• Follow NativePlanet
Share
» »नंदी हिल्स में में देखे साल का पहला उगता हुआ सूरज

नंदी हिल्स में में देखे साल का पहला उगता हुआ सूरज

Written By: Goldi

बैंगलूरवासियों के लिए नंदीहिल्स एक परफेक्ट वीकेंड गेटवे है..जोकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से बेहद नजदीक स्थित है। बदलते समय के साथ अज भी यह जगह पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं, पर्यटक यहां मन मोहने वाले दृश्यों के अलावा ,मंदिर आदि भी देख सकते हैं।

शिमला-कुफरी के बीच छुपा हिमाचल का खूबसूरत पर्यटन स्थल-फागू

नंदी हिल्स बैंगलोर से करीबन 60 किमी की दूरी पर स्थित है, जहां पर्यटक सुबह जल्दी जाकर उगते हुए सूरज की दिल को हर्षित कर देने वाली किरणों को देख सकते हैं। इसके अलावा यहां एक चोटी भी है,जहां आप ट्रेक करते हुए ऊपर जा सकते हैं, इसके अलावा आप यहां पहाड़ियों पर साइकलिंग का भी मजा लिया जा सकते हैं..जिसके लिए आप ऑनलाइन भी रजिस्टर कर सकते हैं।

बैंगलोर से नंदी-हिल्स की दूरी

बैंगलोर से नंदी-हिल्स की दूरी

नंदी हिल बैंगलोर से करीबन 60-61 किमी की दूरी पर है..यहां पहुँचने में करीबन एक से डेढ़ घंटे का समय लगता है।Pc:Sean Ellis

प्रवेश द्वार

प्रवेश द्वार

एक विशाल आर्चवे है जिसके माध्यम से आप इस खूबसूरत नंदी हिल्स में प्रवेश पा सकते हैं,इस द्वार पर आप निशुल्क जा सकते हैं।

चढ़ाई

चढ़ाई

अगर आप ऊपर जाना चाहते हैं, सीढियों के जरिये आप ऊपर जा सकते हैं...जहां से आप दूर दूर तक फैली हुई हरियाली को निहार सकते हैं।Pc:Rambled musings

सूर्योदय

सूर्योदय

यहां आने का सबसे अच्छा समय सुबह का है, जहां आप उगते हुए हुए सूरज को देख सकते हैं, जो देखने में बेहद ही खूबसूरत लगता है।
Pc: Vipul ji

भोग नांदेशेश्वर मंदिर

भोग नांदेशेश्वर मंदिर

पहाड़ी की शिखर पर एक मंदिर है जो शिव के गण नंदी को समर्पित है।

मंदिर के बगल में पवित्र टैंक

मंदिर के बगल में पवित्र टैंक

मंदिर की थोड़ी दूर पर एक कुआँ हैं,हालांकि अब यह टैंक बंद कर दिया गया है, लेकिन आप इसे तब भी देख सकते हैं।
Pc:Satish Somasundaram

अक्रावती नदी

अक्रावती नदी

यहां अक्रावती नदी को भी देखा जा सकता है।Pc:Tinucherian

आसमान को छुयें

आसमान को छुयें

बादलों को स्पर्श करते हुए स्कंदगिरी पहाड़Pc: Shyamal

प्राकृतिक सौंदर्य

प्राकृतिक सौंदर्य

इस जगह के चारों ओर प्राकृतिक खूबसूरती को निहारा जा सकता है।Pc:Harsha K R

चारो और बन्दर ही बन्दर

चारो और बन्दर ही बन्दर

यहां आने वाले पर्यटकों को सलाह है, कि यहां आने के बाद अपने सामान का ध्यान रखें..क्योंकि यह जगह बंदरों के लिए एक प्रजनन स्थल है।
Pc: kiran kumar.r

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स