• Follow NativePlanet
Share
» »उत्तराखंड के बेस्ट पक्षी अभयारण्य

उत्तराखंड के बेस्ट पक्षी अभयारण्य

Written By: Goldi

जंगल में अकेले चहलकदमी करते हुए, पेड़ो की सरसराहट, और दूर पेड़ पर अठखेली करती हुई गिलेरियां को देखना मन को काफी भाता है। जंगल में घूमते हुए पक्षियों को देखना भी एक अलग अनुभव होता है,खास कर कि उनके लिए,जिन्हें पक्षी देखना पसंद होता है।

अगर आप एक फोटोग्राफर हैं, और आपको अपने कैमरे में तरह तरह के रंग बिरंगे पक्षी उतारने का शौक है , तो देव भूमि उत्तराखंड आपके लिए एक दम परफेक्ट जगह है, यहां आप कई विभिन्न प्रजाति के पक्षियों को निहार सकते हैं।

उत्तराखंड की विशाल पहाड़ियां कई खूबसूरत पक्षियों को घरौंदा प्रदान करती हैं। बढ़ते शहरीकरण के बावजूद उतराखंड आज भी प्रकृति के बेहद करीब है। जिसके चलते यहां वन्य जीव अच्छे से रह पा रहे हैं।

देवभूमि उत्तराखंड की खूबसूरत जगहें

इतना ही नहीं आप उत्तराखंड में पक्षियों की 1500 प्रकार की प्रजाति में से 50% प्रजाति को उत्तराखंड में देख सकते हैं। तो आइये इसी क्रम में जानते हैं उत्तराखंड में स्थित कुछ बेहद ही खूबसूरत पक्षी अभयारण्य के बारे में

राजाजी नेशनल पार्क

राजाजी नेशनल पार्क

राजाजी राष्ट्रीय पार्क ऋषिकेश से 6 किमी की दूरी पर स्थित है और 820.42 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला है। सन् 1983 में स्थापित यह पार्क मोतीचूर अभ्यारण, चिल्ला अभ्यारण्य और राजाजी अभ्यारण्य नामक अभ्यारण्यों से मिलकर बना है। इस पार्क का नाम प्रसिद्ध स्वतन्त्रता सेनानी और राजनेता श्री राजगोपालाचारी के नाम पर रखा गया है। भारत के प्रमुख वन्यजीव अभ्यारण्यों में गिना जाना वाला यह पार्क पक्षियों की 315 प्रजातियों का घर है।

इस नेशनल पार्क में आप करीबन 400 प्रकार के पक्षियों को देख सकते हैं,जैसे बड़ी बतख,कठफोड़वा, हॉर्नबिल, ब्लैक बेल्इड टर्न, पल्लास फिजिक ईगल, उत्तरी गोशाक, ब्लैक-गर्क्ड स्टॉर्क, पीले-बिल नीली मैग्पी, स्केलेबल थ्रश और स्काई-ब्रश फ्लाईकैचर, जैसे नाम शामिल है।

Pc:Achat1999

सोना वाइल्ड लाइफ सेंचुरी

सोना वाइल्ड लाइफ सेंचुरी

शिवालिक की पहाड़ियों में सोना नाडी वन्यजीव अभयारण्य पौड़ी गढ़वाल के कोटद्वार में स्थित है। यह वाइल्ड सेंचुरी कॉर्बेट नेशनल पार्क का एक हिस्सा है। इस वाइल्डलाइफ सेंचुरी में स्थित नदी, जिसे सोने की नदी भी कहा जाता है, यह नदी यहां आने वाले पक्षियों को अपनी और आकर्षित करती है। पर्यटक इस सेंचुरी में अस्थायी बाज़-ईगल, हिमालय दाढ़ी गिद्ध और पन्ना कस्तूरी आदि पक्षियों को देख सकते हैं।Pc:Koshy Koshy

डोडिताल लेक

डोडिताल लेक

डोडिताल लेक ट्रैकिंग के लिए लिए जाना जाता है , लेकिन क्या आप जानते हैं, कि यह खूबसूरत झील दुनिया भर के खूबसूरत पक्षियों को भी अपनी ओर आकर्षित करती है।

जी हां इस झील की ट्रैकिंग के दौरान आप यहां पक्षियों की विलुप्त प्रजातियों को देख सकते हैं। आप यहां मिस्र के गिद्ध, कबूतर, भूरे रंग के उल्लू, खिसकदार जंगली ब्रेनलर, सुनहरा झाड़ी रॉबिन और रोजफिंच आदि देख सकते हैं..Pc: Nikhilchandra81

मुनस्यारी

मुनस्यारी

मुनस्यारी,पिथौरागढ़ में स्थित उत्तराखंड का का खूबसूरत स्थान है,जो आज भी पर्यटकों की नजर से दूर है। अगर आप पक्षियों को करीब से निहारना चाहते हैं तो ये जगह आपके लिए परफेक्ट साबित हो सकती है।
पंचचुली रेंज और मुनस्यारी के जंगल पक्षियों के लिए एक परफेक्ट जगह है, जहां बह सुकून और प्रकृति के बीच आराम कर सकते हैं। इस जगह आप पक्षियों की कई विभिन्न प्रजातियों को निहार सकते हैं।Pc:Ramwik

पंगोट

पंगोट

नैनीताल से 15 किमी की दूरी पर स्थित पंगोट, एक छोटा गाँव है। इस गाँव की ओर जाने वाली सड़क से गुज़रते हुए यात्री नैना पीक, स्नो-पीक और किलबरी का नज़ारा कर सकते हैं। यह पक्षी प्रेमियों के स्वर्ग के रूप में प्रसिद्ध है क्योंकि लगभग 150 पक्षी प्रजातियाँ यहाँ वास करती हैं। आमतौर पर यहाँ देखे जाने वाले पक्षियों में ग्रिफॉन, रयुफस बेली वुड-पैकर (कठफोड़वा), नीले पंख वाले मिनला, धब्बेदार और स्लेटी फोर्कटेल, लैमरगेयर्स, रयुफस बेली निलतावास और खलीज़ तीतर शामिल हैं।Pc: Rohit 2k59

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स