India
Search
  • Follow NativePlanet
Share
» »शौर्य और चित्र-शैली के लिए जाना जाता है बूंदी

शौर्य और चित्र-शैली के लिए जाना जाता है बूंदी

By Khushnuma

राजस्थान का ऐतिहासिक नगर बूंदी को 'किलों का नगर' भी कहते हैं। इस नगर के चार द्वार (दरवाज़े) हैं- पाटनपोल, भैरवपोल, शुकुलवारी पोल एवं चौगान। इस नगर का प्रमुख आकर्षण तारागढ़ किला है। जो अपने आपने कलात्मक शैली का बे-जोड़ नमूना है। इस किले के अलावा यहाँ कई मंदिर भी हैं जिनमे से कुछ यूँ हैं जो दर्शनीय हैं- चतुर्भुजा, लक्ष्मीनाथ, कल्याण रायजी और दधवन्तु माता के मंदिर आदि।

अगर आप बूंदी की सैर करने को सोच रहे हैं तो आपको बतादें की यहाँ तारागढ़ किला, बूंदी के और अन्य किले, मंदिर,महल आदि आपकी इस यात्रा को सफल बना देंगे। यहां आकर सैलानियों को महलों की भव्यता देखने को मिलती है। इनमें छत्र महल, अनिरुद्ध महल, रतन महल, फूल महल, बादल महल एवं उम्मेद महल महत्वपूर्ण हैं। महलों में दीवान-ए-आम, चित्रशाला, दरीखाना और रतन गुम्मट की शोभा अलग ही नजर आती है। छत्रमहल यहां का सबसे पुराना महल है। इन आलीशान महलों की चित्रकला लाजवाब है। तो चलिए सैर करते हैं किलों के नगर की।
वेलेंटाइन सीज़न में पाइये घरेलू उड़ानों पर 2000रु. की छूट

तारागढ़ किला

तारागढ़ किला

तारागढ़ किला बूंदी की सबसे खूबसूरत ऐतिहासिक रचना है जिससे बूंदी का नाम हमेशा हमेशा याद रखा जाता है। यह अपने आपमें अद्भुत है इस किले के भीतर एक छोटा संग्राहलय भी है जो विभिन्न कलाकृतियों व शिकारों भित्तिचित्रों को बड़ी खूबियों से सजाये हुए हैं।

पढ़ें:अमर प्रेम की ऐतिहासिक इमारतें

Image Courtesy:Barry Rogge

नवल सागर

नवल सागर

नवल सागर झील बेहद खूबसूरत झील है। इस झील के बीच में एक आकर्षक मंदिर है जो वरुण नाम से जाना जाता है। यहाँ पर्यटक आकर इस मंदिर के दर्शन तो करते ही हैं साथ ही यहाँ पिकनिक का भी पूरा मज़ा उठाते हैं।

Image Courtesy:Lev Yakupov

फूल सागर बाग़

फूल सागर बाग़

हरीभरी आकृतियों और खूबसूरत नज़ारों से घिरा हुआ फूल सागर बाग़ अपने आपमें अदुितीय है। यह बाग बेहद शांत माहौल में से घिरा हुआ है इसलिए यहाँ आने वाले सैलानी यहाँ घंटों सुकून के पल बिताया करते हैं।

Image Courtesy:Daniel VILLAFRUELA

शिकार बुर्ज

शिकार बुर्ज

सुखमहल के पास ही में स्थित यह शिकार बुर्ज बेहद आकर्षक वाला स्थल है। पुरातन में यह बुर्ज शिकार करने के लिए था लेकिन वर्तमान में अब यह एक पिकनिक स्थल है।

Image Courtesy:Lev Yakupov

कैसे जाएँ

कैसे जाएँ

वायु मार्ग द्वारा
सांगानेर हवाईअड्डा जो बूंदी से 215 किमी दूर है बूंदी के सबसे पास का हवाईअड्डा है। हवाईअड्डे से बूंदी के लिए टैक्सीयां उपलब्ध हैं। जयपुर का हवाईअड्डा इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा, नई दिल्ली और छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा, मुंबई से नियमित उड़ानों द्वारा जुड़ा हुआ है।

रेल मार्ग द्वारा
बूंदी का रेलवे स्टेशन पुराने शहर से 2 किमी दूर दक्षिण में स्थित है। यह देश के कई बड़े शहरों से नियमित रेलगाड़ियों द्वारा जुड़ा हुआ है।

सड़क मार्ग द्वारा
बूंदी राज्य के अन्य शहरों से एक्सप्रेस बस सेवा द्वारा जुड़ा हुआ है। बूंदी के लिए कई शहरों जैसे माधोपुर, बीकानेर, जयपुर, कोटा, बिजोलिया, उदयपुर, अजमेर और जोधपुर से बसें उपलब्ध हैं।

Image Courtesy:Justin Morgan

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X