Search
  • Follow NativePlanet
Share
होम » स्थल » सकलेशपुर » वीकेंड में जाने लायक

नजदीक के स्थान सकलेशपुर (वीकेंड में जाने लायक)

  • 01होरानाडू, कर्नाटक

    होरानाडू  - जिसे मिला है प्रकृति से वरदान 

    होरानाडू की प्रसिद्धि का मुख्य कारण यहाँ का अद्भुत देवी अन्नापूर्नेश्वरी मंदिर है। जो लोग प्रकृति की असली महिमा देखना चाहते हैं, होरानाडू पहुंचकर वह अपनी इन्द्रियों को तृप्त कर......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 109 km - 2 Hrs, 30 min
    Best Time to Visit होरानाडू
    • अक्टूबर - मार्च
  • 02कूर्ग, कर्नाटक

    कूर्ग पर्यटन - पहाडि़यों और पेड़ों की नगरी

    कुर्ग या कोडागु, कर्नाटक के लोकप्रिय पर्यटन स्‍थलों में से एक है। कूर्ग, कर्नाटक के दक्षिण पश्चिम भाग में पश्चिमी घाट के पास एक पहाड़ पर स्थित जिला है जो समुद्र स्‍तर से......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 105 km - 2 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit कूर्ग
    • अप्रैल - नवंबर
  • 03नंजनगुड, कर्नाटक

    नंजनगुड - मंदिरों का शहर

    नंजनगुड मैसूर जिले में छोटा सा कस्‍बा है। यह समुद्री तट से 2155 फीट की ऊंचाई पर है। नंजनगुड पर कई शासनकारों ने राज किया, पर इनमें से प्रमुख हैं गंगा राजवंश, होय्सला राजवंश......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 179 km - 3 Hrs, 15 min
    Best Time to Visit नंजनगुड
    • जनवरी - दिसंबर
  • 04सावनदुर्ग, कर्नाटक

    सावनदुर्ग - रोमांचक यात्रा  

    सावनदुर्ग प्रसिद्ध है अपनी दो पहाड़ियां, मंदिरों और नैसर्गिक सौन्दर्य के लिए। बैंगलोर से 33 कि.मी दूर होने के कारण, भारत के किसी भी कोने से यहाँ पहुँच सकते हैं। पहाड़ियां और......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 187 km - 3 Hrs, 25 min
    Best Time to Visit सावनदुर्ग
    • अक्टूबर - मार्च
  • 05नृत्यग्राम, कर्नाटक

    नृत्यग्राम – आपकी रातें और नृत्य

     ...

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 210 km - 3 Hrs, 50 min
    Best Time to Visit नृत्यग्राम
    • जनवरी - दिसम्बर
  • 06बिंदूर, कर्नाटक

    बिंदूर - समुन्दर, रेत और सागर पर बसा हुआ

    बिंदूर एक छोटा सा गाँव है। यह उडपी जिले के कुंदापुर तालुक में है। बिंदूर जाना जाता है अपने खूबसूरत तटों और सुन्दर दिखने वाले सूर्यास्त के लिए। यहाँ का सोमेश्वर मंदिर जो कि शिव......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 252 km - 3 Hrs, 55 min
    Best Time to Visit बिंदूर
    • अप्रैल - नवम्बर
  • 07तडियाण्डमोल, कर्नाटक

    तडियाण्डमोल पर्यटन - कर्नाटक की दूसरी सबसे बड़ी पर्वत चोटी

    तडियाण्डमोल कर्नाटक की दूसरी सबसे बड़ी पर्वत चोटी है। पश्चिमी घाट में स्थित यह चोटी कूर्ग जिले के कक्काबे कस्बे में के नजदीक ही है। यह केरल- कर्नाटक बॉर्डर के दायें स्थित है और......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 142 km - 3 Hrs
    Best Time to Visit तडियाण्डमोल
    • अप्रैल - नवंबर
  • 08अगुम्बे, कर्नाटक

    अगुम्बे - किंग कोबरा का घर

    अगुम्बे शिमोगा जिले के तीर्थहल्ली तालुक में है। कन्नड़ के महान कवी कुवेम्पु इसी स्थान से है। इसे मलनाड प्रदेश भी कहा जाता है। यह प्रसेश अपनी हरियाली और झरनों के लिए प्रसिद्ध है।......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 150 km - 3 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit अगुम्बे
    • अक्टूबर - मई
  • 09मालपे,

