Search
  • Follow NativePlanet
Share
» » शीशे जैसी साफ़ हैं, भारत की ये खूबसूरत झीलें

शीशे जैसी साफ़ हैं, भारत की ये खूबसूरत झीलें

By Namrata Shatsri

भारत में प्रचुर मात्रा में प्राकृतिक स्रोत पाए जाते हैं। भारत के हर शहर में शानदार जगहें हैं, यहां पर लद्दाख के खूबसूरत पहाड़ों से लेकर गोवा के मनोरम समुद्रतट का मज़ा लिया जा सकता है। इनमें से कुछ स्रोत का अत्‍यधिक प्रयोग किया जा चुका है तो कुछ का सही तरह से ध्‍यान नहीं रखेंगे जाने के कारण खराब हो चुकी हैं। ऐसे में बहुत जरूरी है कि आप सबसे प्राचीन जगहों को देखें और वहां कुछ समय बिताएं।

शांति के अलावा वाइल्डलाइफ और मंदिरों के लिए इस वीकेंड जाएं बैंगलोर से बीआर हिल्सशांति के अलावा वाइल्डलाइफ और मंदिरों के लिए इस वीकेंड जाएं बैंगलोर से बीआर हिल्स

अगर आपको प्रकृति की प्राचीनता को देखना है तो इस आर्टिकल के ज़रिए आज आपकी ये इच्‍छा जरूर पूरी हो जाएगी। आज हम आपको भारत में फैले 5 क्रिस्‍टल क्‍लियर जल निकायों के बारे में बता रहे हैं जिन्‍हें देखकर आप आश्‍चर्यचकित रह जाएंगें।

चंद्रताल झील , हिमाचल प्रदेश

चंद्रताल झील , हिमाचल प्रदेश

चंद्रताल झील का पानी बेहद साफ, शीतल और शांत है। इसे देखकर आप इसकी खूबसूरती को शब्‍दों में बयां नहीं कर पाएंगें। चंद्रताल का मतलब होता है चंद्रमा की झील। ये झील हिमाचल प्रदेश शानदार स्‍पीति घाटी में स्थित है।इस झील के आकार के कारण इसे ये नाम दिया गया है। ये झील अर्धचंद्र के आकार में है और यह हिमालय में 14,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। ट्रैकिंग के लिए भी चंद्रताल झील बहुत लोकप्रिय है और स्‍पीति में आप कैंप लगाकर यहां के मनोरम नज़ारों का भी लुत्‍फ उठा सकते हैं। झील से स्‍पीति का नज़ारा पर्यटकों को सबसे ज्‍यादा आकर्षित करता है।PC:Vivek Kumar Srivastava

गुरुडोंगमार झील, सिक्‍किम

गुरुडोंगमार झील, सिक्‍किम

उत्तर सिक्‍किम के लाचेन में स्थित है गुरुडोंगमार झील। ये झील दुनिया में सबसे ऊंचे स्‍थान पर स्थित झीलों में से एक है। इसकी ऊंचाई 17,000 फीट है। मान्‍यता है कि इस झील पर तिब्‍बती बुद्ध के संस्‍थापक गुरु पद्मासंभवा आए थे। इसी कारण इस झील को काफी पवित्र माना जाता है। गुरुडोंगमार झील की खूबसूरती और मनोरम दृश्‍य किसी को भी हतप्रभ कर सकते हैं। सर्दी के मौसम में इस झील का पानी जम जाता है और इस दौरान पर्वतों की परछाई झील में साफ दिखाई देती है। ये नज़ारा वाकई काफी अद्भुत होता है। गुरुडोंगमार झील घूमने का सबसे सही समय गर्मियों का है। इस दौरान यहां का मौसम ना तो ज्‍यादा ठंडा होता है और ना ही गर्म। मॉनसून के बाद भी आप यहां बर्फबारी का मज़ा ले सकते हैं।PC: StoriesofKabeera

