• Follow NativePlanet
Share
» »मथुरा की होली का लेना है मजा, तो पहुंच जाइये ब्रजग्राम

मथुरा की होली का लेना है मजा, तो पहुंच जाइये ब्रजग्राम

Posted By:

भारत में होली एक ऐसा पर्व है, जो सबके अंदर नया उत्साह और स्फूर्ति भर देता है। बदलते समय में अब भारत के कई शहरों में होली पार्टीज का आयोजन होता है, जहां सब जमकर होली खेलते हैं और मजे करते हैं, अगर आप ऐसे ही इवेंट्स में होली को एन्जॉय करना चाहते हैं, तो इस बार दिल्ली से 99 किमी की दूरी पर ब्रजग्राम में होली को एन्जॉय जरुर करें।

ब्रजग्राम एक गांव थीम्ड पार्क है जो ब्रज के लोगों की जातीय जीवन शैली से प्रेरित है, जिसमें मथुरा और वृंदावन के आसपास के क्षेत्र शामिल हैं।

 क्यों मनायें ब्रजग्राम में होली

क्यों मनायें ब्रजग्राम में होली

अगर आप ब्रज की असली होली का मजा लेना चाहते हैं, तो ये जगह आपके लिए बिल्कुल उपयुक्त है। यहां आकर आप भारतीय ग्रामीण संस्कृति और परंपराओं को देख और समझ सकते हैं। ब्रज ग्राम में ग्रामीण गतिविधियों से लेकर खाने में बाजरे और मक्के की रोटी, कचौरी आलू भाजी, मिर्ची के पंकोर, जलेबी, नंबू शिकनजी और ठंडाई शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश में स्थित मथुरा अपने होली समारोह के लिए जाना जाता है परंपराओं को ध्यान में रखते हुए, ब्राजग्रम आपको ब्रज मे होने वाली होली मुख्य तीन होली पार्टीज आयोजित करता है।Pc: official site

लट्ठमार होली

लट्ठमार होली

लट्ठमार होली उत्तर प्रदेश के बरसाने में होने वाली प्रसिद्ध होली है। पौराणिक कथायों की माने तो कृष्ण ने राधा को रंगने का प्रयास किया था, तब उनकी सखियों ने उन्हें डंडे से पीटा था, जिसके बाद सालों से नंदगाव के पुरुष बरसाने में लट्ठमार होली खेली पहुंचते हैं।

गुलाल की होली

गुलाल की होली

गुलाल की होली में सभी एक दूसरे को रंग लगाकर होली की बधाई देते हैं। इस होली को सभी वर्ग के लोग खूब उत्साह के साथ मनाते हैं।

होली 2018: कहीं होती है लट्ठबाजी तो कहीं भांग के नशे में खेली जाती है होली

फूलों वाली

फूलों वाली

नाम से ही आप समझ सकते हैं कि, यह होली फूलों से खेली जाती है, इस होली के दौरान लोग एक दूसरे के ऊपर फूल की पत्तियां फेंकते हैं और लजीज खाने का स्वाद लेते हैं।

आप इन सभी होली का मजा बिना मथुरा बरसाने जाये ब्रजग्राम में ले सकते हैं।

कहां है ब्रजग्राम

कहां है ब्रजग्राम

ब्रजग्राम का शाब्दिक अर्थ है ब्रज यानी भगवान कृष्ण की भूमि और ग्राम यानी गांव जो मथुरा-वृंदावन के अंतर्गत आता है। यह रिजोर्ट कोसी कला में कंट्री इन का है , जिसे दो भागों में विभाजित किया गया है, पहले भाग में कंट्री इन है जिसमे बेहतरीन कमरे और सारी सुविधाएं हैं, तो दूसरे भाग में पूरी तरह भारतीय गांव के नजारे दिखाता है।

दिल्ली वाले एक दिन का पूरा मजा ले सकते हैं

दिल्ली वाले एक दिन का पूरा मजा ले सकते हैं

जी हां दिल्लीवालों के लिए यह जगह एक परफेक्ट वीकेंड गेटवे हैं, जहां एक दिन में ही सभी चीजों का मजे लिए जा सकते हैं। इस ब्रजग्राम रिजोर्ट में स्विमिंग पूल, डाइनिंग एरिया और अच्छे कमरे भी हैं,जहां पर्यटक आराम कर सकते हैं।

