» »ऑफिस की चिक-चिक से राहत देती भारत की ये अनजानी जगह

ऑफिस की चिक-चिक से राहत देती भारत की ये अनजानी जगह

By: Namrata Shatsri

हमेशा से ही भारत में दुनियाभर से पर्यटक घूमने आते हैं और पर्यटन के मामले में भारत की विरासत और इतिहास दुनियाभर में लोकप्रिय है। प्रकृति के साथ-साथ यहां अध्‍यात्‍म का संगम भी देखने को मिलता है। आयुर्वेद, योग और अन्‍य कई सांस्‍कृतिक तरीकों से मन को शांत किया जाता है।

भारत में ऐसे कई स्‍थान हैं तो प्रकृति के साथ-साथ अपने शांत वातावरण के लिए भी प्रसिद्ध हैं। प्रकृति की गोद में शांति पाने के लिए भारत के इन स्‍थानों पर जा सकते हैं। हम आपको भारत के ऐसे 6 स्‍थानों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां आप एक नई शुरुआत कर सकते हैं।

ओरोविल्‍ले, पोंडिचेरी

ओरोविल्‍ले, पोंडिचेरी

ओरोविल्‍ले एक योजनाबद्ध शहर है जहां अनूठी विचारधारा के लोग बसते हैं। यहां पर जाति, रंग और राष्‍ट्रीयता का कोई महत्‍व नहीं है। भारत की इस जगह पर लोग बिना पैसों का लेनदेन किए रहते हैं। ये पोंडिचेरी में स्थित है और तमिलनाडु की विलुपुरम जिले में आता है।

ओरोविल्‍ले समाज के विकास के रूप में एक बेहतर प्रमाण है। यहां पर लोग जैविक खेती, और पशुओं की देखभाल करते हैं और वर्कशॉप एवं थेरेपी इत्‍यादि में हिस्‍सा लेते हैं। अगर आप अपने मन को शांत करना चाहते हैं तो ओरोविल्‍ले जरूर आएं।

pc: Indianhilbilly

आर्ट ऑफ लिविंग इंटरनेशनल सेंटर, बैंगलोर

आर्ट ऑफ लिविंग इंटरनेशनल सेंटर, बैंगलोर

श्री श्री रविशंकर द्वारा मन और मस्तिष्‍क की शांति को प्राप्‍त कर तनाव को घटाने के उदेश्‍य से आर्ट ऑ‍फ लिविंग की स्‍थापना की गई थी। इस आश्रम को तनाव घटाकर आंतरिक शांति की प्राप्‍ति हेतु बनवाया था।

इस जगह पर अलग-अलग आयु वर्ग के लोगों के लिए खुशी और आंतरिक शांति की प्राप्‍ति और तनावमुक्‍त जीवन के लिए अनके प्रोग्राम चलाए जाते हैं। आश्रम के सुंदर राधाकुंज बाग में आपके मन को जरूर शांति का अनुभव होगा। श्‍हां एक गुरुकुल और विशाल रसोई भी है।

pc:solarisgirl

सिवानंदा आश्रम, केरल

सिवानंदा आश्रम, केरल

केरल का सिवानंदा आश्रम शास्‍त्रीय योग पर विश्‍वास रखता है एवं यहां आकर आपको अध्‍यात्‍म और आत्‍म-अनुभूति की प्राप्‍ति होती है। ये आश्रम पश्चिमी घाट के शानदार पहाड़ों पर नारियल के पेड़ों और हरी-भरी प्रकृति से घिरा हुआ है।

इसके साथ हि आप नय्यर बांध पर भी प्रकृति के करीब जाकर शांति का अनुभव कर सकते हैं। यहां कई उद्देश्‍यों के लिए अनेक प्रोग्राम और बच्‍चों के लिए कैंप आदि का आयोजन किया जाता है।

अगर आप केरल में हैं तो यहां की नदियो में हाउसबोट का मज़ा लेना ना भूलें। आप आयुवेर्दिक मसाज और सूर्यास्‍त के खूबसूरत नज़ारे का भी लुत्‍फ उठा सकते हैं।

pc:qwesy qwesy

ओशो इंटरनेशनल मेडिटेशन रिसॉर्ट, पुणे

ओशो इंटरनेशनल मेडिटेशन रिसॉर्ट, पुणे

ओशो एक आनंदमयी स्‍थान है जहां आपको पूरा दिन कई तरह की क्रियाओं में व्‍यस्‍त रखकर आराम और ध्‍यान का अनुभव कराया जाता है। ओशो में रहना आपके लिए थोड़ा महंगा हो सकता है लेकिल दुनियाभर से लोग पुणे के ओशो केंद्र में मन को तरोताज़ा करने आते हैं। यहा पर स्‍पा, सौना, जिम, ध्‍यान केंद्र जैसी कई सुविधाएं उपलब्‍ध हैं।

आप चाहें तो पुणे में शनिवार वाड़ा, आगा खान महल और कई प्रसिद्ध मंदिर भी देख सकते हैं। इस शहर में पर्यटकों के लिए बहुत कुछ है।

PC:unknown

विपस्‍सना अंतर्राष्‍ट्रीय एकेडमी, इगतपुरी

विपस्‍सना अंतर्राष्‍ट्रीय एकेडमी, इगतपुरी

इसे धम्‍मा गर्ल - विपस्‍सना इंटरनेशनल एकेडमी के नाम से भी जाना जाता है। दुनियाभर में ध्‍यान केंद्रों में इस एकेडमी का विकास बड़ी तेजी से हो रहा है। विपस्‍सना का मतलब है कि चीज़ों को उसी तरह से देखा जाए जैसे कि वह बनाई गईं हैं। ध्‍यान करने का ये भारत का सबसे प्राचीन तरीका है।

ध्‍यान के ज़रिए आप आत्‍म संतुलन और आत्‍म शुद्धि कर सकते हैं। महाराष्‍ट्र के पहाड़ी क्षेत्र इगतपुरी में स्थित इस केंद्र के पास आप भट्सा नदी घाटी, कैमल घाटी आदि घूम सकते हैं। यहां माउंट कलसुबाई पर ट्रैकिंग का मज़ा भी लिया जा सकता है।

pc:Piyushshelare

ईशा फाउंडेशन, कोयंबटूर

ईशा फाउंडेशन, कोयंबटूर

इस गैर-सरकार संगठन को सद्गुरु जग्‍गी वासुदेव द्वारा शुरु किया गया था। आध्‍यात्मिक शांति पाने के लिए ये सर्वोत्तम स्‍थान माना जाता है। तमिलनाडु के कोयंबटूर शहर में ये केंद्र स्‍थापित है। ईशा योगा में आपको मन, मस्तिष्‍क, शरीर और आत्‍मा की शांति के लिए प्राचीन योग तरीकों से अनुकूल योग शैली सिखाई जाती हैं।

pc: Napolee007