» »जानिये मायानगरी मुंबई में कहां कहां है भूत प्रेत और आत्माओं का डेरा

जानिये मायानगरी मुंबई में कहां कहां है भूत प्रेत और आत्माओं का डेरा

Written By:

कहते हैं मुंबई ख्वाबों का शहर है। कभी यहां किसी के ख्वाब पूरे होते हैं तो कभी किसी के ख्वाब टूटकर बिखर जाते हैं। इस शहर में जिसके ख्वाब पूरे होते हैं वो राजाओं की तरह ज़िंदगी गुज़ारता है तो वहीँ जिनके ख्वाब अधूरे रह जाते हैं वो अपनी जान गंवा देते हैं और भूत बन के शहर की सुनसान जगहों पर मंडराते हैं। ज्ञात हो कि किसी भी अन्य महानगर की ही तरह मुंबई भी अपनी झोली में कई रहस्यमय और भूतिया जगहों को समेटे हुए है और आज यहां भी कई ऐसे स्थान हैं जहां जाने वाले लोगों को यही सलाह दी जाती है कि वो शाम होने से पहले ही इन जगहों से वापस आ जाएं वरना अपने साथ घटित होने वाली घटनाओं के जिम्मेदार वे खुद होंगे।  बैंगलोर के सेंट मार्क रोड का एक हंसता खेलता घर आखिर कैसे बन बैठा एक भूत बंगला

गौरतलब है कि आज भी मुंबई में कई ऐसी इमारतें हैं जो काफी पुरानी हैं और हमें औपनिवेशिक ब्रिटिश युग की याद दिलाती हैं मजे की बात ये है कि इनमें से अधिकांश इमारतें भूतिया यानी हॉन्टेड हैं। मुंबई के लोगों का मानना है कि इस शहर में बहुत कम हरियाली है और जिन स्थानों पर ये जंगल और हरियाली हैं उनमें से अधिकाशं स्थान भूतिया और डरावने हैं। इसी क्रम में आज हम आपको अवगत कराएंगे मुंबई के कुछ हॉन्टेड स्थानों से।

केम्प कॉनर फ़्लैट

शहर के बीचों बीच केम्प कॉनर है जहां का ग्रैंड पैराडी टावर काफी मशहूर है इस स्थान का शुमार शहर की सबसे पॉश लोकेशन में है। इस जगह पर कई आत्महत्याएं हो चुकी हैं अतः इस स्थान को भूतिया करार दे दिया गया है। बताया जाता है कि यहां के सेकंड फ़्लोर से अब तक 20 से ऊपर लोग कूद चुके हैं।

आरे मिल्क कॉलोनी

इस कॉलोनी का निर्माण आरे मिल्क फैक्ट्री में काम करने वाले लोगों के लिए किया गया था । ज्ञात हो कि इस स्थान का शुमार मुंबई के थोड़े बहुत खुले स्थानों में है और दिन में आपको यहां खूब चहल पहल दिखेगी और दूर दूर से लोग यहां पिकनिक मनाने के लिए आते हैं। कहा जाता है कि शाम होते ही इस स्थान पर भूतों और आत्माओं का कब्ज़ा हो जाता है ।

मुकेश मिल्स

अस्सी के दशक में कॉटन की इस लोकप्रिय मिल को बंद कर दिया गया था। मुंबई के कोलाबा में स्थित मुकेश मिल्स का शुमार देश के उन चुनिंदा कारखानों में था जिसने भारी संख्या में लोगों को रोज़गार दिया था। ज्ञात हो कि इस स्थाना पर कई फिल्मों की भी शूटिंग हो चुकी है। यहां के बारे में एक घटना मशहूर है कि एक बार यहां शूटिंग चल रही थी और फ़िल्म की हिरोइन पर एक आत्मा ने प्रवेश कर लिया और वो पुरुषों की तरह बातें करने लग गयी।

संजय गांधी नेशनल पार्क

ये स्थान इसलिए हॉन्टेड है क्योंकि यहां रहने वाले शेर चीतों ने कई लोगों को खाया है और उन्हीं लोगों कि आत्माएं आज यहां भटकती हैं। गौरतलब है कि इस स्थान पर बरसों से लोग अतिक्रमण और कब्ज़ा कर के रह रहे हैं।

एशियाटिक लाइब्रेरी

इस लाइब्रेरी का शुमार भारत की सबसे बड़ी लाइब्रेरी में होता है। इस लाइब्रेरी की बिल्डिंग को देख के ही आप इस बात का अंदाजा लगा लेंगे कि ये स्थान हॉन्टेड है। कोलाबा स्थित इस लाइब्रेरी कि ये खासियत है कि यदि आप यहां चले गए तो आप यहां से निकलना नहीं चाहेंगे। बताया जाता है कि आज भी यहां अंग्रेज़ों की आत्माएं रहती हैं।

मुंबई की चुनिंदा हॉन्टेड जगहें

ताज महल होटल

आज ताज महल होटल का शुमार मुंबई के लैंड मार्क में होता है। आलिशान और समस्त सुख सुविधा से लैस इस होटल के बारे में आज कई किवदंतियां मशहूर हैं। यहां आज भी इस होटल के निर्माता और मुख्य वास्तुकार डब्लू ए चैम्बर्स की आत्मा का वास है, साथ ही यहां काम करने वाले कई लोगों ने उनकी आत्मा को और उनकी आवाज़ को यहां महसूस किया है।

टावर ऑफ साइलेंस

ये पारसी लोगों का कब्रिस्तान है। पारसी लोग अपने मरे हुए लोगों को यहां छोड़ के जाते हैं जहां चील कव्वे इन्हें खाते हैं। मुंबई के स्थानीय लोगों के बीच इस स्थान को लेकर कई बातें मशहूर हैं और कोई यहां नहीं जाता है। लोगों का कहना है कि इस सुनसान स्थान पर कई अजीब गरीब चीजों भूत प्रेत आत्माओं को महसूस किया गया है।

Please Wait while comments are loading...