कम बजट में बनाएं इन खूबसूरत स्थलों की सैर का प्लान

कीमत

कीमत

ब्रजग्राम में एक दिन का पैकेज एक वयस्क के लिए ₹ 1180 और बच्चे के लिए 767। इसमें नाश्ते, दोपहर का भोजन, शाम के नाश्ते और ब्रजग्राम में पहोने वाली सभी गतिविधियां शामिल हैं।Pc:officialy page

भोजन

भोजन

ब्रजग्राम में आप सात्विक खाने का लुत्फ उठा सकते हैं, जोक्ली ब्रज ग्राम में कच्ची रसोई में बनाया जाता है। यहां आने पर्यटक यहां कचौरी, आलू भाजी, जलेबी ,बाजरे की रोटी आदि का स्वाद ले सकते हैं।

होली स्पेशल खाना- नमकपारे, मिर्ची के पकोड़े, मटर कुल्चा, गुजिया आदि।

होली स्पेशल ड्रिंक्स-ठंडाई, छाछ, नींबू शिकंजी।Pc: official site

योग से करें शुरुआत

योग से करें शुरुआत

आप ब्रजग्राम में अपने दिन की शुरुआत योग से कर सकते हैं, योग आपको अंदर तक स्फूर्ति प्रदान करता है।

कलाबाजी देखें

कलाबाजी देखें

ब्रजग्राम में कलाकारी एक मनोरंजन प्रोग्राम होता है, जिसमे अनुभवी कलाबाज अपने कौशल का प्रदर्शन करता है। जैसे रस्सी पर चलना ,आग में कूदना आदि।Pc:officialy page

आखिर क्यों जीवन में एकबार मथुरा-वृन्दावन की होली का हिस्सा बनना चाहिए?

कठपुलती डांस

कठपुलती डांस

पर्यटक ब्रजग्राम में राजस्थानी कठपुतली डांस भी देख सकते हैं।Pc:officialy page

पारंपरिक तरीके से मक्खन निकलाना

पारंपरिक तरीके से मक्खन निकलाना

हममे से कई लोग जिन्होंने गांव नहीं देखा है , लेकिन आप ब्रज ग्राम में ग्रामीण परिवेश को अच्छे से देख सकते हैं, यहां आप पारम्परिक तरीके से छाछ को बनाते हुए देख सकते हैं, चाहे तो खुद भी अपना हाथ आजमा सकते हैं।

पहलवानी का ले मजा

पहलवानी का ले मजा

आपने फिल्म दंगल देखी होगी, जिसमे आमिर खान और उनकी बेटियां दंगल करती हुई नजर आती हैं, कुछ ऐसा ही नजारा आप हकीकत में ब्रज ग्राम में स्थित अखाड़े में देख सकते हैं, जहां पहलवान दंगल करते हैं।Pc:officialy page

गेम्स खेलें

गेम्स खेलें

लूडो, सांप और सीढ़ी, तीरंदाजी, चौसर, बोतल मछली पकड़ने, शूटिंग, शतरंज, जैसे आप यहां खेल खेल सकते हैं।

ऑर्गेनिक खेती सीखें

ऑर्गेनिक खेती सीखें

ब्रज ग्राम में कई जैविक खेतों जैसे गन्ने और गोभी के लिये जाना जाता है। यहां अआप जैविक खेती के बारे में जान सकते हैं, साथ ही खेत से ताजे ताजे गन्ने तोड़कर उसका स्वाद ले सकते हैं।

कैसे जाएँ

कैसे जाएँ

ब्रजग्राम का नजदीकी मेट्रो स्टेशन दिल्ली है।

सड़क द्वारा
दिल्ली से ब्रजग्राम से 100 किमी की दूरी पर है, यहां कैब या बस से आसानी से पहुंचा जा सकता है।

ट्रेन द्वारा
ब्रजग्राम का नजदीकी रेलवे स्टेशन कोसी कलां हैं, जोकि ब्रजग्राम से करीबन 1 किमी की दूरी पर स्थित है।Pc: official site

होली में लेना है ठंडाई का मजा, तो इस होली जरुर पहुंचे काशी

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स