» »भारत के इन शहरों में चख सकते हैं बेहतरीन बिरयानी का मज़ा

भारत के इन शहरों में चख सकते हैं बेहतरीन बिरयानी का मज़ा

By: Namrata Shatsri

भारत एक ऐसी जगह है जहां आपको तीन में से हर पहला व्‍यक्‍ति बिरयानी का दीवाना बना मिल जाएगा। इस देश में लोगों को खाने में बिरयानी बहुत पसंद है। आज दुनियाभर में बिरयानी के कई आउटलेट्स हैं और इसी वजह से आज ये डिश इंटरनेशनल डिशेज में शुमार हो चुकी है। एशिया के दक्षिणी हिस्‍से में तो बिरयानी को खूब पसंद किया जाता है। इसके फ्लेवर और स्‍वाद के कारण बिरयानी हर किसी के मुंह में पानी ले आती है।

भारत में ऐसी कई जगहें हैं तो बिरयानी डिश के लिए बेहतरीन मानी जाती हैं। भारतीय उपमहाद्वीप में बिरयानी की कई किस्में हैं और मसालों और मीट या सब्जियों के साथ इसकी कई वैरायटियां तैयार की जाती हैं।

लखनऊ से जुड़ी ये बातें शायद ही जानते होंगे आप!

अगर आपको बिरयानी बहुत पसंद है तो आज हम आपके लिए कुछ खास लेकर आए हैं। आज हम आपको देश के कुछ ऐसे शहरों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां बेहतरीन और सबसे ज्‍यादा स्‍वादिष्‍ट बिरयानी मिलती है।

दिल्‍ली

दिल्‍ली

खाने-पीने के मामले में दिल्‍ली शहर सबसे आगे है। इस जगह पर आपको हर चीज़ मिल जाएगी। यहां आप खरीदारी से लेकर पेट पूजा तक कर सकते हैं। दिल्‍ली शहर मुगलई खाने के लिए भी मशहूर है और यहां पर मुगलकाल के दौरान बिरयानी का जन्‍म हुआ था। माना जाता है कि शाहजहां के शासनकाल के दौरान सबसे पहले बिरयानी की शुरुआत हुई थी। तब से लेकर अब तक बिरयानी के फ्लेवर और किस्‍मों में काफी बदलाव आया है।

शहर के कई हिस्‍सों में करी चिली पेपर के और रायते के साथ मुगल बिरयानी परोसी जाती है। यहां तक कि मुगलई बिरयानी में हमेशा एक जैसी ही चीज़ें डाली जाती हैं लेकिन दिल्‍ली के हर एक हिस्‍से में कुछ अलग तरह से बिरयानी पकाई जाती है। निजामुद्दीन बिरयानी में मीट और मसालों का सीमित प्रयोग किया जाता है। शाहजहानाबाद में सेहत को ध्‍यान में रखकर बिरयानी तैयार की जाती है जब‍कि दिल्‍ली के कुछ हिस्‍सों में अचार बिरयानी परोसी जाती है।

दिल्‍ली में ऐसी कई जगहें हैं जहां आप टेस्‍टी बिरयानी चख सकते हैं। इस शहर में चांदनी चौक, जामा मस्जिद, नेशनल मार्केट आदि में स्‍वादिष्‍ट बिरयानी मिलती है।Pc:Nundhaa

लखनऊ

लखनऊ

नवाबों के इस शहर को शाही मेहमाननवाज़ी और अवधी खाने के लिए जाना जाता है। ये शहर दुनिया की सबसे पुरानी बिरयानी डेस्टिनेशन के रूप में प्रसिद्ध है। लखनऊ आने वाला हर पर्यटक यहां पर बिरयानी का स्‍वाद जरूर चखता है। पूरे शहर में स्‍ट्रीट पर कबाब और बिरयानी के ढेरों स्‍टॉल लगे हुए हैं।

