• Follow NativePlanet
Share
» »Hill Stations: हरिद्वार से बनाएं इन खूबसूरत जगहों का प्लान

Hill Stations: हरिद्वार से बनाएं इन खूबसूरत जगहों का प्लान

हरिद्वार देवभूमि उत्तराखंड के मुख्य आकर्षणों में गिना जाता है। जो अध्यात्म और आस्था के साथ-साथ आश्रमों का केंद्र है। धार्मिक क्रियाकलापों व स्वच्छ आबोहवा की वजह से यहां सैलानी ज्यादा आना पसंद करते हैं। यहां से होकर गुजरती पवित्र गंगा में डुबकी लगाना लोगों की जीवन इच्छा होती है। यहां असंख्य ऋषि मुनियों के आश्रम और गंगा घाट मौजूद हैं, जो इस नगर को एक पवित्र धाम बनाने का काम करते हैं।

अगर आप इस बीच घूमने-फिरने की योजना बना रहे हैं तो उत्तराखंड इन गर्मियों आपके लिए एक आदर्श विकल्प हो सकता है। हमारे साथ जानिए हरिद्वार के रास्ते आप कौन-कौन सी खास जगहों का प्लान आसानी से बना सकते हैं, वो भी कम बजट में।

इस लेख में उन चुनिंदा जगहों को शामिल किया गया है जो आध्यात्मिक अनुभव के साथ-साथ एडवेंचर और प्राकृतिक दृश्यों का आनंद उठाने में काफी मददगार साबित होंगे। 

राजधानी शहर देहरादून

राजधानी शहर देहरादून

PC- Krupal Bhavsar

देहरादून, उत्तराखंड की राजधानी और राज्य का प्रशासनिक शहर है। राज्य के अधिकतक कानूनी काम यहीं से संचालित होते हैं। यह कम ऊंचाई पर बसा उत्तराखंड प्रसिद्ध नगर है। यह शहर अपनी सुंदरता ,आकर्षक स्थानों और फैशन के लिए जाना जाता है। घमने-फिरने व खरीदारी करने के लिए देहरादून काफी लोकप्रिय है। यहां शहर का बड़ा पलटन बाजार है, जहां सुबह से लेकर देर रात तक ग्राहकों की भीड़ लगती है।

किफायती दामों के कारण यहां सैलानी खरीदारी करना ज्यादा पसंद करत हैं। इसके अलावा यहां ढ़ेरों घूमने की जगहें हैं, जैसे एफआरआई (इंडियन फॉरेस्ट इंस्टीट्यूट), बुद्धा टेंपल, सहस्त्रधारा,फन वैली आदि।

लच्छीवाला पिकनिक स्पार्ट

लच्छीवाला पिकनिक स्पार्ट

हरिद्वार से देहरादून के रास्ते डोईवाला के पास स्थित लच्छीवाला एक खूबसूरत पिकनिक स्पॉट है। गर्मियों के दिनों में लच्छीवाला पर्यटकों से खचाखच भरा रहता है। स्थानीय फॉरेस्ट विभाग के आकंडों के मुताबिक यहां सालाना लाखों लोग आते हैं। अप्रैल-मई के बीच यहां रोजाना 5000 से ज्यादा सैलानियों का आवागमन है। लच्छीवाला एक बड़े प्राकृतिक क्षेत्र में फैला नदी किनारे बसा है। यहां सोंग नदी की सहायक नदी बहती है।

जिसके बहाव को कुछ-कुछ जगहों पर रोककर नहाने के लिए स्विमिंग पूल जैसे पूल्स का निर्माण किया गया है। पानी की स्वच्छता बनी रहे इसलिए यहां साबुन का इस्तेमाल वर्जित है। आप यहां दोस्तों व परिवार के साथ गर्मियों में शीतल जल में स्नान का आनंद ले सकते हैं। लच्छीवाला का पूरा क्षेत्र स्थानीय जंगल से घिरा है। गुड़गांव की वो जगहें जिनसे जुड़ी हैं भूत-प्रेतों की सच्ची घटनाएं

