प्रजातियों की एक विस्तृत विविधता का घर है।

चलिए चलें, भारत के 6 प्रमुख वन्य जीव राष्ट्रीय उद्यानों में सफ़ारी की सैर पर!

इस पार्क की वनस्पति में चंदवा वन, ओक जंगल, अल्पाइन झाड़ियाँ, उप अल्पाइन समुदायों, और अल्पाइन घास शामिल हैं। बैरबैरिस,इंडिगोफेरा, सारकोकोआ और वाईबर्नम क्षेत्र में देखी जाने वाली वनस्पति की अन्य प्रजातियां हैं। पार्क कई फूलों की प्रजातियों के लिए भी घर है जिनका सुगंधित और औषधीय गुणों के लिए उपयोग किया जा सकता है।

खुशनुमा मौसम

खुशनुमा मौसम

Pc:Samir Azad
पर्यटक तीर्थन घाटी की सैर पूरे साल कभी भी कर सकते हैं, यहां का मौसम हमेशा ही खुशनुमा बना रहता है। इस पूरे क्षेत्र में वनस्‍पतियां फैली हुई हैं और तेज हवांए चलती हैं। साथ ही पूरी घाटी फूलों की खुशबू से महकती है। सर्दियों के मौसम में पर्यटक यहां बर्फबारी का भी मजा ले सकते हैं।

इन गर्मियों उठाएं हिमाचल के इन ऑफबीट जगहों का आनंद

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स