• Follow NativePlanet
Share
» »मुख्य कारण: आखिर क्यों जीवन में एकबार गुजरात यात्रा है बेहद जरूरी?

मुख्य कारण: आखिर क्यों जीवन में एकबार गुजरात यात्रा है बेहद जरूरी?

Written By:

पश्चिमी भारत में बसा गुजरात, भारत के इतिहास में सांस्कृतिक और व्यापार का केंद्र माना जाता रहा है। भारत का अत्यंत महत्वपूर्ण राज्य गुजरात, कच्छ, सौराष्ट्र, काठियावाड, हालार, पांचाल, गोहिलवाड, झालावाड और गुजरात उसके प्रादेशिक सांस्कृतिक अंग हैं।

अगर इस राज्य के इतिहास पर नजर डाली जाये तो, यह करीबन 2000 वर्ष पुराना माना जाता है। पौराणिक कथायों के मुताबिक, भगवान कृष्‍ण मथुरा छोड़कर सौराष्‍ट्र के पश्चिमी तट पर जा बसे, जो द्वारका यानी प्रवेशद्वार कहलाया। बाद के वर्षो में मौर्य, गुप्त, गुर्जर प्रतिहार तथा अन्‍य अनेक राजवंशों ने इस प्रदेश पर राज किया।

पुराने समय की वास्तुकला आज भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। इसके अलावा , अगर गुजरात की जीवंत संस्कृति के बारे में बात करें तो रास और गरबा जैसे लोकप्रिय समारोह को भूलना गलत होगा। गुजरात का हर कोना अपने आप में अनूठा है अपने आप में अलग है जिसके पास आपको देने के लिए बहुत कुछ है । वर्तमान गुजरात सरकार भी अपनी तरफ से अथक प्रयास कर रही है कि राज्य के पर्यटन को बढ़ावा मिले और देश के अलवा विदेश से भी भारत घूमने आने वाले पर्यटक प्रदेश की विविधताओं के बारे में जानें। आइये जानते है कि, जीवन में एकबार गुजरात घूमना क्यों है जरूरी 

गुजरात का बेहतरीन खान-पान

गुजरात का बेहतरीन खान-पान

Pc: Dhananjai11
हर राज्य का अपना खान-पान है, अगर बात गुजराती खाने की, की जाये तो यह अन्य खानों से काफी अलग है, कहा जाये तो बेहद सरल और शाकाहारी होता है। गुजराती व्यंजन में स्वाद, प्रस्तुति और खाना पकाने की तकनीकों के बारे में काफी कुछ बताया जाता है। एक ठेठ भोजन में गेहूं के आटे या बाजरे के आटे से बनी रोतली या ब्रेड, एक शाक या सब्ज़ी का पकवान, दाल, चावल, छास का एक ग्लास और एक मिठाई होता है। गुजराती खाने की एक बेहद खास विशेषता है कि, उनमें मिठास की एक छोटी सी रंगत होती है - और इसलिये गुजराती पकवान में गुड़ या फिर हल्की चीनी का प्रयोग किया जाता है।

 अतिथि देवो भव

अतिथि देवो भव

Pc:Mahargh Shah
जब बात मेहमानों का स्वागत करने की आती है, तो गुजरातियों को कोई नहीं पछाड़ सकता है। गुजरती अपने मेहमान का स्वागत बांहे और दिल खोलकर करते हैं।

गुजरात के त्यौहार

गुजरात के त्यौहार

Pc:Hardik jadeja
जिस तरह कोलकाता दुर्गा पूजा के लिए विश्व विख्यात है, ठीक वैसे ही गुजरात की नवरात्री पूरी दुनिया में जानी जाती है। अगर आप वाकई गुजरात के त्योहारों का मजा लेना चाहते हैं, तो नवरात्र के दौरान गुजरात की यात्रा अवश्य करें। इसके अलावा गुजरात में मकर संक्रांति भी बेहद हर्षौल्लास के साथ मनाई जाती है। इस दिन पूरा आकाश सिर्फ रंग-बिरंगी पतंगों से सराबोर रहता है, और लोग अच्छे और लजीज व्यंजनों का स्वाद लेते हैं।

 प्राचीन मंदिर

प्राचीन मंदिर

Pc: Harsh4101991
गुजरात में पर्यटकों के घूमने के लिए काफी कुछ है, अगर धार्मिक पर्यटन की बात की जाये तो, यह राज्य कई प्राचीन मन्दिरों का घर है, जिनमे द्वारका सबसे प्रमुख माना जाता है। इसके अलावा पर्यटक यहां सोमनाथ मंदिर, अक्षरधाम मंदिर, महा काली मंदिर, रणछोड़दास जी मंदिर, बहुचरा माता का मंदिर, बाला हनुमान मंदिर, आदि देख और घूम सकते हैं। गुजरात के खास मंदिर

