» »कभी था एक गांव..लेकिन आज है 'दिल्ली वालों' का दिल

कभी था एक गांव..लेकिन आज है 'दिल्ली वालों' का दिल

Written By: Goldi

भारत की राजधानी दिल्ली एक ऐसा दर्पण है जिसमें समग्र भारत का चित्र दिखाई देता है । यह राजनीतिक, सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक तथा ऐतिहासिक रंगमंच है जो अन्यत्र कहीं दिखाई नहीं देता।

देश की राजधानी, दिल्ली से जुड़ी 18 दिलचस्प बातें!

यूं तो दिल्ली में कई चीजें हैं, जो लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं उन्हीं में से एक है कनॉट प्लेस..जो हर दिल्लीवाले का पहला प्यार है। एक असली दिल्लीवाला ही कनॉट प्लेस का असली महत्व बता सकता है,जिसे हर दिल्ली वाला प्यारा से सीपी भी कहता है। कनॉट प्लेस सेंट्रल दिल्ली में स्थित, जिसे हम दिल्ली का दिल भी कह सकते हैं।

यह एक ऐसी जगह है,जहां आप दोस्तों के साथ हैंगआउट कर सकते हैं, अच्छी और सस्ती शॉपिंग का लुत्फ उठा सकते हैं, लजीज व्यंजनों का स्वाद चख सकते हैं।

सीपी का इतिहास

सीपी का इतिहास

इसका नाम ब्रिटेन के शाही परिवार के सदस्‍य ड्यूक ऑफ कनॉट के नाम पर रखा गया था। इस बाजार का डिजाइन डब्‍ल्‍यू. एच. निकोलस और टॉर रसेल ने बनाया था। यह बाजार अपने समय का भारत का सबसे बड़ा बाजार था। आजादी से पहले कनॉट प्लेस ब्रिटिश राज का मुख्यालय हुआ करता था।PC:Vladislav Bezrukov

घोड़े की नाल जैसी है बनावट

घोड़े की नाल जैसी है बनावट

कनॉट प्लेस की बनावट घोड़े की नाल की बनावट से मेल खाती है और इसके ढ़ांचे की प्रेरणा ब्रिटेन में स्थित रॉयल क्रीसेंट से ली गई थी। कनॉट प्लेस बसाने की योजना वास्तुविद एच निकोलस ने की थी, लेकिन अंजाम दिया वास्तुविद राबर्ट टॉर रसल ने। यह इलाका माधोगंज गाँव के नाम से जाना जाता था, जहाँ चारों ओर जंगल था।PC: Daderot

पहले था एक गांव

पहले था एक गांव

माधोगंज गाँव जयपुर के महाराजा जयसिंह की रियासत का हिस्सा था। उन्होंने यह जगह अंग्रेजों को भेंट की। बाकी कुछ जगह दो रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से स्थानीय लोगों से खरीदी गई। ड्यूक ऑफ कनॉट के नाम पर अंग्रेज बहादुरों की गोरी मेमों के सैर-सपाटे के लिए बसाए गए इस बाजार की शक्ल बिल्कुल अलग थी। जब अंग्रेजों ने इस जगह को अपने ज़िला केंद्र के तौर पर चुना तो गाँवों के बसने वाले लोगों को उजाड़ने की नौबत आ गई।PC:photodivision

पहले बना करोल बाग़

पहले बना करोल बाग़

तब उन्हें करोल बाग इलाके में बसाया गया। नई दिल्ली के ड्राइंग रूम की तरह कनॉट प्लेस को सजाया-संवारा गया। इस ड्राइंग रूम का एलसीडी टीवी बना रीगल सिनेमा।PC:Mr Mobs

सीपी का पहला थियेटर

सीपी का पहला थियेटर

रीगल सिनेमा सीपी का पहला फिल्म थियेटर था जिसे 1932 में खोला गया था।PC: Ekabhishek

