• Follow NativePlanet
Share
» »दुनिया के इन पापों से पाना चाहते हैं मुक्ति, तो भारत में है इसका निवारण

दुनिया के इन पापों से पाना चाहते हैं मुक्ति, तो भारत में है इसका निवारण

Posted By: Namrata Shatsri

वैसे तो इंसान अपने जीवन में कई तरह के पाप करता है लेकिन कुछ चीज़ें ऐसी होती हैं जो मन को खुशी देती हैं। सभी मनुष्‍य एक समान हैं और इसलिए ये पाप कर्म हर धर्म के व्‍यक्‍ति पर लागू होते हैं। इसमें धर्म, जाति और रंग का कोई महत्‍व नहीं है। अगर आप लालच, ईर्ष्‍या, भूख, कामुकता और आलस से सराबोर रहना चाहते हैं तो देश की इन जगहों पर जा सकते हैं।

इन मार्केट्स में मिलेगा सैंटा की लाल टोपी से लेकर..यम्मी केक..और भी बहुत कुछ

स्‍वयं को इच्‍छाओं से मुक्‍ति दिलाने के लिए इन जगहों पर कुछ समय बिताना चाहिए। आज हम आपको देश की ऐसी 7 जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां इन पापों से खुद को दूर रखना असंभव है।

दिल्‍ली - भूख

दिल्‍ली - भूख

इंसान की सबसे आम जरूरत है खाना। हर किसी को जीवित रहने के लिए खाने की जरूरत होती है। इंसान की फितरत रही है कि उसे अपनी जरूरत से ज्‍यादा की चाहत होती है और ये चाहत लालच का रूप ले लेती है। लालच का अर्थ है कि आप बिना किसी बोध के खूब सारा खाना खाएं और दिल्‍ली में यही होता है। दिल्‍ली में खाने की खूब वैरायटी मिलती है और यहां आकर आप खुद को खाने से रोक नहीं पाएंगें।
PC:Puneet vivid

दीमापुर - लोभ

दीमापुर - लोभ

हम सभी महंगी चीज़ों का उपभोग करना चाहते हैं। आधुनिक युग में लोग दिखावा करने के लिए ब्रांडेड कपड़े, एसेसरीज़ आदि पहनने की इच्‍छा रखते हैं। पूर्वोत्तर भारत में नागालैंड का दीमापुर इस मामले में सबसे ज्‍यादा मशहूर है। यहां के लोग ब्रांडेड चीज़ों का कुछ ज्‍यादा ही उपभोग करते हैं। इस जगह आपको सिलेबिटी द्वारा पहनी गई हर चीज़ की कॉपी मिलेगी।

केरल - आलस

केरल - आलस

केरल एक ऐसी जगह है जहां आकर आप अपनी प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ की सारी परेशानियां भूल जाते हैं। केरल में खूबसूरत समुद्रतट, हिल स्‍टशन और भी कई चीज़ें हैं तो आपके मन को शांति और सुख देंगीं। यहां पर आयुर्वेइिक मसाज, हाउस बोट क्रूज़ और मुन्‍नार के चाय के बागानों को देख सकते हैं। केरल में आपको सब कुछ मिलेगा।

धनुषकोडि - क्रोध

धनुषकोडि - क्रोध

नकारात्‍मक शक्‍तियां का अहसास करने के लिए धनुषकोडि सबसे सही जगह है। ये खूबसूरत जगह अब खंडहर बन चुकी है। पहले धनुषकोडि में काफी लोग रहते थे लेकिन 1964 में आए रामेश्‍वरम चक्रवात ने इस जगह को पूरी तरह से तबाह कर दिया।

तमिलनाडु में स्थित धनुषकोडि बेहद खूबसूरत जगह है जो अब खंडहर बन चुकी है। इस जगह के किनारे समुद्रतट भी है। दुनियाभर के फोटोग्राफर यहां की शानदार तस्‍वीरें लेने आते हैं। ईश्‍वर के क्रोध ने इस खूबसूरत जगह को तबाह कर दिया है।

उत्तराखंड - ईष्‍या

उत्तराखंड - ईष्‍या

खुद को दूसरों से बेहतर बनाने की ईष्‍या कभी खत्‍म नहीं होती। कहते हैं कि आज लोग अपने दुख से ज्‍यादा दूसरों के सुख से दुखी हैं। उत्तराखंड की पहाडियां भी ईष्‍या का ही प्रतीक हैं। ये देखने में तो आसान लगती हैं लेकिन इन पर चढ़ाई करना बहुत मुश्किल होता है। अगर आप इसे पार कर लेते हैं तो दूसरों को अवश्‍य ही आपसे ईष्‍या हो जाएगी।PC:Wikimol

जोधपुर - गर्व

जोधपुर - गर्व

गर्व का सीधा संबंध रॉयल्‍टी से है। राजस्‍थान के अलावा ऐसी कोई जगह नहीं है जहां आप खुद को राजा या रानी जैसा समझ सकते हैं। जोधपुर में इसके लिए कई विकल्‍प हैं। जोधपुर के कई किलों और महलों को शाही होटल में तब्‍दील कर दिया गया है। यहां पर आप गर्व के साथ किसी राजा या रानी की तरह रह सकते हैं।

गोवा - काम वासना

गोवा - काम वासना

सभी तरह की लालसाओं में सबसे ऊपर काम वासना का नाम आता है। गोवा को देश की पार्टी कैपिटल कहा जाता है। यहां आपको नशा भी मिलेगा और शबाब भी। गोवा की हर रात कुछ अनोखी होती है। खुशी और नशे में डूबे लोग यहां हर वक्‍त किसी ना किसी के प्रति आकर्षित होते हैं। गोवा जैसी जगह पर आप अपनी काम वासना को शांत कर सकते हैं। यहां रातभर पार्टियां चलती हैं और यहां के नाइटक्‍लब भी पूरी रात खुले रहते हैं।

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स