» »देवभूमि उत्तराखंड की खूबसूरत जगहें

देवभूमि उत्तराखंड की खूबसूरत जगहें

By: Namrata Shatsri

देवभूमि के नाम से विख्यात उत्तराखंड में अनगिनत मंदिर है।इस जगह चार धाम स्थित हैं जिनमें केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री शामिल हैं। हिंदू धर्म में इससे बड़ी तीर्थयात्रा कोई नहीं है। इसी वजह से उत्तराखंड राज्‍य को देवभूमि यानि देवताओं की भूमि कहा जाता है। इसके अलावा यहां हिमालय के शानदार पहाड़ों में ठंडी नदियां, झरने और घास के मैदान भी देखे जा सकते हैं।

हरि की ओर बुलाने वाला द्वार 'हरिद्वार'

धार्मिक तीर्थस्‍थल होने के अलावा उत्तराखंड अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए भी प्रसिद्ध है। इसी वजह से यहां सालभर पर्यटकों का तांता लगा रहता है। एडवेंचर प्रेमियों से लेकर वाइल्‍ड लाइफ लवर्स तक उत्तराखंड में पर्यटकों के लिए कई सारे विकल्‍प हैं। अगर आप अपने शहर की भागदौड़ और शोरगुल भरी जिंदगी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो उत्तराखंड के प्राकृतिक सौंदर्य के बीच छुट्टियां मनाने आ सकते हैं। आइए एक नज़र डालते हैं इस राज्‍य के प्राकृ‍तिक खजाने पर।

बिनसर

बिनसर

हिमालय की चोटी में बसा छोटा सा गांव है बिनसार जोकि दुनियाभर के पर्यटकों, प्रकृति प्रेमियों और ट्रैकर्स को आकर्षित करता है। घास के मैदान, फूलों की घाटी, घने ओक, पाइन और रोडोडेंड्रन के पेड़ इस जगह को और भी ज्‍यादा खूबसूरत बनाते हैं। प्रकृति की गोद में बसा ये शांत गांव है।

चकराता

चकराता

चकराता अल्‍पाइन शहर में ओक, कोनिफर्स और रोडोडेंड्रन के घने जंगल हैं। यहां सुंदर झरने और फल के बगीचे हैं जो हर पर्यटक के लिए एक सुंदर अनुभव होता है। इस शहर में ट्रैक और एडवेंचर के लिए कई जगहें हैं जिनमें से एक खरंबा चोटी है जो 10,000 फीट ऊंचाी है। ये इस क्षेत्र की सबसे ऊंची चोटी है। हसइकर्स और पर्वत आरोहियों के लिए ये जगह बेहद रोमांचक है।

पेओरा

पेओरा

प्रसिद्ध पर्यटन स्‍थल अल्‍मोड़ा से 23 किमी दूर स्थित है पेओरा जहां आकर आपको उत्तराखंड के छिपे प्राकृतिक खजाने को देखने का मौका मिलेगा। पेओरा अछूते हिमालय की चोटियों और घने जंगलों की प्रकृति का खजाना है।ये पहाड़ी जगह किसी परी कथा से कम नहीं है। कुमाऊं पहाड़ी की घाटी में आकर आपका मन खुश हो जाएगा। ये पाइन के घने जंगलों से घिरा है। अगर आप खूबसूरत सनसैट देखना चाहते हैं तो इस शहर के पहाड़ों की ओर जाएं।PC:Rajarshi MITRA

चौकोरी

चौकोरी

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में समुद्रतट से 2010 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है चौकोरी। ये काफी खूबसूरत और शांत जगह है। यहां पर चाय के बागानों की खुशबु हर जगह फैली हुई है। चाय के बागानों के अलावा यहां घने वुडलैंड, फूलों की कई किस्‍में और फलों के बगीचे हैं। अगर आप रात में पहाड़ों को देखना चाहते हैं तो छौकोरी में आकर रात के समय तारों को चमकते हुए देख सकते हैं। इस जगह पर ज्‍यादा पर्यटन स्‍थल नहीं हैं लेकिन यहां पहाड़ी इलाकों में घूमने में आपको बहुत मज़ा आएगा।

खिरसु

खिरसु

इस खूबसूरत पहाड़ी में देवदार और सेब के बागान हैं। शहर की भागदौड़ से दूर इस जगह आकर आपके मन को शांति मिलेगी। इस जगह के शांतिमय वातावरण में आकर आपे मन, शरीर और आत्‍मा को शांति मिलेगी। इस छिपे हुए खजाने की अनछुए प्राकृतिक सौंदर्य से प्रभावित हुए बिना आप नहीं रह पाएंगें। एक आरामदायक कॉटेज के साथ-साथ पक्षियों की चहकती आवाज़ों और उगते सूरज के लुभावने विचारों से आपका मन खुश हो जाएगा।

कनाताल

कनाताल

गढ़वाल हिमालय में 8500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है कनाताल जहां आप छुट्टियां मनाने आ सकते हैं। प्रकृति प्रेमियों के लिए ये जगह बेहद खूबसूरत है। इस खूबसूरत जगह का नाम यहां पर स्थित झील के ऊपर रखा गया है। हालांकि, ये झील अब सूख चुकी है। यहां बड़ी संख्‍या में पर्यटक एडवेंचर करने के लिए भी आते हैं। अगर आप नेचर फोटोग्राफर हैं तो आपको इस जगह जरूर आना चाहिए। कनातल में कई खूबसूरत घाटी, प्राकृतिक झरने आदि देखने को मिलेंगें। यहां आप हिरण, असंख्‍य पक्षी भी देख सकते हैं।

Please Wait while comments are loading...