बिल्डिंग में कई नेशनल, इंटरनेशनल ऑफिस

बिल्डिंग में कई नेशनल, इंटरनेशनल ऑफिस

कनॉट प्लेस दिल्ली के सबसे बड़े व्यापार, वित्तीय और वाणिज्यिक केंद्रों में से एक है। आप इस बिल्डिंग में विभिन्न भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों के ऑफिस भी देख सकते हैं।PC: MattHartzell

सेंट्रल पार्क

सेंट्रल पार्क

सेंट्रल पार्क कई सांस्कृतिक गतिविधियों का केंद्र रहा है। वर्ष 2014 में यहां सबसे बड़ा भारतीय ध्वज फहराया गया था। इस ध्वज का माप 90X60 था, और जिस पोल पर इसे लहराया गया था, वह करीबन 207 फीट लंबा है।PC: harivyasi

हनुमान मंदिर

हनुमान मंदिर

इसके अलावा सैलानी सीपी के पास दिल्ली का प्रसिद्ध हनुमान मंदिर भी देख सकते हैं, जोकि काफी दशकों पुराना है। यहां उपस्थित हनुमान जी स्वयंभू हैं। प्रत्येक मंगलवार एवं विशेषतः हनुमान जयंती के पावन पर्व पर यहां भजन संध्या और भंडारे लगाकर श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया जाता है। इसके साथ ही भागीरथी संस्था के तत्वाधान में संध्या आरती का आयोजन किया जाता है, साथ ही क्षेत्र में झांकी निकाली जाती है।
PC: आशीष भटनागर

इंपीरियल, नई दिल्ली

इंपीरियल, नई दिल्ली

सीपी में स्थित इंपीरियल दिल्ली का पहला लग्जरी होटल है, जिसे वर्ष 1931 में क्वीन वे पर खोला गया था जोकि अब जनपथ के नाम से जाना जाता है।

राजीव दिल्ली चौक

राजीव दिल्ली चौक

दिल्ली मेट्रो के राजीव चौक स्टेशन को एक पर्यटक आकर्षण कहा जा सकता है। अगर आप वाकई दिल्ली के अंदर कुछ रोमांचक देखना चाहते हैं, तो आपको राजीव चौक मेट्रो पर भीड़-भाड़ वाले समय पर जरुर जाना चाहिए। इसके साथ दिल्ली का पहला स्टारबक्स कॉफ़ी हाउस भी सीपी में ही खुला था, जो अब दिल्ली वालों की पहली पसंद बन चुका है।
PC: Aze0098

कनॉट प्लेस नाइटलाइफ़

कनॉट प्लेस नाइटलाइफ़

कनॉट प्लेस राजधानी की वह बेस्ट जगह है, जहां आप जमकर पार्टी आदि का मजा ले सकते हैं। सीपी में लाइव म्यूजिक का मजा लेने के साथ साथ यहां डिस्कोथेक, रेस्टोर-बार और पब आदि मौजूद हैं।PC:Budhesh

शॉपिंग के दीवानों के लिए भी है खास

शॉपिंग के दीवानों के लिए भी है खास

शॉपिंग के दीवानों के लिए सीपी में काफी कुछ है, यहां का मार्केट के दो सर्किल हैं। इनर सर्किल में ए से एफ तक ब्लॉक हैं। यहां स्थित महत्वपूर्ण दुकानों और शोरूमों में एडिडास ऑरिजनल्स, एलन सोली, बेंटले, बॉन टॉन, केंटाबिल, गेस, जॉनसन वॉच कंपनी, कल्पना, ली, लुई फिलिप, नीलकंठ ज्वैलर्स, नाइक, ऑरा, पार्क एवेन्यू, पेपे, प्रोलाइन एंड विला, रूपचंद ज्वैलर्स, स्नोव्हाइट स्क्वेयर, विल्स लाइफस्टाइल्स आदि हैं। जहां आप जमकर शॉपिंग के मजे ले सकते हैं।PC: J. Miers

जनपथ मार्केट

जनपथ मार्केट

अगर आप सस्ती शॉपिंग करना चाहते हैं तो सीपी के सामने ही जनपथ मार्केट है, जहां से आप सस्ती और अच्छी शॉपिंग का लुत्फ उठा सकते हैं।

Please Wait while comments are loading...