» »कोलकाता वासी अब दीघा बीच नहीं बल्कि इस बीच पर मनाएं अपना नया साल

कोलकाता वासी अब दीघा बीच नहीं बल्कि इस बीच पर मनाएं अपना नया साल

Written By: Goldi

जब भी हम कोलकाता के पास स्थित समुद्री तटों के बारे में सोचते हैं, तो दिमाग में सिर्फ दीघा बीच आता है, दीघा बीच कोलकाता वासियों के लिए एक परफेक्ट वीकेंड गेटवे हैं। बदलते समय के चलते अब यह समुद्री तट पर्यटकों की भीड़ से पटा रहता है, साथ ही बढ़ते शहरीकरण के चलते यह बीच अब अपना पुरानी चमक खोता जा रहा है।

इसी क्रम में हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जो शहरीकरण और गाड़ियों के शोर शराबे से दूर हैं, जहां आप केकड़ों को रेत पर रेंगते हुए देख सकते हैं..दरअसल हम बात कर रहे हैं, बांकीपत बीच, जोकि एक बेहद ही खूबसूरत समुद्री तट है यह घने कैसौआरीन पेड़ों से घिरा हुआ है।

कोलकाता के समीप ही स्थित 4 आकर्षक बीच!

यह एक बेहद ही खूबसूरत बीच है, यहां की लहरे रेत को चूमती हुई प्रतीत होती है, यहां की शांति में केवल समुद्र की लहरें ही खलल डालती हैं। अगर आप दीघा में पर्यटकों की भीड़भाड़ की जगह किसी शांति की जगह जाना चाहते हैं, तो बांकीपत आपके लिए एक परफेक्ट आप्शन साबित हो सकता है।

एक साथ 2500 मोरों को नाचते हुए देखना है..तो जरुर जाएँ मोराची चिंचोली

तो अब काम से ब्रेक लीजिये और निकल पड़िए..समुद्री तट पर सूरज को डूबते और उगते हुए देखने के अलावा यहां कई और भी खूबसूरत जगहें हैं, जिन्हें आप देख सकते हैं।

दरियापुर लाइटहाउस

दरियापुर लाइटहाउस

दरियापुर लाइटहाउस इस समुद्र तट के प्रमुख आकर्षणों में से एक है। 96 फीट की ऊंचाइयों को स्केलिंग करना, यह लाइटहाउस पूरी तरह कार्यात्मक है और आगंतुकों के लिए शाम को 3:00 बजे रोज़ाना खोला जाता है। यहां पर्यटक को प्रकाशस्तंभ को ऊपर जाने का मौका मिलता है, जहां से पर्यटक समुद्र और इसके आस-पास के क्षेत्रों के विशाल दृश्यों को देख सकते हैं।Pc:Biswarup Ganguly

कपलकंदला मंदिर

कपलकंदला मंदिर

समुद्र तट शहर से 7 किमी की दूरी पर स्थित, कपलकंदला एक प्राचीन मंदिर है, जिसका नाम बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय द्वारा लिखित उपन्यास में भी शामिल है। देवी काली को समर्पित,इस मंदिर में हर साल बंगाली कैलेंडर के चेत्र के महीने में एक वार्षिक मेला आयोजित किया जाता है, जिसमे पश्चिम बंगाल, ओडिशा और बिहार के विभिन्न हिस्सों से श्रद्धालु हिस्सा लेने पहुंचते हैं।Pc:Biswarup Ganguly

पेथुआघाट हार्बर

पेथुआघाट हार्बर

बंगाल की खाड़ी के तट, पेथुआघाट हार्बर या देशपहर मछली पकड़ने के लिए हार्बर के किनारे स्थित सबसे खूबसूरत बंदरगाहों में से एक है, जोकि रसूलपुर नदी और बंगाल की खाड़ी के बिंदु पर स्थित है। अगर आपने अभी तक मछुआरों को मछली पकड़ते हुए नहीं देखा हैं, आप इस हार्बर पर मछली पकड़ते हुए देख सकते हैं।Pc:Nayeem siddiquee

उगते हुए सूरज को देखें

उगते हुए सूरज को देखें

अगर आप समुद्री तट पर हैं, तो वहां उगते हुए सूरज को जरुर देखे..यहां उगता हुआ और सूरज और डूबता हुआ सूरज बेहद ही खूबसूरत नजर आता है।Pc:StockSnap

बीच के आसपास घूमे

बीच के आसपास घूमे

यह बीच बेहद ही शांत और निर्जन है,इसलिए आप यहां बीच के किनारे पानी की लहरों के बीच पार्टनर का हाथ पकड़कर या फिर अकेले ही बीच का एक चक्कर जरुर लगायें।Pc:Unknown

कब जायें

कब जायें

आप इस समुद्री तट पर पूरे साल में कभी भी जा सकते हैं...किसी भी मौसम में इसकी खूबसूरती कभी कम नहीं होती है..हालांकि सर्दियों के दौरान हल्की धूप के बीच समुंद्र की लहरों को को अच्छे से एन्जॉय कर सकते हैं।Pc:Nilanjan Majumdar