• Follow NativePlanet
Share
» »पर्यटकों के लिए तरसता राजस्थान का खूबसूरत और अनसुना जल महल

पर्यटकों के लिए तरसता राजस्थान का खूबसूरत और अनसुना जल महल

Written By: Goldi

उत्तर भारत में स्थित राजस्थान एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है..जोकि अपने भव्य महल और किलों की उत्कृष्टता और वास्तुकला के लिए जाना जाते हैं। इन्ही में से एक है डीग महल,जोकि भरतपुर में स्थित है। यह महल राजस्थानी और मुगल कला का एक बेहतरीन उदहारण है। डिग महल डिग में स्थित है, जो कभी दीर्घापुर के नाम से जाना जाता था। स्ंकद पुराण में भी 'दीर्घ' या 'दीर्घापुर' के रूप में उल्लेख किया गया है। यह हर साल तीन दिनों के लिए सितम्बर माह में मेले का आयोजन किया जाता है।

अगर इतिहास में है दिलचस्पी तो सैर करें भारत की 500 साल पुरानी ऐतिहासिक इमारतों की

इतिहास 
डीग को भरतपुर राज्य की पहली राजधानी राजा ठाकुर बदन सिंह ने बनाया था। कभी भरतपुर के शासकों का ग्रीष्मकालीन आवास रहे, डीग ने क्षेत्र की भरतपुर राज्य की दूसरी राजधानी बनने की भूमिका निभाई है। हालांकि बाद में इस जगह को बदन सिंह के बेटे ने फिर दुबारा बनवाया। आगरा के नजदीक होने के कारण डिग हमेशा मुगलों के डर में रहा..जिसके लिए सूरज सिंह ने अपने दुश्मनों से बचने के लिए डिग महल का निर्माण कराया।

डिग महल से जुड़ा तथ्य

डिग महल से जुड़ा तथ्य

डिग महल भारत का एक खूबसूरत जल महल है..जोकि गोपाल सागर झील से घिरा हुआ है। बताया जाता है कि, इसका निर्माण दुश्मनों से बचने के लिए कराया गया था। डीग के महलों में चतुष्कोण बनाते हुए बीच में एक बगीचा है जोकि चारबाग शैली में बना हुआ। इसमें फव्वारे लगे हुए हैं और यह महल अपने फव्वारे के लिए प्रसिद्ध है जो आज भी वर्ष में दो बार संचालित किये जाते है।PC: LRBurdak

सिंह पोल

सिंह पोल

यह महल परिसर का मुख्य द्वार है,इस द्वार को सिंह पोल इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसके तोरणद्वार के सामने दो शेर की मूर्तियां स्थित हैं। यह एक अपूर्ण सरंचना है।किले का केंद्रीय बुर्ज एक बुलंद ऊंचाई पर स्थित है, जिसके चारों ओर एक संकरी नहर है। एक 8 किमी. लंबी दीवार इस किले की सीमा बनाती है।PC: Vu2sga

किले में हैं 12 बुर्ज

किले में हैं 12 बुर्ज

इस किले में 12 बुर्ज हैं जिसमें लाखा बुर्ज सबसे बड़ा है। लाखा बुर्ज किले के उत्तरी पश्चिमी कोने में स्थित है।PC:LRBurdak

गोपाल भवन

गोपाल भवन

गोपाल भवन सभी महलों में सर्वाधिक विशाल है। यह तीनों और से दुमंजिला है और बीच में विशाल सभा भवन है। गोपाल भवन से थोडी दूर दो छोटी इमारतें हैं जो सावन-भादों भवन के नाम से जानी जाती हैं। चतुष्कोण के दक्षिण की और उत्तर की तरफ मुंह किये दो महल हैंः पश्चिम में मकराना के संगमरमर से बना सूरज भवन और पूर्व में भूरे बलुआ पत्थर से बना किशन भवन है। इन दोनों महलों के बीच इस मजबूत इमारत की छत पर एक टंकी है जो इन सभी महलों व बगीचों में जल प्रवाह करती है।PC:Raj Gopal Singh Verma

सूरजमल हवेली

सूरजमल हवेली

बंगालदार स्थापत्य शैली में बनी हुई सूरजमल हवेली किले का एक महत्वपूर्ण भाग है। किले में एक उद्यान है जो उद्यानों की पारसी शैली "चारबाग" शैली में बना हुआ है। इस किले का आंतरिक भाग अब अवशेष मात्र है। डीग महल डीग किले के बगल में स्थित है।

भरतपुर में पर्यटक और क्या देखें

भरतपुर में पर्यटक और क्या देखें

भरतपुर बर्ड सेंचुरी (केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान ),सरकारी म्यूजियम.बांकेबिहारी मंदिर,गंगा महारानी मंदिर आदि देख सकते हैं ।

भरतपुर बर्ड सेंचुरी भारत की प्रसिद्ध बर्ड सेंचुरिज मे से एक है। प्रतिवर्ष बड़ी संख्या में पर्यटक इस लोकप्रिय राष्ट्रीय उद्यान की सैर करने के लिए आते हैं। वर्तमान में इस पार्क में कछुओं की 7 किस्में, मछलियों की 50 किस्में और उभयचरों की 5 किस्में पाई जाती हैं। इसके अलावा यह उद्यान पक्षियों की लगभग 375 किस्मों का प्राकृतिक आवास है। मानसून के मौसम के दौरान देश के प्रत्येक भागों से पक्षियों के झुंड यहाँ आते हैं।

PC: Nikhilchandra81

घूमने का उचित समय

घूमने का उचित समय

अक्टूबर से जनवरी के बीच भरतपुर की सैर की जा सकती है।PC:LRBurdak

 कैसे पहुंचे भरतपुर

कैसे पहुंचे भरतपुर

भरतपुर का नजदीकी एयरपोर्ट दिल्ली आगरा एवम जयपुर है। एयरपोर्ट से पर्यटक आसानी से टैक्सी द्वारा डिग महल भरतपुर बर्ड सेंचुरी पहुंच सकते हैं।

रेल / ट्रेन द्वारा नियमित रेल सेवाएं भरतपुर को दिल्ली, मुंबई, जयपुर और आगरा जैसे सभी प्रमुख शहरों से जोड़ती हैं।

सड़क द्वारा सड़कों का एक उत्कृष्ट नेटवर्क भरतपुर को राजस्थान के सभी प्रमुख शहरों और दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा जैसे पड़ोसी राज्यों से जोड़ता है। भरतपुर की निम्न शहरों से दूरी भरतपुर-
आगरा (56 किलोमीटर, 5 घंटे),
भरतपुर-दिल्ली (184 किलोमीटर, 6 घंटे)
भरतपुर-जयपुर (176 किलोमीटर, 6 घंटे)

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स