• Follow NativePlanet
Share
» »अगर आप वाकई हैं दिलेर तो लेहट्रिप्स में इन रोड ट्रिप्स को जरुर करें ट्राय!

अगर आप वाकई हैं दिलेर तो लेहट्रिप्स में इन रोड ट्रिप्स को जरुर करें ट्राय!

Written By:

जम्मू की हसीन वादियों में सिमटा हुआ लेह लद्दाख आज किसी परिचय का मोहताज नहीं है , खासकर की यंग जेनरेशन के बीच लेह लद्दाख जबरदस्त एडवेंचर के लिए खासा प्रसिद्ध है। बर्फीले रेगिस्तान से परिपूर्ण लद्दाख में प्राचीन सुन्दरता, मठों, बर्फ से लदे पहाड़ों पर वन्य जीव सफारी के साथ साथ यहां भारतीय और तिब्बती क साथ बौद्ध धर्म का का समावेश भी देख सकते हैं।

लद्दाख, विश्व के दो प्रमुख पर्वत श्रृंखलाओं, काराकोरम और हिमालय के बीच, समुद्र की सतह से 3500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसके अतिरिक्त, जांस्कर और लद्दाख की समानांतर पर्वतमालाएँ, लद्दाख की घाटी को चारों ओर से घेरती हैं। बाइकर्स के बीच मनाली-लेह रोड ट्रिप काफी लोकप्रिय है, अक्सर युवा इस रोमांचक रोड ट्रिप का मजा लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि, आप लेह पहुंचकर भी कई खूबसूरत जगहों की रोड ट्रिप का मजा ले सकते हैं, जी हां मनाली-लेह रोड ट्रिप के अलावा यहां कई और अन्य रोड ट्रिप्स आपका इंतजार कर रही है।

खास बात यह है कि, इस इलाके में रोड ट्रिप का आनन्द लेने के लिए आप बाइक या फिर बुल्ट को किराये पर भी ले सकते हैं। तो अगली लेह-लद्दाख यात्रा पर यहां की कुछ बेहद ही मजेदार रोड ट्रिप को एन्जॉय करते हुए यहां के प्राकृतिक सौन्दर्य को एकदम करीब से निहारे, यकीन मानिए ये खूबसूरत अनुभव आपकी लद्दाख ट्रिप को बेहद यादगार बना देगा।

लद्दाख में रोड ट्रिप करने के बेस्ट समय 
लद्दाख के लिए बाइक राइड पर जाने का सही समय जून से सितंबर तक का समय लद्दाख की बाइक ट्रिप के लिए सबसे बेहतर होता है क्‍योंकि इस दौरान लद्दाख में सालभर की तुलना में कम ठंड होती है। हालांकि, अपने साथ गर्म कपड़े, जैकेट और बढ़िया क्‍वालिटी के जूते जरूर लेकर जाएं और हिमालय की ठंड के लिए खुद को तैयार रखें।

खरदुंगा ला पास

खरदुंगा ला पास

Pc: Sistak
खरदुंगा ला लेह से लगभग 39 किमी दूर पर स्थित दुनिया की सबसे ऊँची सड़क है, जिस पर बाइक चलाना सबसे ज्यादा चैलेंजिंग माना जाता है, यहां आप थ्रिलिंग बाइक राइड अनुभव कर सकते हैं।

ये पास श्याक और नुबरा घाटियों का प्रवेश द्वार है। वर्ष 1976 में इस सड़क को बनाया गया था, और मोटर वाहनों की आवा-जाही के सार्वजनिक रूप से इसे 1988 में खोला गया था, तब से यह पास रोड ट्रिप लवर्स के बीच खासा प्रसिद्ध है, यह पास भारत के लिए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि इसका उपयोग सियाचिन ग्लेशियर को आपूर्ति करने के लिए किया जाता है।

लेह से दूरी-39 किमी

मैग्नेटिक हिल

मैग्नेटिक हिल

Pc:Kartikey Brahmkshatriya
मैग्नेटिक हिल, जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में लेह के पास एक पहाड़ी है जिसे अपनि मैग्नेटिक फील्ड के कारण जाना जाता है। यह कारगिल के रास्ते लेह से 30 किलोमीटर दूर एक छोटा सा खिंचाव है। यहां आने वालों को निर्देशित किया जाता है कि वो एक स्थान पर आकर अपनी समूर्ण गाड़ी बंद कर दें और ऐसा करने के बाद गाड़ी खुद 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से पहाड़ी पर चढ़ती है और ड्राइवर को केवल गाड़ी की स्टेरिंग संभालनी होती है। चौंक गये ना। गाड़ी लगभग 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ऊपर की ओर चढ़ने लगती है। न सिर्फ गाड़ियां बल्कि आसमान से उड़ने वाले जहाज भी इस गुरुत्वाकर्षण शक्ति से खुद को बचा नहीं पाते।

