Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »मध्य प्रदेश : मोगली के घर का पता चाहिए तो आएं इस घने जंगल में

मध्य प्रदेश : मोगली के घर का पता चाहिए तो आएं इस घने जंगल में

मध्यप्रदेश के सिवनी और छिंदवाड़ा जिलों के बीच उष्णकटिबंधीय पर्णपाती जंगल (पेंच नेशनल पार्क) को अपना नाम यहां बहने वाली पेंच नदी से मिला है। उत्तर और दक्षिण दिशाओं में बहने वाली यह नदी इस भूमि को दो भागों में अलग करती है। खूबसूरत घाटियों और पहाड़ियों के बीच स्थित इस पार्क को ' प्रोजेक्ट टाइगर' के तहत राष्ट्रीय उद्यान बनाया गया है। पेंच नेशनल पार्क वनस्पतियों और जीवों के साथ एक समृद्ध वन्य क्षेत्र है, जहां आप जीवों की लुप्त प्राय प्रजातियों को भी देख सकते हैं।

जैसे ही आप जगंल के रास्तों से होते हुए आगे का सफर तय करते हैं, मोगली की छवियां सामने प्रकट होकर आपकी बचपन की यादों को ताजा करती है। क्योंकि रुडयार्ड किपलिंग द्वारा लिखी गई प्रसिद्ध 'जंगल बुक' इसी जंगल पर आधारित है। आइए इस खास लेख में माध्यम से जानते हैं मोगली का यह जंगल आपके लिए कितना खास है।

पेंच का मौसम

पेंच का मौसम

PC- DevendraLilhore

पेंच का मौसम मई में महीने में ज्यादा गर्म होता है औऱ जुलाई-अगस्त के दौरान यहां भारी बारिश शुरू हो जाती है। कभी-कभी मई में तापमान 42˚C तक चला जाता है, वहीं दिसंबर के दौरान तापमान 4˚C पहुंच जाता है। यहां वार्षिक वर्षा लगभग 1300 मिमी दर्ज की गई है।

पार्क भारी वर्षा के कारण जुलाई और अगस्त के महीनों के दौरान बंद रहता है। साथ ही मई में गर्म मौसम के कारण, पेंच नदी आमतौर सूख जाती है। आप यहां का भ्रमण अगस्त के बाद कर सकते हैं।

आने का का सही समय

आने का का सही समय

PC- Ishani Mehta

पेंच नेशनल पार्क के भ्रमण करने का सही समय नवंबर से मई के बीच का है, क्योंकि इस दौरान जंगल हरा-भरा और बहुत ही खूबसूरत नजर आता है। मौसम भी इस दौरान अनुकूल रहता है। फोटोग्राफी के लिए यह समय काफी आदर्श है।

मानसून की भारी बारिश के कारण पूरा जंगल नया सा हो जाता है। वैसे मानसून के छोड़कर आप यहां किसी भी महीने रोमांचक सैर का आनंद ले सकते हैं। प्रकृति प्रेमी और जंगल एडवेंचर के शौकीनो के लिए यह स्थान एक आदर्श स्थल है।

वाइल्ड लाइफ

वाइल्ड लाइफ

PC- Nconnet

लगभग 757वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला यह वन्यजीव अभयारण्य अपनी समृद्ध जैव विविधता के लिए जाना जाता है। यहां आप हर तरह के जीव-जन्तुओं को देख सकते हैं। जंगली जीवों में आप यहां बाघ, जंगली कुत्ता, तेंदुआ, सियार, नील गाय, लोमड़ी, लकड़बग्गा, चीतल, सांभर, गौर, लंगूर आदि को देख सकते हैं। इसके अलावा आप यहां पक्षी विहार का आनंद भी यहां ले सकते हैं।

पेंच नेशनल पार्क में आप 210 से ज्यादा पक्षी प्रजातियों को देख सकते हैं जिनमें प्रवासी पक्षी प्रजातियों की भी संख्या अधिक है। आप यहां पीफाउल, जंगलफॉउल, किरमिजी-ब्रेस्टेड बार्बेट, ब्राह्मी डक,पोचर्ड, बार हेडेड गीज, मालाबार पाइड हॉर्नबिल आदि को देख सकते हैं।

आसपास के आकर्षण

आसपास के आकर्षण

PC- Graf orlok2004

राष्ट्रीय उद्यान के अलावा आप यहां के आसपास के स्थलों के भ्रमण का भी प्लान बना सकते हैं। पेंच से 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पचधर अपने आदर्श ग्रामीण जीवन के लिए जाना जाता है, गांव के जीवन को समझने के लिए आप पचधर की यात्रा कर सकते हैं। आप यहां की शुद्ध आबोहवा का आनंद ले सकते हैं। मिट्टी के बर्तन को बनते देख सकते हैं।

इसके अलावा आप अन्य लोकप्रिय वन्यजीव अभयारण्य की सैर का भी प्लान बना सकते हैं। आप यहां से कान्हा राष्ट्रीय उद्यान, बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान और नागजीरा राष्ट्रीय उद्यान की रोमांचक सैर का आनंद ले सकते हैं।

कैसे करें प्रवेश

कैसे करें प्रवेश

PC- Rashityagi

पेंच नेशनल पार्क मध्य प्रदेश का एक लोकप्रिय राष्ट्रीय उद्यान है जहां आप तीनों मार्गों की मदद से आसानी से पहुंच सकते हैं। यहां का नजदीकी हवाईअड्डा नागपुर एयरपोर्ट है, रेल सेवा के लिए आप नागपुर रेलवे स्टेशन का सहारा ले सकते हैं।

अगर आप चाहें तो यहां सड़क मार्गों से भी पहुंच सकते हैं। बेहतर सड़क मार्गों से सिवनी और चिनंदवाड़ा राज्य के बड़े शहरों से जुड़े हुए हैं।

उज्जैन : यह स्थल बताता है कि भारत खगोल विज्ञान में कितना आगे थाउज्जैन : यह स्थल बताता है कि भारत खगोल विज्ञान में कितना आगे था

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X