    मालपे

    मालपे – जहां है सूर्य, लहरें और रेत मालपे समुद्र तटों का एक शहर है जो मंदिरों के शहर उडुपी से सिर्फ छह किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह एक प्राकृतिक बंदरगाह और कर्नाटक समुद्र तट......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 188 km - 3 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit मालपे
    • जनवरी - दिसम्बर
  • 10उडुपी, कर्नाटक

    उडुपी पर्यटन - चाँद और सितारों की भूमि

    कर्नाटक में उडुपी, कृष्ण मंदिर और अपने भोजन के लिए प्रसिद्ध है। इसका नाम माधव समुदाय के एक साधारण स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजन से मिलता, जो भगवान को चढ़ाने के लिये पकाया जाता......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 182 km - 3 Hrs, 5 min
    Best Time to Visit उडुपी
    • जनवरी - दिसंबर
  • 11दूबारे, कर्नाटक

    दूबारे - हाथियों से होगी मुलाकात

    कर्नाटक के कूर्ग क्षेत्र में कावेरी नदी के तट पर स्थित जंगलों में दूबारे बसा हुआ है। वास्‍तव में यह जंगल का हिस्‍सा ही है। माना जाता है कि मैसूर महाराजाओं के शासनकाल के......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 104 km - 2 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit दूबारे
    • सितम्बर - मार्च
  • 12होनेमरडु, कर्नाटक

    होनेमरडु पर्यटन - सा‍हसिक दिल वाले लोगों के लिये

    सा‍हसिक कार्यों को पसंद करने वाले लोग और पानी के खेलों में मजे करने वाले लोगों के लिए होनेमरडु एक अद्भुत पलायन है। छोटा सा गांव होनेमरडु जलाशय के करीब एक पहाड़ी की ढलान पर......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 270 km - 4 Hrs, 30 min
    Best Time to Visit होनेमरडु
    • अक्टूबर - मई
  • 13भीमेश्‍वरी, कर्नाटक

    भीमेश्‍वरी - झरनों के बीच बसा शहर

    यदि आप बैंगलोर या मंड्या जिले या उसके आस-पास के शहर में रहते हैं और आपको अपना वीकेंड सुहावना बनाना है, तो भीमेश्‍वरी आपकी च्‍वॉइस में शामिल हो सकता है। भीमेश्‍वरी,......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 226 km - 4 Hrs, 15 min
    Best Time to Visit भीमेश्‍वरी
    • अगस्त - फरवरी
  • 14रामनगरम, कर्नाटक

    रामनगरम - रेशम और शोले!

    रामनगरम, जिसे सिल्क सिटी (रेशम का शहर) भी कहा जाता है, बैंगलोर के दक्षिण पश्चिम में लगभग 50 किमी. की दूरी पर स्थित है और यह स्थान रामनगर जिले का मुख्यालय भी है। कर्नाटक के अन्य......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 204 km - 3 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit रामनगरम
    • जनवरी - दिसम्बर 
  • 15कावेरी फिशिंग कैम्‍प, कर्नाटक

    कावेरी फिशिंग कैम्‍प - मछली पकड़ने वालों के लिए एक प्रवेशद्वार

    कावेरी मत्स्य शिविर, दक्षिण कर्नाटक के जंगलों के बीच शान से बहती हुई कावेरी नदी के पास है। यह जगह प्रकृति प्रेमियों को जंगलों व एकांत के कारण मधुमक्खियों की तरह आकर्षित करती है।......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 226 km - 4 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit कावेरी फिशिंग कैम्‍प
    • दिसम्बर - मार्च
  • 16हासन, कर्नाटक

    हासन पर्यटन – होयसाल राजाओं की विरासत का शहर

    चन्ना कृष्णप्पा नाइक द्वारा 11वीं शताब्दी में स्थापित हासन शहर कर्नाटक के हासन जिले का मुख्यालय है। स्थानीय देवी हासनअम्बा के नाम पर नामित यह जिला कर्नाटक की स्थापत्य कला की......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 44 km - 55 min
    Best Time to Visit हासन
    • अक्टूबर - मार्च
  • 17नागरहोल, कर्नाटक

