• Follow NativePlanet
Share
» »पश्चिम बंगाल शाही और समर्द्ध इतिहास को बयां करते हैं यहां के खास महल

पश्चिम बंगाल शाही और समर्द्ध इतिहास को बयां करते हैं यहां के खास महल

Written By:

भारत का इतिहास, प्राचीन शाही महलों, प्राचीन किलों और मंदिरों की उपस्थिति का जिक्र किये बिना अधूरा है। मौजूदा समय में प्राचीन महल, इमारतें हमें वर्तमान में बीते हुए जमाने की किस्से कहानी बताते हैं, साथ ही इसके जरिये हम अपने देश के समर्द्ध इतिहास को जान और समझ पाते हैं।

भारत की अन्य जगहों की तरह पश्चिम बंगाल भी कई प्राचीन महलों और इमारतों का घर है, जो आज भी अपनी वैभवपूर्ण वास्तुकला से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। अगर आप पश्चिम बंगाल के समर्द्ध इतिहास को जानना चाहते हैं तो आपको इस राज्य के खास महलों की सैर अवश्य करनी चाहिए

हजारद्वारी महल

हजारद्वारी महल

जैसा कि नाम से पता चलता है, हजरदारी पैलेस में 1000 दरवाजे हैं। दिलचस्प बात यह है कि इन 1000 दरवाजों में से 900 दरवाजे झूठे (भ्रमित करने वाले) हैं,और 100 वास्तविक दरवाजे हैं। ये दरवाजे शिकारियों को भ्रमित करने और सिपाहियों को आसानी से उन्हें फंसाने में मदद करने के इरादे से बनाये गये थे। इस महल को 1829 में बनवाया गया था, भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण द्वारा सरंक्षित यह महल पर्यटकों के देखने के लिए एक खास स्‍थल है।Pc:Czarhind

कूचबिहार महल

कूचबिहार महल

कूचबिहार का प्रमुख पर्यटन स्‍थल, राजबाड़ी है जहां आकर पर्यटक यहां के प्राचीनकाल के राजाओं और महाराजाओं के राजसी ठाठ को उनकी यादों के रूप में देख सकते है। बढि़या ईटों और सफेद रंग की बनी यह इमारत वाकई में प्रेरणादायी है। इस महल में कूचबिहार के राजा निवास किया करते थे, जो कूचबिहार को योजना से बनाने के लिए जिम्‍मेदार थे। राजा के शासन के बाद, कूचबिहार को ब्रिटिश साम्राज्‍य द्वारा इस्‍तेमाल किया गया था। आज यह शहर एक संग्रहालय में परिवर्तित हो चुका है जो इस शहर की समृद्ध विरासत की गाथा बताता है।Pc:Paulsubhojit

मार्बल पैलेस

मार्बल पैलेस

उत्तरी कोलकाता में स्थित मार्बल पैलेस उन्नीसवीं शताब्दी की एक उदारवादी हवेली है। यह उन्नीसवीं सदी के कलकत्ता के सर्वश्रेष्ठ-संरक्षित और सबसे सुंदर घरों में से एक है। हवेली अपनी संगमरमर की दीवारों, फर्श और मूर्तियों के लिए प्रसिद्ध है, जिस कारण इसे मार्बल पैलेस कहा कहा जाता है। मार्बल पैलेस में कई पश्चिमी मूर्तियां, विक्टोरियन फर्नीचर और कई कलाकृतियों के टुकड़े हैं जो देश के समृद्ध कला और इतिहास को चित्रित करते हैं।Pc: flicker

झारग्राम पैलेस

झारग्राम पैलेस

झारग्राम पैलेस पश्चिम बंगाल के झारग्राम जिले में स्थित है और जोकि राज्य के सबसे खूबसूरत महलों में से एक है। इस महल की वास्तुकला इतालवी, इस्लामी और बंगाली है, जो इसे एक बहुत सुंदर और शाही भव्यता देता है।

यह 16 वीं शताब्दी का महल 16 वीं शताब्दी के दौरान सर्वेश्वर सिंह द्वारा बनाया गया था। उद्यान और सुंदर लॉन से घिरा, झारग्राम पैलेस एक खूबसूरत स्थान है।Pc:Vikramaditya Malladeb

काठगोला

काठगोला

काठगोला कोलकाता के अन्य महलों की तरह भव्य नहीं है, लेकिन यह एक ऐतिहासिक इमारत है। बताया जाता है कि यहीं प्लायासीन 1757 युद्ध से ठीक तीन दिन पहले विलियम वॉट्स और वाल्श, मीर जफ़र से मिले थे।

30 एकड़ क्षेत्र में फैली हुई यह चार मंजिला महल महल काठोला गार्डन में स्थित है, जो काठगोला में सबसे सुंदर उद्यानों में से एक है माना जाता है कि काठगोला गार्डन में काले गुलाब की खेती की जाती थी; हालांकि, अब केवल आम के पेड़ और कुछ अन्य ही बचें हैं।Pc: Jagadhatri

नसीपुर राजबाड़ी

नसीपुर राजबाड़ी

नसीपुर राजबाड़ी , जिसे नसीपुर राजबाती भी कहा जाता है, नसीपुर में एक भव्य महल हैजिसका निर्माण 19वीं शताब्दी में राजा कीर्ति चंद्र सिंह बहादुर ने कराया था। नसीपुर राजबाड़ी हजारद्वारी महल के समान है और इसे अक्सर हजारद्वारी पैलेस के लघु संस्करण के रूप में जाना जाता है। यह देवी सिंह के साथ अपने रिश्ते के कारण यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्मारक है, जो ब्रिटिश सरकार के कर संग्राहक थे।पश्चिम बंगाल का भव्य महल...जिसके द्वार है 1000

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स