Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »भुलकर भी गंगा आरती के दौरान ना करें ये काम, सारा मजा हो सकता किरकिरा

भुलकर भी गंगा आरती के दौरान ना करें ये काम, सारा मजा हो सकता किरकिरा

By Goldi

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी वाराणसी भारत का एक बेहद ही प्रमुख पर्यटन स्थल है। वाराणसी काशी के नाम से भी पर्यटकों के बीच जानी जाती है। भारत के सात प्रमुख तीर्थस्थलों में से एक होने की वजह से, साल के हर दिन शहर में पर्यटकों और सैलानियों की भीड़ इस दिव्य भूमि की अद्भुत आभा के अनुभव करने के लिए उमड़ती है। यह भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों के स्थानों में से भी एक जगह है।

वाराणसी में पर्यटकों के घूमने लिए कई मंदिर और घाट आदि मौजूद है, इसी के अलावा यहां की गंगा आरती भी पर्यटकों के बीच खासा लोकप्रिय है, जिसक हर पर्यटक और श्रद्धालु हिस्सा बनता है।

कैसे की जाती है गंगा आरती?

गंगा आरती का आयोजन गंगा नदी के घाट पर आयोजित होती है..आरती के दौरान एक दिया जलाया जाता है..जिसे वहां का पंडित नदी के सामने गोल गोल घुमाता है..इस दौरान ढोल नगाड़े भी बजाये जाते हैं.. आरती खत्म होने के बाद भक्त आरती लेते हैं और आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। ह आरती करीबन 40 मिनट अवधि की होती है, जो एक बेहद समां बांधती हैं। भव्य गंगा आरती का साक्षी बनने सात समंदर पार से पर्यटकों का हुजूम बनारस के इन घाटों पर उमड़ता है। भव्य गंगा आरती का साक्षी बनने सात समंदर पार से पर्यटकों का हुजूम बनारस के इन घाटों पर उमड़ता है।

वाराणसी की यात्रा करते हुए आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए-

आरती से पहले ही अपना जगह पर बैठ जायें

आरती से पहले ही अपना जगह पर बैठ जायें

Pc: Arian Zwegers

वाराणसी की आरती वाराणसी यात्रा का एक प्रमुख आकर्षण है, जिसे कोई भी मिस करना पसंद नहीं करता है। अगर आप एन मौके पर आरती का हिस्सा बनने की सोचेंगे तो, आप धक्का मुक्की का शिकार हो सकते हैं, बेहतर होगा आरती का आनन्द उठाने के लिए आप गंगा घाट पर शाम 5 से 6:30 बजे के बीच अपना स्थान गृहण कर लें। आप जल्दी जाकर अपनी सीट पा सकते है, और इस बीच आप घाट पर हो रही आरती की तैयारियों को भी देख सकते हैं।

बोटिंग का मजा लें

बोटिंग का मजा लें

Pc:Rudolph.A.furtado

अगर आप घाट पर जल्दी नही जा सकते हैं, या फिर धक्का मुक्की के बीच नहीं बैठना चाहते हैं, तो बेहतर होगा, की आप एक नाव किराए पर लें और आरती के समय बोटिंग का मजा लेते हुए गंगा आरती का आनन्द उठायें। आप यहां एक नाव को महज 500 रूपये या उससे कम में 2-3 घंटे के लिए किराये पर ले सकते हैं। ऐसे में गंगा में बोटिंग का मजा लेते हुए गंगा आरती को अच्छे से एन्जॉय कर सकेंगे।

 वीकेंड में जाने से बचें

वीकेंड में जाने से बचें

Pc: Arian Zwegers

सप्ताह में आखिर में घाटों पर श्र्धालुयों की ज्यादा भीड़ देखने को मिलती है, ऐसे में बेहतर की, आप वीकेंड्स में आप वाराणसी की आरती को मिस करें, ज्यादा भीड़ के चलते अक्सर धक्का मुक्की हो जाती है, जिसे लोग चोट का शिकार हो जाते हैं।

रूफ टॉप कैफे से ले आरती का नजारे

रूफ टॉप कैफे से ले आरती का नजारे

अगर आप किसी कारणवश गंगा घाट नहीं जा सके, तो आप गंगा घाट के निकट ही स्थित किसी रूफटॉप रेस्तरां में चाय की चुस्कियों के साथ भव्य गंगा आरती का का लुत्फ उठा सकते हैं। इसके अलावा आप यहां 50-100 रूपये देकर भी रूफ टॉप से भी आरती को देख सकते हैं।

भारत के टॉप 6 धनी मंदिर, जो देते हैं टाटा, बिड़ला और अंबानी को दौलत में मात

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X