» »पूर्वोतर भारत का स्विट्जरलैंड -हाफलोंग

पूर्वोतर भारत का स्विट्जरलैंड -हाफलोंग

Written By: Goldi

पूर्वोत्तर भारत  में स्थित असम एक बेहद ही खूबसूरत हिस्सा है....इसी क्रम में आज मै आपको बताने जा रहीं हूं असम स्थित एकमात्र हिल स्टेशन हाफलोंग के बारे में।यह एक सुंदर हिल स्टेशन है जहां से पूरा इंद्रधनुष देख सकते हैं। प्रवासी पक्षियों की सामूहिक आत्महत्या की विचित्र घटना के लिए जाना जाने वाला जतिंगा हाफलोंग से मात्र 9 किमी दूर है।

हाफलोंग की प्राकृतिक सुन्दरता आपको अपना दीवाना बना देगी। बता दें इसे पूर्वोतर भारत का स्विट्जरलैंड भी कहा जाता है।भले ही हाफलांग में बर्फ से ढंकी चोटियां न हों, पर खूबसूरती के लिहाज से यह स्विट्जरलैंड से कम नहीं है। बारक घाटी के पास स्थित यह जगह उत्तर कछर जिला का जिला मुख्यालय है। हाफलांग पर्यटन हमेशा जीवंत रहता है, क्योंकि गर्मियों में आसपास के शहरों से लोग अक्सर यहां आते हैं।

450 तरह की चिड़ियां 400 किस्म की तितलियां और बर्फ से ढंकी चोटियां, कुछ ऐसा है सिक्किम

हाफलांग शहर समुद्र तल से 512 मीटर की ऊंचाई पर घुमावदार पर्वतों के बीच स्थित है। यह शहर ठंडा होने के साथ-साथ सुरम्य भी है। यहां के कलकल करते झरने, धाराएं और चारों ओर फैली प्रचूर हरियाली आपके दिल में एक ऐसी तस्वीर बना देगी, जिसे आसानी से भुलाया नहीं जा सकेगा। हाफलांग को 'व्हाइट एंट हिलॉक' नाम से भी जाना जाता है।

हाफलांग

हाफलांग

हाफलांग शहर समुद्र तल से 512 मीटर की ऊंचाई पर घुमावदार पर्वतों के बीच स्थित है। यह शहर ठंडा होने के साथ-साथ सुरम्य भी है। यहां के कलकल करते झरने, धाराएं और चारों ओर फैली प्रचूर हरियाली आपके दिल में एक ऐसी तस्वीर बना देगी, जिसे आसानी से भुलाया नहीं जा सकेगा। हाफलांग को ‘व्हाइट एंट हिलॉक' नाम से भी जाना जाता है।

PC:chetrikrishna

हाफलोंग झील

हाफलोंग झील

हाफलांग झील शहर के बीचों बीच स्थित है और पर्यटन की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है। यहां पहुंच कर आप बोटिंग का आनंद लेना न भूलें। बोटिंग के जरिए आप इस हिल स्टेशन और आसपास के पर्वतों का विहंगम नजारा देख सकते हैं। चूंकि यह शहर अब तक प्रदुषण मुक्त है, इसलिए साफ आसमान और कभी न खत्म होने वाले क्षितिज का भव्य नजारा देख सकते हैं।PC: Thoiba Paonam

हाफलोंग पहाड़ी

हाफलोंग पहाड़ी

अगर आप एडवेंचर से प्यार करते हैं तो हाफलोंग आपके लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है..यहां आपकर आप पैराग्लाइडिंग और ट्रेकिंग जैसी रोमांचक गतिविधियों का लुत्फ उठा सकते हैं। ट्रैकिंग के दौरान आप आसपास के पहाड़ों और हरे भरे वनों के सुंदर दृश्यों को निहार सकते हैं।

जतिंगा

जतिंगा

हाफलोंग से 9 किमी की दूरी पर स्थित पर्यटक जतिंगा को भी देख सकते हैं...बता दें यह वही जगह है, जहां सामूहिक रूक से पक्षी आत्महत्या करते हैं.... आप यहां कई प्रजातियों के पक्षियों को देख सकते हैं।

कब जाएँ

कब जाएँ

पर्यटक हाफलोंग की सैर पर कभी भी जा सकते हैं..यहां का पेफेक्ट मौसम पर्यटकों को अहर मौसम में अपनी ओर आकर्षित करता हैं।

कैसे पहुंचे

कैसे पहुंचे

असम के सबसे बड़े शहरों में से एक हाफलांग सिलचर से सिर्फ 106 किमी दूर है। सिलचर-हाफलांग सड़क अपेक्षाकृत अच्छी है और हाफलांग पहुंचने में करीब दो घंटे का समय लगता है। देश के अन्य हिस्सों से सिलचर के लिए फ्लाइट भी मिलती है।PC:Sankhyac

Please Wait while comments are loading...