आध्यात्मिक केंद्र ऋषिकेश

आध्यात्मिक केंद्र ऋषिकेश

अगर आप आध्यात्मिक अनुभव के साथ थोड़ा एडवेंचर का मजा लेना चाहते हैं तो हरिद्वार से निकल ऋषिकेश के लिए कूच करें। हरिद्वार से ऋषिकेश की दूरी लगभग 20 किमी की है। आप यहां तक का सफर स्थानीय परिवहन की मदद से मात्र 20 रूपए में कर सकते हैं। ऋषिकेश अपने आध्यात्मिक अनुभव के साथ-साथ एडवेंचर के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है।

विश्व के कोने-कोने से सैलानी अलग अनुभव की खोज में यहां आते हैं। पहाड़ों से आती गंगी यहां का मुख्य आकर्षण है, जो गर्मी के दिनों में पर्यटकों के लिए वाटर एडवेंचर का साधन बन जाती है। आप यहां ट्रेकिंग, रिवर राफ्टिंग, वैली क्रॉसिंग, रॉक क्लाइंबिंग, बंजी जंपिंग आदि स्पोर्ट्स का रोमांचक अनुभव ले सकते हैं।अद्भुत :भारत के इन शहरों से जुड़ा है मां दुर्गा का खास नाता, जानिए क्यों

नरेंद्रनगर का सफर

नरेंद्रनगर का सफर

PC- Ekabhishek

ऋषिकेश के न्यू टिहरी के रास्ते लगभग 21 किमी की दूरी पर स्थित नरेंद्रनगर एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है। यहां का मुख्य आकर्षण यहां की प्राकृतिक खूबसूरती और टिहरी रियासत के राजा नरेंद्र शाह का ऐतिहासिक महल है। हालांकि अब यह महल मात्र देखने भर ही रह गया है। फिर भी इसकी खूबसूरती आज भी अपनी प्रारंभिक अवस्था में हैं।

महल की प्राचीन वास्तुकला व बगीचा देखने लायक है। महल तक पहुंचने के लिए संकरे पहाड़ी रास्तों के सहारे जाया जाता है। आप यहां अपने निजी वाहनों के मदद से यहां आ सकते हैं। इसके अलावा नरेंद्रनगर में आप माता कुंजापुरी के दर्शन भी कर सकते हैं। जो गढ़वाल के प्रमुख धार्मिक स्थलों में शामिल है।

न्यू टिहरी

न्यू टिहरी

PC- Paul Hamilton

ऋषिकेश से होते हुए नरेंद्रनगर, चंबा के रास्ते आप न्यू टिहरी पहुंच सकते हैं। चीड़-देवदार के जंगलों से घिरा यह खूबसूरत शहर अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए जाना जाता है। जिसका इतिहास काफी पुराना है। बताया जाता है कि पुराने टिहरी शहर को डुबा कर यहां बांध(टिहरी डैम) का निर्माण किया गया था। जिसके बाद ऊपर पहाड़ी पर न्यू टिहरी शहर को बसाया गया है।

पर्यटन के लिहाज से यह शहर काफी उन्नत है। आप यहां जी भर कर प्राकृतिक दृश्यों का आनंद उठा सकते हैं। आप यहां वाइट वाटर राफ्टिंग के साथ-साथ ट्रेकिंग का रोमांचक अनुभव ले सकते हैं।बनारस-लखनऊ के सफर के बीच इस तरह लीजिए डबल मजा



मसूरी हिल स्टेशन

मसूरी हिल स्टेशन

PC- Michael Scalet

उपरोक्त स्थानों के अलावा आप चाहें तो पहाड़ों का रानी मसूरी घूमने का प्लान बना सकते हैं। मसूरी उत्तराखंड के प्रमुख हिल स्टेशन में शामिल है। जहां आप जी भरकर प्राकृतिक खूबसूरती और एडवेंचर का आनंद ले सकते हैं। देहादून से यह मसूरी लगभग 35 किमी की दूरी पर स्थित है वहीं न्यू टिहरी से यहां तक की दूरी 72 किमी है। आप यहां खूबसूरत पहाड़ी दृश्यों के अलावा प्राकृतिक झरनों को देख सकते हैं। जिनमें झड़ीपानी, भट्टा फॉल, कैम्पटी फॉल प्रमुख हैं। इनके अलावा आप ज्वालाजी मंदिर, तिब्बती टेंपल, गन हिल, म्यूनिसिपल गार्डन आदि स्थानों की सैर का आनंद ले सकते हैं। बुलेट ट्रेन से पहले करोड़ों खर्च कर उतारी गई ये खास ट्रेन

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स