Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »मेरठ से बनाएं इन हिल स्टेशन की सैर का प्लान

मेरठ से बनाएं इन हिल स्टेशन की सैर का प्लान

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के निकट स्थित मेरठ उत्तर प्रदेश का एक प्राचीन शहर है। इसके अलावा मेरठ एक महत्वपूर्ण औद्योगिक शहर है और संगीत वाद्ययंत्र और खेल वस्तुओं का बड़े पैमाने पर निर्माण करता है। इतिहास से जुड़े साक्ष्य बताते हैं कि इस शहर का संबंध पौराणिक काल से है, प्राचीन महाकाव्य महाभारत में मेरठ को हस्तिनापुर के रूप में वर्णित किया गया है। मौर्य साम्राज्य के दौरान मेरठ बौद्ध धर्म का एक महत्वपूर्ण केंद्र भी था।

मेरठ शहर की भौगोलिक स्थित उसे कई शानदार और खूबसूरत स्थलों से जोड़ती है। दिल्ली से निकटता के कारण आप यहां से कम दूरी तय कर उत्तराखंड और हिमाचल के विभिन्न पर्यटन गंतव्यों की सैर का आनंद ले सकते हैं। इस खास लेख में जानिए मेरठ के सबसे नजदीकी उन खूबसूरत हिल स्टेशन के बारे में जहां का प्लान आप इन गर्मियों में आसानी से बना सकते हैं।

औली

औली

PC-Mandeep Thander

मेरठ से लगभग 319 किमी की दूरी पर स्थित औली उत्तराखंड का एक शानदार हिल स्टेशन है, जहां का प्लान साल के किसी भी महीने में बना सकते हैं, लेकिन जाने से पहले मौसम का जायजा जरूर लें। यहां आप प्राकृतिक सौंदर्यता का लुफ्त उठाने के साथ-साथ कई सारी एडवेंचर गतिविधियों का भी आनंद उठा सकते हैं।

औली भारत के चार धामों में से एक बद्रीनाथ के रास्ते में पड़ता है। आप यहां औली झील और नंदा देवी अभयारण्य की सैर का आनंद उठा सकते हैं। फरवरी और जून के मध्य का समय यहां सबसे सुखद अनुभव देता है।

अल्मोड़ा

अल्मोड़ा

PC-Travelling Slacker

अगर आप चाहें तो मेरठ से अल्मोड़ा हिल स्टेशन की सैर का भी प्लान बना सकते हैं। अल्मोड़ा उत्तराखंड के सबसे चुनिंदा पर्वतीय गंतव्यों में गिना जाता है। आप यहां कुमाऊं पहाड़ी श्रृंखलाओं की खूबसूरती का आनंद उठा सकते हैं। यह हिल स्टेशन ऊंचे-ऊंचे देवदार के पेड़ों से घिरा है। सर्दियों के अलावा गर्मी को दौरान भी यहां का मौसम काफी सुहावना बना रहता है।

परिवार और दोस्तों के साथ यहां एक शानदार ट्रिप का प्लान किया जा सकता है। मेरठ से अल्मोड़ा लगभग 308 किमी की दूरी पर स्थित है। आप यहां कोशी नदी और कसार देवी मंदिर के भी दर्शन कर सकते हैं। मार्च से नवंबर का महीना यहां आने का सबसे आदर्श समय है।

चकराता

चकराता

PC-JediPro

आप चाहें तो उत्तराखंड के चकराता भ्रमण का भी प्लान बना सकते हैं। हिमालय की खूबसूरती को पदर्शित करता यह हिल स्टेशन एक शानदार अवकाश के लिए एक आदर्श स्थल है। इस स्थल का इतिहास बताता है कि औपनिवेशिक काल के दौरान यहां अंग्रेजों की छावनी हुआ करती थी।

7000 फीट की ऊंचाई पर स्थित यह गंतव्य अपने शांत वातावरण के लिए जाना जाता है। आप यहां टाइगर फॉल्स, चिरमिरी सनसेट प्वाइंट की सैर का प्लान कर सकते हैं। आप यहां साल के किसी भी महीने आ सकते हैं।

जागेश्वर

जागेश्वर

PC- Sutharsan Shekhar

आप उत्तराखंड के जागेश्वर की सैर का प्लान कर सकते हैं। जागेश्वर राज्य के चुनिंदा सबसे प्रसिद्ध हिल स्टेशन में गिना जाता है। यह पर्वतीय स्थल (अलमोड़ा-पिथोरागढ़ हाईवे) आर्टोला गांव के पास जाट गंगा घाटी पर स्थित है। यहां ज्योर्तिलिंग और हरे-भरे देवदार के जंगल मुख्य आकर्षण का केंद हैं।

आप यहां ज्योर्तिलिंग मंदिर, आर्यवत गुफा, ब्रह्म कुंड और पुरातात्विक संग्रहालय की सैर का प्लान कर सकते हैं। मेरठ से जागेश्वर की दूरी लगभग 350 किमी की दूरी पर स्थित है। मार्च से सितंबर मध्य का समय यहां का सबसे आदर्श माना जाता है।

कानाताल

कानाताल

PC- Stuti sharma 09

उपरोक्त स्थानों के अलावा आप उत्तराखंड के कानाताल हिल स्टेशन की सैर का प्लान कर सकते हैं। एक यादगार अवकाश के लिए यह पहाड़ी गंतव्य सबसे आदर्श माना जाता है। कानाताल का शाब्दिक अर्थ होता है सूखा ताल (काना-सूखा, ताल-झील), जो यहां मध्य में स्थित है।

इस झील अतीत के कई पहलुओं को उजागर करती है। आप यहां से धनोल्टी, सुरकंडा देवी मंदिर, टिहरी डैम और कोडिया जंगल का भ्रमण कर सकते हैं। मेरठ से कनाताल की दूरी 238 किमी की दूरी पर स्थित है।

इन गर्मियों लें तमिलनाडु के इस अभयारण्य की रोमांचक सैर का आनंद

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X