लखनऊ की अवधी बिरयानी अन्‍य बिरयानी से थोड़ी अलग है क्‍योंकि यहां पर इसे पकाने और सर्व करने का तरीका हटकर है। नवाबों का शहर होने के कारण यहां पर बिरयानी को शाही अदाज़ में परोसा जाता है। यहां पर डम स्‍टाइल में चावलों और मीट को अलग-अलग पकाया जाता है और फिर उसमें कई तरह की सामग्री डाली जाती है। अवधी बिरयानी की सबसे खास बात है कि इसे धीमी आंच पर पकाया जाता है ताकि इसमें डाली गई सभी सामग्रियों का पूरा स्‍वाद आ सके।

लखनऊ में आप चौपाटियां चौक, गोमती नगर,बंगला बाज़ार आदि पर बिरयानी के अलग-अलग फ्लेवर का स्‍वाद चख सकते हैं।Pc: jabrta

हैदराबाद

हैदराबाद

बात बिरयानी की हो और हैदराबाद का नाम ना आये ये तो मुमकिन ही नहीं है बॉस, हैदराबाद को भारत की बिरयानी कैपिटल कहा जाता है इस शहर को चार मीनार के नाम से भी जाना जाता है और ये शहर अपनी पाक कला के लिए भी मशहूर है। अगर आपको भूख लगी है और आप भारत की सबसे बैस्‍ट नॉन वेजिटेरियन डिश खाना चाहते हैं तो आपको हैदराबाद की सड़कों पर स्‍वादिष्‍ट बिरयानी का स्‍वाद चखना चाहिए।

यहां पर बिरयानी बनाने का तरीका बेहद अलग है। चावलों को यहां अलग से पकाया जाता है और तब तक मसालों के घोल में घंटों तक मीट को भिगोया जाता है और फिर इसमें फ्लेवर्ड राइस डाले जाते हैं। मसालों की खुशबू चावलों में घुल जाती है।

हैदारबाद में आप हैदरगुडा, नल्‍लाकुंटा, चार मीनार और सैफाबाद आ‍दि में स्‍वादिष्‍ट बिरयानी का मज़ा चख सकते हैं।Pc: FoodPlate

कोलकाता

कोलकाता

अभी तक हम आपको अपने इस लेख में चावल की बिरयानी के बारे में बता रहे थे, लेकिन अब बताने जा रहे हैं,आलू की बिरयानी के बारे में..पढ़कर आप हमे पागल जरुर कह सकते हैं, लेकिन ये सच है।

कोलकाता शहर में बिरयानी बनाने का तरीका कुछ अलग ही है। यहां पर मीट की जगह आलू की बिरयानी बनाई जाती है। कोलकाता में सबसे पहले बिरयानी 19वीं शताब्‍दी में बनाई गई थी। इस राज्‍य में गरीब लोगों ने मीट की जगह अंडे और आलुओं का प्रयोग करने की शुरुआत की थी क्‍योंकि उनके पास मीट खरीदने के लिए पैसे नहीं हुआ करते थे। इस तरह यहां पर बिरयानी की कई किस्‍मों की शुरुआत हुई।

कोलकाता की बिरयानी की सबसे खास बात इसकी सामग्री और मसालें हैं जो इस डिश का स्‍वाद दोगुना कर देते हैं। यहां पर ईलायची, दालचीनी और लौंग का अलग-अलग फ्लेवर देकर बिरयानी तैयार की जाती है। वहीं चावल में यहां पर गुलाबजल के साथ सैफ्रॉन का फ्लेवर दिया जाता है। कोलकाता की बिरयानी का स्‍वाद और रंग दोनों ही अनोखे हैं।

कोलकाता में आप बिरयानी की कई किस्‍मों का स्‍वाद पार्क स्‍ट्रीट, सॉल्‍ट लेक, बिधान सारानी और लेक गार्डन आदि में चख सकते हैं।

अगर आप भी बिरयानी लवर हैं तो भारत के इन शहरों में आपको अलग-अलग बिरयानी का फ्लेवर चख सकते हैं। बिरयानी का बेहतरीन स्‍वाद जरूर चखें।

Pc: Biswarup Ganguly

Please Wait while comments are loading...