    नागरहोल - नदी के साथ एक रोमाँचक समय

    नागरहोल का शाब्दिक अर्थ है 'साँप नदी'। इस जगह का नाम यहाँ पर घने जंगलों के टेढ़े मेढ़े रास्ते से बहती तेज नदी के कारण पड़ा है जो कि एक रेंगते हुये साँप जैसी दिखती है। कर्नाटक के......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 162 km - 3 Hrs, 15 min
    Best Time to Visit नागरहोल
    • अक्टूबर -  मई
  • 18केम्मनगुंडी, कर्नाटक

    केम्मनगुंडी पर्यटन - एक शाही रिज़ॉर्ट

    कर्नाटक के चिकमंग्लूर जिले में तरिकेरे तालुक में स्थित केम्मनगुंडी हिल स्टेशन बाबा बुदन गिरि पहाड़ियों से घिरा है। ऊँचे पहाड़ों, गिरत झरनों, घने जंगलों और हरेभरे घास के मैदान के......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 94 km - 2 Hrs, 35 min
    Best Time to Visit केम्मनगुंडी
    • अक्टूबर - मार्च
  • 19मैसूर, कर्नाटक

    मैसूर पर्यटन - कर्नाटक की सांस्कृतिक राजधानी

    मैसूर कर्नाटक की सांस्कृतिक राजधानी होने के साथ-साथ राज्य का दूसरा सबसे बड़ा शहर भी है। दक्षिण भारत का यह प्रसिद्ध पर्यटन स्थल अपने वैभव और शाही परिवेश के लिए जाना जाता है।......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 156 km - 2 Hrs, 45 min
    Best Time to Visit मैसूर
    • जनवरी - दिसंबर
  • 20हैलेबिड, कर्नाटक

    हैलेबिड पर्यटन - राजस्व, गौरव और खंडहर की भूमि

    वास्तव में हैलेबिडु का अर्थ है "ओल्ड सिटी", ये कभी होयसाला राज्य की गौरवान्वित शाही राजधानी था। पुराने दिनों के दौरान, यह "द्वारसमुद्र" के रूप में जाना जाता था, जिसका अर्थ है......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 53 km - 1 Hr
    Best Time to Visit हैलेबिड
    • अक्टूबर - मार्च
  • 21मरावन्थे, कर्नाटक

    मरावन्थे – अनछुये समुद्र तट की पैदल यात्रा

    मरावन्थे शहर एक सुंदर समुद्र तटों का घर है, और यह शहर कर्नाटक के दक्षिण केनरा जिले में स्थित है। शहर के दाहिनी ओर अरब सागर जबकि बाईं तरफ सौपरनिका नदी बहती है। यह समुद्र तट,......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 233 km - 3 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit मरावन्थे
    • जनवरी - दिसम्बर
  • 22कोल्लूर, कर्नाटक

    कोल्लूर पर्यटन - देवी मूकाम्बिका की दिव्य भुजाओं में

    कोल्लूर कर्नाटक के कुंदापुर तालुक में एक छोटा सा गाँव है तथा देश भर के यात्रियों के लिए एक विशेष स्थान है। नित्य बहने वाली सोपर्णिका नदी के तट पर तथा पश्चिमी घाटों के सामने......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 257 km - 4 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit कोल्लूर
    • जनवरी - दिसंबर
  • 23श्रवणबेलगोला, कर्नाटक

    श्रवणबेलगोलापर्यटन - जहां गोमतेश्वर की विशालकाय प्रतिमा स्थित है

    गोमतेश्वर की 17.5 मीटर ऊंची मूर्ति आपको श्रवणबेलगोलामें कदम रखने से पूर्व ही दूर से दिखाई पड़ती है। 978 ई0 की यह मूर्ति इस बात का प्रमाण है कि श्रवणबेलगोलासदियों से सर्वाधिक......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 89 km - 1 Hr, 40 min
    Best Time to Visit श्रवणबेलगोला
    • अक्टूबर - मार्च
  • 24बेलूर, कर्नाटक

    बेलूर पर्यटन - होयसाल का प्राचीन शहर

    बेलूर, कर्नाटक के सबसे प्रसिद्ध स्‍थलों में से एक है। यह हसन जिले में स्थित है, इसे मंदिरों का शहर भी कहा जाता है जो बंगलौर से 220 किमी. की दूरी पर स्थित है। यह शहर यागची......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 38 km - 46 min
    Best Time to Visit बेलूर
    • अक्टूबर - मई
  • 25सिद्धपुर, कर्नाटक

