Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »गर्मियों में पैराग्लाइडिंग का मजा लेना है तो पहुंचे येलागिरी

गर्मियों में पैराग्लाइडिंग का मजा लेना है तो पहुंचे येलागिरी

देखा जाए तो फॉरेस्ट एडवेंचर और फॉरेस्ट ट्रेकिंग का मजा गर्मियों के दौरान ही आता है, इस दौरान विश्व भर के ट्रैवलर्स अपने-अपने घरों से निकल कुछ नया करने की सोचते हैं। सर्दियों का मौसम जहां शरीर में सुस्ती लाता है वहीं गर्मियां शरीर में फुर्ती लाती है। इस दौरान पर्यटकों का ज्यादा घूमने-फिरने का प्लान गर्मी से राहत पाना भी है।

लेकिन उस राहत के बीच अगर कुछ अनोखा अनुभव ले लिया जाए तो मजा दुगना हो जाता है। 'नेटिव प्लानेट' के इस खास लेख में जानिए दक्षिण भारत के उस खास गंतव्य के बारे में जो चिलचिलाती गर्मी से राहत तो देगा ही साथ में आपको विभिन्न समर एडवेंचर का अनुभव लेने में मदद भी करेगा।

येलागिरी की पहाड़ियां

येलागिरी की पहाड़ियां

हम बात कर रहे हैं दक्षिण भारत के खूबसूरत येलागिरी हिल स्टेशन की जो तमिलनाडु के वेल्लोर में स्थित हैं। येलागिरी राज्य के सबसे शानदार पर्वतीय गंतव्यों में गिना जाता है, जहां का प्लान आप इन गर्मियों के दौरान कर सकते हैं।

येलागिरी समुद्र तल से लगभग 1116.6 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और लगभग 30 किमी के क्षेत्र में फैला है। यह हिल स्टेशन खूबसूरत बागों, गुलाब के बगीचों और हरी भरी घाटियों से घिरा एक आकर्षक पर्यटन गंतव्य है। आगे जानिए यह हिल स्टेशन आपके लिए कितना खास है।

अजमेर : यहां मौजूद है ठेठ राजपूती किला, नहीं पड़ा मुगलिया प्रभावअजमेर : यहां मौजूद है ठेठ राजपूती किला, नहीं पड़ा मुगलिया प्रभाव

जानें संक्षिप्त इतिहास

जानें संक्षिप्त इतिहास

PC- Ashwin Kumar

येलागिरी एक छोटा सा पर्वतीय गंतव्य है, जो तमिलनाडु के वान्याबाड़ी और जोलारपेटाई शहरों के बीच स्थित है। इस हिल स्टेशन का अस्तित्व भारत में ब्रिटिश शासन से जुड़ा है। यह पूरा क्षेत्र कभी येलागिरी के जमींदार परिवारों का अपना निजी क्षेत्र हुआ करता था, लेकिन जल्द ही पूरा इलाका भारत सरकार के अंतर्गत आ गया।

रहस्य : अतबक क्यों सबसे छुपी रहीं पीतलखोरा की गुफाएंरहस्य : अतबक क्यों सबसे छुपी रहीं पीतलखोरा की गुफाएं

ट्रेकिंग का अनोखा अनुभव

ट्रेकिंग का अनोखा अनुभव

येलागिरी के जंगल एडवेंचर की लिए जाने जाते हैं, जहां ज्यादात ट्रेवलर्स गर्मियों के दौरान ही ट्रेंकिग का रोमांचक आनंद लेने के लिए आते हैं। यहां की हरी-भरी घाटियां हर तरह के रोमांच प्रेमियों का स्वागत करती हैं। शहरी से दूर यह पहाड़ी इलाका पूर्ण रूप से प्रदूषणरहित है, जिसकी वजह से येलागिरी खास मानी जाती है।

फॉरेस्ट ट्रेंकिग के दौरान हरी-भरी घाटियां, गुलाब के बागों से होकर गुजरना पड़ता है, जो इस सफर को रोमांचक बनाने के साथ-साथ काफी खूबसूरत भी बनाते हैं।

सुंदरवन की सैर के दौरान इन लग्जरी रिजॉर्ट्स का लें आनंदसुंदरवन की सैर के दौरान इन लग्जरी रिजॉर्ट्स का लें आनंद

पैराग्‍लाइडिंग का रोमांचक आनंद

पैराग्‍लाइडिंग का रोमांचक आनंद


येलागिरी हिल स्टेशन सिर्फ ट्रेकिंग के लिए ही नहीं बल्कि पैराग्‍लाइडिंग के रोमांचक अनुभव के लिए भी जाना जाता है। यहां आपको कई एडवेंचर क्लब मिल जाएंगे जिनकी मदद से आप पैराग्लाइंडिग का आनंद ले सकते हैं। ये एडवेंचर क्लब निर्धारित ऊंचाई (450 से लेकर 600 मीटर) पर पैराग्‍लाइडिंग करवाते हैं।

येलागिरी में पैराग्‍लाइडिंग को बढ़ावा देने के लिए यहां अंतरराष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग उत्सव भी मनाया जाता है। जिसमें बहुत से सैलानी-एडवेंचर प्रेमी हिस्सा लेने के लिए आते हैं।

सुंदरवन की सैर के दौरान इन लग्जरी रिजॉर्ट्स का लें आनंदसुंदरवन की सैर के दौरान इन लग्जरी रिजॉर्ट्स का लें आनंद

कैसे करें प्रवेश

कैसे करें प्रवेश

PC- Ashwin Kumar

येलागिरी आप तीनों मार्गों से पहुंच सकते हैं। यहां का नजदीकी रेलवे स्टेशन जोलारपेटाई है। हवाई मार्ग के लिए आपको बैंगलोर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का सहारा लेना पड़ेगा। आप चाहें तो यहां सड़क मार्ग से भी पहुंच सकते हैं। वेल्लोर राज्य के बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

अहमदाबाद की प्रेतवाधित गलियां, दिन में भी नहीं भकटता कोईअहमदाबाद की प्रेतवाधित गलियां, दिन में भी नहीं भकटता कोई

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X