लेह से 30 किलोमीटर दूर

चांग ला पास

चांग ला पास

Pc:Siddharth Mallya
चांग ला समुद्र तल से 5360 मी. (17,590 फीट) की ऊँचाई पर स्थित, खारदुंगा ला के बाद दूसरी सबसे उच्च मोटरेबल सड़क है। यह रोड ट्रिप को एन्जॉय करने के लिए अच्छी सड़क है, लेकिन खड़ी चढ़ाई के कारण थोड़ी सी खतरनाक भी है। बर्फ से ढक जाने के कारण सर्दियों में यह बंद रहता है। यह दुनिया का तीसरा सबसे ऊँचा परिवहन योग्य दर्रा है, जो सिन्धु घाटी को पांगोंग झील के क्षेत्र से जोड़ता है। इस दर्रे की ऊंचाई पर पहुँचने के बाद आप एक अच्छी चाय का आनन्द लेते हुए दूर दूर तक फैली पैंगोग झील के नजारों को देख सकते हैं।

लेह से दूरी-76किमी

बारालाचा पास

बारालाचा पास

Pc:Rajani3737
लेह से करीबन 283 किमी की दूरी पर स्थित बारालाचा पास लेह मनाली हाइवे पर पड़ने वाला दर्रा है। 4,890 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह दर्रा जांसकर घाटी का सबसे उच्च पर्वत है। सर्दियों के दौरान यह पर्वत पूरी तरह बर्फ से ढका रहता है, तो वहीं गर्मियों में भी यात्रियों कि इसे दोपहर में ही क्रॉस करने की सलाह दी जाती है। सर्दियों के दौरान भारी बर्फबारी के कारण इस रास्ते को बंद कर दिया है, मनाली-लेह हाइवे होने के कारण सड़क काफी अच्छी है, हालंकि कभी कभी बर्फ की वजह से फिसलन हो सकती है। अगर आप मनाली से लेह की रोड ट्रिप कर रहे हैं, तो इस जगह की खूबसूरती को जरुर निहारे और अनुभव करें।

लेह से दूरी-283किमी

एडवेंचर से भरपूर लेह के इन खजानों को भी घूमना ना भूलें

पांगोंग त्सो

पांगोंग त्सो

Pc:Rini Kothari
अगर आप लेह से पांगोंग त्सो की यात्रा कर रहे हैं, तो अपने कम्फर्ट को छोड़कर इस जगह रोड ट्रिप का मजा लें। जब आप लेह से इस जगह की रोड ट्रिप करेंगे तो आप यहां के मनोहर सुंदर परिदृश्य को जी भरकर एन्जॉय कर सकते हैं। झील क किनारे बाइक चलाते ठंडी हवा को चेहरे पर महसूस करना एक अलग ही अनुभव आपके लिए साबित होगा। आप लेह से पैंगोग चांग ला पास के जरिये आसानी से पहुंच सकते हैं।

दूरी -लेह से लगभग 225 किमी

इंडिया में इन जगहों पर करें रोड ट्रिप...

नुब्रा घाटी

नुब्रा घाटी

Pc:KennyOMG
लद्दाख की सबसे खूबसूरत जगहों में नुब्रा घटी को फ्लावर घाटी के नाम से भी जाना जाता है। यह क्षेत्र लद्दाख के बाग के नाम से जाना जाता है। गर्मियों में आप यहां रोड ट्रिप का मजा लेते हुए गुलाबी और पीले जंगली गुलाबों को देख सकते हैं, जो कि इस क्षेत्र में उगते हैं। नुब्रा घाटी तक पहुंचने के लिए पर्यटकों को लेह से खार्दूंग ला दर्रा लेना होगा, जो दुनिया का सबसे ऊँचा दर्रा है। यहां हिमालयी बाईकर्स एसोसिएशन लद्दाख में बाइकिंग टूर का आयोजन करता है जिसे आप देख भी सकते हैं और हिस्सा भी ले सकते हैं।

लेह टाउन से लगभग 160 किमी

अब लद्दाख रोड ट्रिप होगी और भी मजेदार

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स