ऐतिहासिक जगहों का भंडार

ऐतिहासिक जगहों का भंडार

Pc: Sowpar
अगर आप इतिहास प्रेमी हैं, तो गुजरात अपने अंदर कई ऐतिहासिक जगहों को समेटे हुए जो आपकी प्यास को बुझा सकता है। पर्यटक गुजरात में चंपानेर, झूलती मीनार, अदालज स्टेप वैल,हड़प्पा शहर, कच्छ ,भुज आदि देख सकते हैं। इसके अलावा बीते साल ही गुजरात के खास शहर अहमदाबाद को विश्‍व धरोहर शहर घोषित किया गया है। यहां पर अनेक इंडो-मुस्लिम स्‍थाप्‍त्‍यकला की उत्‍कृष्‍ट संरचना देख सकते हैं। ये शहर गांधी जी के आज़ादी आंदोलन का केंद्र रहा है। अहमदाबाद की सड़के और इमारतें आपको इस शहर के इतिहास के बारे में बताएंगें। अहमदाबाद की कुछ शानदार जगहों में स्‍वामीनारायण मं‍दिर, साबरमती आश्रम, सिदि सईद मस्जिद आदि मशहूर हैं।

गुजराती हस्तशिल्प

गुजराती हस्तशिल्प

गुजरात वास्तव में भारत की सांस्कृतिक राजधानी है। गुजराती हस्तशिल्प आप भारत में कहीं और नहीं पा सकते हैं। यहाँ की कला एवं शिल्प का मिश्रित संयोजन सभी को अपनी तरफ आकर्षित करता रहा है। गुजरात की ये कला पिछले कई सालों से पीढ़ी-दर-पीढ़ी पोषित होती रही हैं और हजारों हस्तशिल्पकारों को रोजगार प्रदान करती हैं।

समुद्री तट

समुद्री तट

Pc: Rajesh Gangwani
अगर आप गुजरात आकर समुद्री तट देखने का विचार कर रहे हैं, तो आपको गुजरात निराश नहीं करेगा, गुजरात कई खूबसूरत समुद्री तटों का घर है, जिनमे गोपनाथ समुद्र तट, मांडवी बीच , पोरबन्दर बीच, तीथल बीच आदि मौजूद हैं, जोकि सैलानियों के बीच खासा लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है।

गोवा और मुंबई के बीच छोड़िये...घूमिये गुजरात के 5 शानदार बीच

गुजरात के खूबसूरत हिल स्टेशन

गुजरात के खूबसूरत हिल स्टेशन

Pc: ritesh169O

गुजरात कई खूबसूरत हिलस्टेशन का घर है, गुजरात कई खूबसूरत समर्द्ध पहाड़ियों का घर है, जहां आप उंचे उंचे पहाड़ों के बीच चलने वाली ठंडी हवायों को महसूस कर सकते हैं। जिनमे पहला नाम आता है सापूतारा का, सुन्दर समुद्री किनारा, सापुतारा पर्वत की तलहटी पर बसे रोमांटिक रिसॉर्ट आपकी छुट्टियों को और भी यादगार बनाती है। इसके अलावा पर्यटक विल्सन पहाड़ी और डॉन हिल्स को भी घूम सकते हैं।

रण ऑफ कच्‍छ

रण ऑफ कच्‍छ

Pc: Rahul Zota
गुजरात का सफर रण ऑफ कच्‍छ को देखे बिना अधूरा है। ये दुनिया का सबसे बड़ा सॉल्‍ट रेगिस्‍तान है। यहां पपर लगभगर 7,505 स्‍कवायर किमी की जगह पर सफेद रंग की रेत फैली हुई है। कच्‍छ आने का सही समय रण उत्‍सव है दौरान है जोकि हर साल नवंबर के महीने में आयोजित किया जाता है। इस उत्‍सव के दौरान इस जगह का माहौल कुछ अलग ही होता है।

गिर नेशनल पार्क में वन्‍यजीवों को देखें

गिर नेशनल पार्क में वन्‍यजीवों को देखें

Pc: Nikunj vasoya
देश में टाइगर्स को बिग कैट भी कहा जाता है। इस अभ्‍यारण्‍य में आप जंगल के राजा एशियाटिक शेर को भी देख सकते हैं। गिर वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य में एशियाटिक शेर अब खत्‍म होने की कगार पर हैं। ये पहले सीरिया के क्षेत्रों में पाए जाते थे लेकिन 1870 में इनका शिकार किए जाने के कारण ये प्रजाति लुप्‍त हो गई। संरक्षण प्रयासों के कारण इस प्रजाति के शेरों की संख्‍या को बढ़ाया जा सका है। कभी-कभी ये शेर अपने आप ही दीउ के तट और संरक्षण क्षेत्र में चले जाते हैं। एशियाटिक शेर के अलावा इस अभ्‍यारण्‍य में पशुओं की 40 अन्‍य प्रजातियां भी देखने को मिलती हैं जिनमें स्‍पॉट हिरण, सांबर, गैज़ेले आदि भी शामिल हैं।

चलिए चलें, भारत के 6 प्रमुख वन्य जीव राष्ट्रीय उद्यानों में सफ़ारी की सैर पर!

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Nativeplanet sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Nativeplanet website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more