केरल बैकवॉटर्स

केरल बैकवॉटर्स

अरग सागर के समानांतर हैं केरल के सुदर बैकवॉटर्स। केरल के ये बैकवॉटर्स ब्रैकिश लगूंस हैं जोकि 5 प्रमुख झीलों से मिलकर बना है और ये झीलें मानव निर्मित और प्राकृतिक नहरों द्वारा एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। इनके बीच में कई शहर और कस्‍बे आते हैं। इन बैकवॉटर्स के बीच में कसारगोड और कोज्किोड़े जैसे कुछ क्षेत्र आते हैं। केरल के बैकवॉटर्स का पानी बहुत साफ और चमकीला है। यहां पर आप प्रकृति के सौंदर्य का अनुभव कर सकते हैं। इन बैकवॉटर्स में हाउसबोट और क्रूज़ का मज़ा भी ने सकते हैं। ये आपके मन को शां‍ति प्रदान करती हैं।

PC: Hari Prasad Nadig

पिछोला झील, उदयपुर

पिछोला झील, उदयपुर

झीलों के शहर उदयुपर में स्थित है सुंदर पिछोला झील। ये मानव निर्मित झील है और इस झील में कई आलीशान और सुंदर महल हैं जिन्‍हें काफी व्‍यवस्थित ढंग से रखा गया है। इस झील में जग निवास और जग मंदिर दो द्वीप हैं जिन पर असख्‍ंय शानदार महल हैं। इनमें से एक हैं लेक पैलेस, गुल महल आदि।

वर्तमान समय में इन महलों को लग्‍जरी होटल में तब्‍दील कर दिया गया है। इनमें से एक है ताज और ओबेरॉय होटल। इन महलों को विशेष रूप से शादी और हनीमून डेस्टिनेशन के रूप में जाना जाता है। झील के आसपास आप कई हवेलियां भी देख सकते हैं जोकि राजस्‍थान के शाही इतिहास को बयां करती हैं।PC:Dennis Jarvi

पैंगोंन त्‍सो झील, लद्दाख

पैंगोंन त्‍सो झील, लद्दाख

लद्दाख की नीले पानी की झील पैंगोंग त्‍सो पर बॉलीवुड फिल्‍म 3 इडियट्स की शूटिंग हुई थी। इसके बाद से ही ये जगह पर्यटकों के बीच आकर्षण का केंद्र बन गई। हालांकि ये काफी शानदार झील है जिसका पानी सालभर में रग बदलता रहता है। इसका पानी नीले रंग से ग्रे हो जाता है।

14,270 फीट की ऊंचाई पर स्थित पैंगोंग झील लद्दाख, जम्‍मू और कश्‍मीर के रेगिस्‍तान में है। लद्दाख की यात्रा पैंगोंग झील को देखे बिना अधूरी मानी जाती है। यहां पर आप पक्षियों जैसे ब्राह्मणी बत्तख और सीगुल्‍स आदि देख सकते हैं। इस झील का नज़ारा और खूबसूरत आपको मंत्रमुग्‍ध कर देगी।PC:Chinchu2

तीस्‍ता नदी, सिक्किम

तीस्‍ता नदी, सिक्किम

सिक्किम में एक अन्‍य‍ साफ पानी की झील है जो आपकी आंखों को तरोताज़ा कर सकती हैं। सिक्किम की तीस्‍ता नदी पश्चिम बंगाल से होकर सिक्‍किम आती है और फिर यह बांग्‍लादेश में बहती है। यहां पर ये नदी बंगाल की खाड़ी में मिल जाती है।

सिक्‍किम में बहती इस नदी का पानी नीला है और इसके आसपास हरी-भरी घार और पर्वत श्रृंख्‍लाएं हैं। इस नज़ारे को आप अपनी पूरी जिंदगी नहीं भूल पाएंगें। इस खूबसूरत नदी में आप रिवर राफ्टिंग और बोटिंग का मज़ा भी ले सकते हैं।PC:Sayan Bhattacharjee

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X