• Follow NativePlanet
Share
» »सर्दियों में महाराष्ट्र के ट्रैकिंग डेस्टिनेशन करें ट्राई

सर्दियों में महाराष्ट्र के ट्रैकिंग डेस्टिनेशन करें ट्राई

Written By: Goldi

वर्ष 2017 खत्म होने को है और जल्द ही नया साल और नये साल की बर्फबारी दस्तक देगी। गर्मियों की तरह सर्दियों में ट्रैकिंग करने का अपना एक अलग ही मजा है। सर्दियों के दौरान चारो और बर्फ रहती है, जो ट्रेकर्स का उत्साह और बढ़ाती है।

अपनी पहली ट्रेक पर ये 5 गलतियाँ करने से बचें

अगर आप भी ट्रैकिंग के दीवाने हैं और सर्दियों के दौरान ट्रैकिंग का मजा लेना चाहते हैं..तो हम आपके लिए लेकर आयें सर्दियों में ट्रेकिंग करने की कुछ खास ट्रेकिंग डेस्टिनेशन की जानकरी..

सहयाद्रि

सहयाद्रि

सहयाद्रि एक बेहद ही खूबसूरत क्षेत्र हैं, जोकि ट्रेकिंग,लम्बी वाक,कैम्पिंग,हाईकिंग आदि के लिए विख्यात है। ऐतिहासिक किलों, चट्टानी पहाड़ों, तेजस्वी झीलों और एक शानदार परिदृश्य के बीच बसे, साह्यारिस साहसिक उत्साही के लिए तलाशने के लिए सबसे अच्छे स्थानों में से एक है।

यह खूबसूरत बाहरी साहसिक गतिविधियोंका व्यापक विकल्प प्रदान करता है। सह्याद्री में एक ट्रैकिंग के दौरान प्रकृति को करीब से निहारने का एक खूबसूरत मौका होता है।

कळसूबाई

कळसूबाई

महाराष्ट्र के नगर जिले में स्थित, कळसूबाई समुद्र तल से 166 फीट ऊंची पर सह्याद्री पर्वत श्रृंखला का सबसे ऊंचा शिखर है। कलसुबाई हरिश्चंद्रगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के मुख्य आकर्षण में से एक, कलसुबाई को अक्सर महाराष्ट्र के एवरेस्ट भी कहा जाता है।

स्थानीय लोगो के मुताबिक, यह ट्रेक सर्दियों के दौरान सबसे कठिन ट्रैकिंग डेस्टिनेशन में से एक है।

इस ट्रैकिंग को सुबह और रात दोनों ही समय किया जा सकता है,रात के समय पर्यावरण और इलाके की चुनौतियां इस ट्रैकिंग रोमांचक और रोमांचकारी बनाते हैं। ट्रैकिंग के दौरान आप खूबसूरत पहाड़ियों को देख सकते हैं और घाटियों के सुरम्य दृश्य का आनंद ले सकते हैं।

Pc:Hamehta3

सिंहगढ़

सिंहगढ़

महाराष्ट्रवासियों का पसंदीदा पसंदीदा पिकनिक स्पॉट सिंहगढ़ समुद्र तल से 4320 फीट ऊपर और पुणे से लगभग 30 किलोमीटर दूर स्थित है, सिंहगढ़ पिकनिक और ट्रेकिंग के लिए प्रसिद्ध है। यह पुणे वासियों के लिए एक परफेक्ट वीकेंड गेटवे में से एक है।

किले की ऊंचाई पर पहुँचने के बाद, यहां किले के खुले स्थानों को निहारा जा सकता है। इसके अलावा आप इस किले की ऊंचाई से खूबसूरत सनसेट और सनराइज के मनोरम नजारे भी देख सकते हो। इस ट्रैकिंग के दौरान भक्षी, भाजी, पिठला आदि जैसे पारंपरिक व्यंजनों का आनंद लें।Pc: Sanketr3392

तिकोना

तिकोना

महाराष्ट्र के कामशेत क्षेत्र के निकट समुद्र तल से 3500 फीट की ऊंचाई पर स्थित, तिकोना किला तुंग किले से प्रभावित है। इस किले तक पहुँचने के लिए आप एक गाइड की सहायता ले सकते हैं, इस दौरान आप गवबंध गांव के खूबसूरत घरेलू जीवन की एक झलक दे सकते हैं,इस टिकोना पेथ भी कहा जाता है।

इस ट्रैकिंग की शुरुआत इस गांव के बेस से होती है, जहां से किले तक पहुँचने में महज 90 मिनट का वक्त लगता है। किले के बड़े द्वार पहुँचने पर अनूठा वातावरण मन को हर्षित करता है, इसके आगे बढ़कर आप लोहगढ़ किले के साथ-साथ त्रिंबकेश्वर के आसपास के मंदिरों, झीलों और गुफाओं का अन्वेषण करें।Pc:Rahul Rajbhar

कलावंती दुर्ग

कलावंती दुर्ग

अगर आप महारष्ट्र में सर्दियों में सबसे अच्छे ट्रेकिंग स्थल की तलाश में हैं तो , कलावंती दुर्ग सबसे बेस्ट है । कलावंती ट्रेक समुद्र तल से 2000 फीट ऊपर स्थित है, और सबसे ऊपर तक पहुंचने के लिए संकीर्ण सीढ़ियों से होकर पहुंचना होता है।

इन सीढ़ियों के दौरान बेहद ही सावधान रहना होता है, क्यों कि सीढ़ियों पर चढ़ते हुए कोई भी सुरक्षा का मानक नहीं है। इसलिए चड़ाई करते हुए सावधानी बरते ऊपर पहुँचने के बाद क्घारो और फैले खूबसूरत नजारों का आनन्द उठायें।Pc:Aejaz16

रायगढ़

रायगढ़

पुणे से करीब 65 किलोमीटर की दूरी पर तोरण के करीब स्थित रायगढ़ किला एक बेहद ही खूबसूरत और महाराष्ट्र के शक्तिशाली किलों में से एक हैं। इस किले की खूबसूरती का मजा लेने के लिए सर्दी का मौसम एकदम बेस्ट हैं, इस दौरान किले की ऊंचाई पर पहुंचकर सुंदर दृश्यों का आनंद लें। अगर ट्रेकर्स चाहे तो यहां तारों की छांव में कैम्पिंग का मजा भी ले सकते हैं ।

इस किले को अच्छे से रात में देखा जा सकता है. इलाके में जाने के लिए एक उज्ज्वल टॉर्च ले जाएं इस स्थान का मुख्य आकर्षण हिराकनी बुरुज टकमक टोक, बाजार, होलीचा मल, महाराज शिवाजी समाधि, जगदीश्वर मंदिर, मीना दरवीया आदि को जरुर देखें।Pc:Swapnaannjames

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स