• Follow NativePlanet
Share
» »भारत की चुनिंदा जगहें, जहां प्रवेश के लिए चाहिए खास परमिट

भारत की चुनिंदा जगहें, जहां प्रवेश के लिए चाहिए खास परमिट

भारत में खूबसूरत पर्यटन स्थलों की भरमार है, जहां की अनमोल खूबसूरती का आनंद उठाने के लिए देश-विदेश से सैलानी यहां तक का सफर तय करते हैं। बाकी देशों की तुलना में यहां घूमने-फिरने की पूरी आजादी है। लेकिन फिर भी भारत में कुछ ऐसे राज्य व शहर हैं जहां प्रवेश के लिए खास परमिशन की जरूरत पड़ती है। जिसका सबसे बड़ा कारण 'सुरक्षा' है, क्योंकि भारत के कई राज्य पड़ोसी देशों की सीमा से लगे हुए हैं। हमारे साथ जानिए भारत में मौजूद कुछ खूबसूरत जगहों के बारे में जहां प्रवेश के लिए आपको विशेष इनर परमिट की जरूरत पड़ेगी।

नागालैंड का कोहिमा

नागालैंड का कोहिमा

PC- Jackpluto

कोहिमा भारत के पूर्वोत्तर राज्य नागालैंड का राजधानी शहर है। जहां ज्यादातर आदिवासी समाज रहते हैं। ये आदिवासी समाज अपनी अनोखी संस्कृति व परंपरा के लिए जाने जाते हैं। कोहिमा शहर अपनी पहाड़ी खूबसूरती के लिए विश्व विख्यात है। पर्यटक यहां आदिवासी रहन-सहन के अलावा यहां के खूबसूरत प्राकृतिक स्थलों की सैर का आनंद लेने के लिए आते हैं।
राज्य संग्रहालय, दजुको घाटी, एम्पोरियम, नागा हेरिटेज कॉम्पलेक्स, जप्फु चोटी, त्सेमिन्यु, दज्युलेकी आदि यहां के प्रमुख प्रर्यटन स्थल हैं। लेकिन यहां आने के लिए आपको इनर लाइन परमिट लेना होगा। जिसके बाद ही आप कोहिमा में प्रवेश कर पाएंगे।

लोकटक झील, मणिपुर

लोकटक झील, मणिपुर

PC- rajkumar1220

मणिपुर स्थित लोकटक लेक ताजे पानी की एक खूबसूरत झील है। जो अपने तैरते हुए भूखंड के टुकडों के लिए जानी जाती है। इन टुकडों को स्थानीय भाषा में 'कुंदी' कहा जाता है। यह पूरी झील लगभग 280 वर्ग के क्षेत्र में फैली है। लेक में कई तैरते हुए द्वीप हैं जिनमें 'केयबुल लामजाओ' नाम का द्वीप सबसे बड़ा और मुख्य आकर्षण है। यह झील कई जीव-वनस्पतियों का निवास स्थान भी है। इसलिए इस पूरे इलाके को सरकार द्वारा संरक्षित कर लिया गया है।

बता दें कि यह विश्व का एकमात्र तैरता हुआ राष्ट्रीय उद्यान है। यहां संगइ हिरण (प्राय लुप्त प्रजाति) का अंतिम घर भी है। यह एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है लेकिन आपको यहां के लिए इनर लाइन परमिट की आवश्यकता पड़ेगी।

चंगु लेक, सिक्किम

चंगु लेक, सिक्किम

PC- Rajib Ghosh

सिक्किम स्थित चंगु झील एक खूबसूरत पर्यटन गंतव्य है। इस झील को त्सोंगमो के नाम से भी जाना जाता है। सर्दियों में यह झील का पानी बिलकुल जम जाता है। जिस कारण यहां का नजारा बेहद ही खूबसूरत लगता है। समुद्र तल से 3780 ऊंचाई पर स्थित इस झील का पानी पास के हिम पहाड़ों से आता है।

आप यहां अपने परिवार व दोस्तों के साथ एक शानदार समय बिता सकते हैं। यह झील सिक्किम राज्य के पूर्व सिक्किम जिले के अंतर्गत आती है। लेकिन यहां आने के लिए भी आपको इनर परमीट की आवश्यकता पड़ेगी।

जीरो, अरुणाचल प्रदेश

जीरो, अरुणाचल प्रदेश

PC- rajkumar1220

भारत के पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश में भी इनर लाइन परमिट लागू है। यह राज्य चीन को लेकर काफी ज्यादा विवादों में रहता है। इसलिए यहां सुरक्षा का विशेष ध्यान दिया जाता है कि कोई बाहरी व्यक्ति राज्य के लिए चुनौती न बन जाए।

घूमने फिरने यहां पूरी आजादी है पर सुरक्षा के लिहाज से इनर लाइन परमिट की आवश्यकता पड़ती है। वैसे यहां कई शानदार पर्यटन स्थल मौजूद हैं जिसमें से जीरो घाटी सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। इस घाटी के आसपास कई जनजाति के लोग रहते हैं।

आइजोल, मिजोरम

आइजोल, मिजोरम

PC- azara ralte

मिजोरम का राजधानी शहर आइजोल एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है। जो अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए विश्व भर में जाना जाता है। यहां घूमने-फिरने के लिए कई पर्यटन स्थल मौजूद हैं।

यहां ज्यादातर सैलानी हिल स्टेशन, मिजोरम की कला-संस्कृति को देखने के लिए आते हैं। लेकिन मिजोरम में प्रवेश करने के लिए भी आपको इनर लाइन परमीट की आवश्यकता पड़ेगी। बिना इसके आप मिजोरम में दाखिल नहीं हो सकते हैं।

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स