» »तटीय और नारियल के पेड़ों के शहर अलीबाग का सफर

तटीय और नारियल के पेड़ों के शहर अलीबाग का सफर

By: https://hindi.nativeplanet.com/travel-guide/6-things-do-the-temple-town-hampi-hindi-002295.html

महाराष्ट्र में जिले रायगढ़ में अलीबाग एक तटीय शहर है। 17वीं शताब्‍दी में छत्रपति शिवाजी के सेनापति रहे सरखेल कन्‍होजी आंगरे ने इस जगह का विकास किया था।

अलीबाग मुंबई से करीबन 100 किमी की दूरी पर स्थित है..यह जगह मुंबई वासियों के बीच एक लोकप्रिय हॉलिडे डेस्टिनेशन है। इस जगह कई खूबसूरत और शांत तट हैं। इसके अलावा अलीबाग के घने नारियल के पेड़ और सुहावना मौसम भी पर्यटकों को आकर्षित करता है।

तटों के अलावा ये जगह ऐतिहासिक और शानदार मंदिरों के लिए भी प्रसिद्ध है। घने नारियल के पेड़ों के बीच सैर करना एक अलग ही अनुभव देता है।

कैसे पहुंचे अलीबाग

कैसे पहुंचे अलीबाग

अलीबाग पहुंचने का सबसे आसान तरीका सड़क मार्ग है। ये शहर सड़क मार्ग द्वारा अच्‍छी तरह से जुड़ा हुआ है और मुख्‍य शहरों से अलीबाग के लिए नियमित बसें चलती हैं।

अलीबाग आने का सही समय : सालभर में कभी भी अलीबाग आ सकते हैं।

मुंबई से अलीबाग का रूट

मुंबई से अलीबाग का रूट

मुंबई से अलीबाग की कुल दूरी 92.6 किमी है। इसके तीन रूट इस प्रकार हैं :

मुंबई से अलीबाग का रूट :

रूट 1 : मुंबई - नवी मुंबई - वहाल - खरपाडा - पेन - पोयनाद - एनएच 166 ए के माध्यम से अलीबाग

रूट 2 : मुंबई - नवी मुंबई - पनवेल - करनाला - पेन - पोयनाद - एनएच 66 के माध्यम से अलीबाग

रूट 3 : मुंबई - नवी मुंबई - कामोथे - रसावनी - पेन - पोयनाद - मुंबई-पुणे राजमार्ग के माध्यम से अलीबाग

पहले रूट पर एनएच 166 ए से अलीबाग पहुंचने में 2 घंटे 45 मिनट का समय लगेगा। इस रूट पर आप कई लोकप्रिय शहर जैसे नवी मुंबई, पेन आदि देख सकते हैं।

सड़क व्‍यवस्‍था अच्‍छी होने के कारण 92.6 किमी का सफर आसानी से कट जाएगा।

वहीं दूसरे रूट पर एनएच 666 से अलीबाग 95.4 किमी दूर एवं इस दूरी को तय करने में आपको 3 घंटे का समय लग सकता है।

तीसरे रूट पर मुंबई-पुणे हाईवे से अलीबाग पहुंचने में 3.5 घंटे का समय लगेगा।

पेन में यहां रूक सकते हैं

पेन में यहां रूक सकते हैं

मुंबई के ट्रैफिक से बचने के लिए सुबह जल्‍दी निकलें। पहले रूट से जाने पर हाईवे पर आपको नाश्‍ते के कई ऑप्‍शन मिलेंगें। यहां आप वड़ा पाव, मसाला पाव और पोहा आदि खा सकते हैं।

नाश्‍ते के लिए पेन से अच्‍छी जगह और कोई हो ही नहीं सकती। यहां पर आप घूम भी सकते हैं। ये शहर गणेश जी की मूर्तिया बनाने के लिए लोकप्रिय है। इस शहर का ऐतिहासिक महत्‍व भी है।

इस शहर में सामाजिक कार्यकर्ता, स्‍वतंत्रता सेनानी और गांधी जी के आध्‍यात्मिक उत्तराधिकारी विनोबा भवे का जन्‍म हुआ था।PC:VedSutra

गंतव्‍य : अलीबाग

गंतव्‍य : अलीबाग

तटीय शहर होने के कारण अलीबाग में कई समुद्रतट, आइलैंड और ऐतिहासिक जगहें हैं। यहां पर आप मराठा राजवंश और पुर्तगाली संस्‍कृति की झलक देख सकते हैं। अलीबाग में कई ऐतिहासिक किले और मंदिर हैं। इस जगह संग्रहालय भी हैं।

यहां पर अलीबाग बीच प्रमुख तट है। इस जगह लंबी सैर का मज़ा ले सकते हैं। यहां पर भीड़ भी कम होती है। इस तट की काली रेत काफी सख्‍त है। इस तट पर लोकप्रिय कोलाबा किला भी देख सकते हैं। इस किले तक बोट राइड से पहुंचा जा सकता है।
PC:Gayatri Priyadarshini

और क्‍या देखें

और क्‍या देखें

हर ऐतिहासिक जगह से कोई ना कोई कहानी जुड़ी होती है और इस जगह के किले से भी कई रहस्‍यमयी कहानियां जुड़ी हैं। किले की दीवारों की लंबाई 25 फीट है और इसके दो मुख्‍य द्वार हैं जिसमें से एक समुद्र की ओर और दूसरा अलीबाग की ओर है।

यहां पर स्थित भगवान शिव का सोमेश्‍वर मंदिर भी बहुत प्रसिद्ध है। इस मंदिर की वास्‍तुकला अद्भुत है।

इसे सत्‍यावाहन के राजाओं ने चौथी शताब्‍दी में बनवाया था। मंदिर की दीवारों पर इसके इतिहास की झलक देख सकते हैं।
PC: Rakesh Ayilliath

Please Wait while comments are loading...