Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »चाय के बागान ही नहीं असम की झीलें भी हैं खास

चाय के बागान ही नहीं असम की झीलें भी हैं खास

By Goldi

क्या आपको लगता है कि, पूर्वोत्तर राज्य असम सिर्फ अपने हरे भरे चाय के बगान और सदाबहार जंगलों के लिए ही प्रसिद्ध है? तो आप गलत है, जी हां, असम में चाय के बगान और जंगलों के अलावा कई खूबसूरत झीलें है, जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। तो क्यों ना इस चिलचिलाती गर्मी से निजात पाने के लिए असम की खूबसूरत झीलों की सैर की जाये

 हाफलांग झील

हाफलांग झील

हाफलांग हाफलांग

चंदूबी झील

चंदूबी झील

वर्ष 1897 में भूकम्प से निर्मित चंदूबी झील पूर्वोत्तर भारत में लोकप्रिय झीलों में से एक है। गारो घाटी पर स्थित यह झील अब एक पिकनिक स्थल में परवर्तित हो चुका है। अपनी असम की ट्रिप के दौरान इस जगह की सैर करना कतई ना भूलें।Pc: Psihrishi

दिघालीपुखुरी

दिघालीपुखुरी

दिघालीपुखुरी एक आयताकार रूप में एक मानव निर्मित झील है जिसे अहिम वंश के शासनकाल के दौरान जल को नौसेना यार्ड के रूप में इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया था। हालांकि, अहोम साम्राज्य के पतन के बाद, झील अब एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल में तब्दील हो चुकी है। आज, यह असम में सबसे खूबसूरत झीलों में से एक है, जो रंगीन बागानों और समृद्ध वनस्पतियों से समर्द्ध है। यहां, आप झील के चारों ओर शांत पानी और ठंडी हवा के बीच में अपना समय व्यतीत करने वाले बहुत से लोगों को देख सकते हैं।Pc:Tridib Sarma

सोन बील

सोन बील

हॉलिडे डेस्टिनेशन हॉलिडे डेस्टिनेशन

डीपोर बिल

डीपोर बिल

बारह गांव के बीच स्थित डीपोर बिल एक मीठे पानी की झील है । असम के कामरूप जिले में गुवाहाटी से 13 किमी की दूरी पर स्थित यह झील वनस्पति और जीव में समृद्ध है,हरी भरी पहाड़ी से घिरी होने के कारणऔर भी खूबसूरत और मनोरम नजारे प्रदान करती है। इस झील में आप मछुयारों को मछली को पकड़ते हुए देख सकते हैं।

सिर्फ पांच हजार में घूमें उत्तर भारत की ये ख़ास जगहेंसिर्फ पांच हजार में घूमें उत्तर भारत की ये ख़ास जगहें

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X