• Follow NativePlanet
Share
» »बिहार की इन जगहों का सन्नाटा निकाल सकता है आपकी चीखें

बिहार की इन जगहों का सन्नाटा निकाल सकता है आपकी चीखें

भारत का पूर्वी राज्य बिहार चुनिंदा ऐतिहासिक जगहों में गिना जाता है। इस राज्य ने देश को कई महान बुद्धिजीवी और योद्धा दिए हैं। आज यह राज्य पर्यटन के रूप में काफी उभरा है जहां अतीत से जुड़े साक्ष्यों और धार्मिक स्थानों को देखने के लिए देश-दुनिया से लोग आते हैं। इसके अलावा बिहार वर्तमान में बौद्ध पर्यटन के लिए काफी मशहूर हुआ है। यहां गौतम बुद्ध से जुड़े कई साक्ष्य मौजूद हैं।

नालंदा, राजगीर, बोधगया, पटना, मधुबनी, सासाराम,जलमंदिर आदि यहां के प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। लेकिन इन सब के बीच बिहार में कुछ ऐसी भी जगह मौजूद हैं जो अपने डरावने अनुभव के लिए जानी जाती हैं। क्या आप जानना चाहेंगे बिहार के उन चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों के बारे में जहां का सन्नाटा मौत का पैगाम लेकर आता है। जहां की हवाएं कानों में डरावने शब्द छोड़ जाती हैं। 

सीवान का कब्रिस्तान

सीवान का कब्रिस्तान

बिहार के सीवान जिले में बड़हरिया रोड के पास एक पुराना कब्रिस्तान मौजूद है, जिसे राज्य के चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों में शामिल किया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार यहां अजीबोगरीब घटनाओं को घटते देखा गया है।

यहां लोगों के डरावनी आवाजें, अजीब सी परछाई का अनुभव किया है। यहां तक कि कई लोगों ने यहां किसी प्रेत को घूमते हुए भी देखा है। अब इस बात में कितनी सच्चाई है इसका कोई सटीक प्रमाण उपलब्ध नहीं।अद्भुत : उत्तराखंड का यह फल कभी देवताओं को परोसा जाता था

मधुबनी का तालाब

मधुबनी का तालाब

कोई यह सोच भी नहीं सकता है कि मधुबनी जैसा शांत क्षेत्र भी भूत-प्रेतों का शिकार हो सकता है। कहते हैं कि यहां बसैठ गांव के पास किसी तालाब में अनहोनियां घटती रहती हैं। स्थानीय निवासियों का मानना है कि तालाब में कभी यात्रियों से भी भरी गिर गई थी, जिसमें 50 लोगों की मौत हो गई थी।

जिसके बाद से यहां अनहोनियों का सिलसिला शुरू हुआ। शाम के बाद यह तालाब काफी डरावना हो जाता है, जहां ज्यादा देर तक कोई नहीं रूकना। Hill Stations: हरिद्वार से बनाएं इन खूबसूरत जगहों का प्लान


पटना का भूतिया मकान

पटना का भूतिया मकान

पटना शहर के लोहिया नगर में स्थित एक पुराना मकान है, जिसे राज्य के प्रेतवाधित जगहों में शामिल किया गया है। यह मकान खाली पड़ा है, जिसका वर्तमान में कोई मालिक नहीं। कहा जाता है कि यहां कभी कोई परिवार रहा करता था, लेकिन कुछ अजीबोगरीब घटनाओं के कारण उन्हें यह मकान खाली कर कहीं और शिफ्ट होना पड़ा।

जानकारों के मुताबिक यहां उस परिवार ने यहां भूत-प्रतों को देखा था, जिसके बाद परिवार के सदस्यों की तबीयत खराब होने लगी। घर में तांत्रिक बुलाया गया, जिसने इस बात पर मोहर लगाई कि यहां किसी प्रेत का साया है। जिसके बाद वो परिवार यहां एक भी दिन नहीं रूका।

आज भी वो मकान खाली पड़ा है जिसके खिड़की-दरवाजे वैसे के वैसे बंद पड़े हैं। गुड़गांव की वो जगहें जिनसे जुड़ी हैं भूत-प्रेतों की सच्ची घटनाएं

पटना-औरंगाबाद रोड़

पटना-औरंगाबाद रोड़

पटना-औरंगाबाद के बीच बनी रोड पर कई रहस्यमयी एक्सीडेंट हो चुके हैं, जिनके पीछे किसी भटकती आत्मा का हाथ बताया जाता है। जानकारों का मानना है कि यहां रात में कोई सफेद लिबास में औरत अचानक वाहनों के सामने आ जाती है और लिफ्ट मांगती है।

जिसके बाद वो कहीं गायब हो जाती है। अचानक वाहन के सामने आ जाने की वजह से यहां कई बड़े सड़क हादसे हो चुके हैं।बुलेट ट्रेन से पहले करोड़ों खर्च कर उतारी गई ये खास ट्रेन

किला घर

किला घर

जलान म्यूजियम के नाम से मशहूर पटना का किला घर भी चुनिंदा प्रेतवाधित जगहों में गिना जाता है। एक ऐतिहासिक किले से म्यूजियम मे तब्दील यह किला अपने अंदर कई राज समेटे हुए है। यहां लोगों ने रहस्यमयी घटनाओं का अनुभव किया है। लोगों का मानना है यहां किसी प्रेत-आत्मा का बुरा साया है। जो यहां आने वाले लोगों को अपने होने का संकेत देती है।

पटना का रेलवे क्वाटर

पटना का रेलवे क्वाटर

उपरोक्त स्थानों के अलावा पटना का एक रेलवे क्वाटर भी बिहार के चुनिंदा प्रेतवाधित स्थानों में गिना जाता है। जानकारों का मानना है कि यहां रहने वाले किसी रेल कर्मचारी की पत्नी के अंदर कोई बुरी आत्मा दाखिल हो गई थी, जिसके बाद उस औरत के बोलने का तरीका बिलकुल बदल गया था।

महिला को ठीक करने के लिए कई तांत्रिक-ओझाओं को बुलाया गया लेकिन सब असफल रहे। जिसके बाद उस महिला को राजस्थान के पुष्कर ले जाया गया, जहां के पवित्र जल में स्नान करने के बाद उस महिला के शरीर से वो आत्मा निकलकर बाहर आई।OMG : जितना चाहें दबाकर खाएं और जितनी मर्जी उतना चुकाएं !

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स