    सिद्धपुर -  बागानों का शहर

    सिद्धपुर अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। यह शहर उत्‍तर कन्‍नड़ जिले के पश्चिमी घाट बीचों-बीच में स्थित है। 1,850 फीट की ऊॅचाई पर स्थित होने के कारण सिद्धपुर......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 116 km - 2 Hrs, 25 min
    Best Time to Visit सिद्धपुर
    • अक्टूबर - मई
  • 26करकला, कर्नाटक

    करकला - बाहुबली की भूमि

    कर्नाटक के उडुपी जिले में छोटे से शहर करकला का ऐतिहासिक के साथ-साथ धार्मिक महत्व भी है।सभी के लिए एक विरासत स्थल - क्या है करकला के आसपासकरकला का इतिहास 10 वीं सदी का है जब यहां......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 142 km - 2 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit करकला
    • अक्टूबर - मई
  • 27घाटी सुब्रमण्‍य, कर्नाटक

    घाटी सुब्रमण्‍य - जिसे कहते हैं मूर्तियों और शीशे का शहर

    दोद्दबल्लापुर के पास घाटी सुब्रमण्‍य मंदिर बेंगलूरु शहर से 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह बेंगलूरु के ग्रामीण जिले में बसा है। काफी समय से यह मंदिर तीर्थ यात्रियों के......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 239 km - 4 Hrs, 20 min
    Best Time to Visit घाटी सुब्रमण्‍य
    • जनवरी - दिसंबर
  • 28कोदाचादरी, कर्नाटक

    कोदाचादरी  - प्रकृति और रोमांच के प्रेमियों के लिए

    समुद्र तल से 1343 मीटर की ऊंचाई पर स्थित कोदाचादरी में भारत का सबसे मशहूर मंदिर, कोल्लूर मूकाम्बिका मंदिर है। कोदाचादरी पहाड़ की चोटी घने जंगलों के बीच से निकलती है और यह जगह......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 244 km - 4 Hrs
    Best Time to Visit कोदाचादरी
    • अक्टूबर - मार्च
  • 29श्रृंगेरी, कर्नाटक

    श्रृंगेरी — धार्मिक लोगों के लिए एक नगरी

    पूज्य हिंदू संत आदि शंकराचार्य ने शांत तुंगा नदी के तट पर स्थित इस श्रृंगेरी में अपना पहला मठ बनाया था। तब से श्रृंगेरी हजारों तीर्थयात्रियों के लिए एक महत्वपूर्ण गंतव्य हो गई......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 124 km - 3 Hrs, 5 min
    Best Time to Visit श्रृंगेरी
    • जनवरी - दिसंबर
  • 30बेंगलुरु, कर्नाटक

    बेंगलुरु पर्यटन - भारत का नया चेहरा

    भीड़—भाड़ वाले मॉल, आम लोगों से खचाखच भरी सड़कें और गगनचुंबी इमारतें, ऐसा नजारा आपको देखने को मिलेगा बेंगलुरु में। बेंगलुरु यानी इसे आप भारत की नई पीढ़ी का शहर भी कह सकते......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 225 km - 4 Hrs, 10 min
    Best Time to Visit बेंगलुरु
    • जनवरी - दिसंबर
  • 31देवआर्यनदुर्ग, कर्नाटक

    देवआर्यनदुर्ग पर्यटन - घाट के किनारे सैर

    हरे घने जंगलों से घिरी देवआर्यनदुर्ग की चट्टानी पहाडि़याँ वास्तव में इस हिल स्टेशन की यात्रा को सुखद बनाती है। 3940 फीट की ऊँचाई पर स्थित होने के कारण इस शहर की जलवायु इसी......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 185 km - 3 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit देवआर्यनदुर्ग
    • नवंबर - मार्च
  • 32काबिनी, कर्नाटक

    काबिनी- हाथियों की राजधानी  

    काबिनी वन्यजीव रिजर्व के कारण काबिनी का क्षेत्र अपने वन्य जीवन के लिए बहुत अच्छी तरह से जाना जाता है, जो नागरहोल प्रकृति रिजर्व का एक हिस्सा है। यह कर्नाटक की यात्रा के लिए आये......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 199 km - 4 Hrs
    Best Time to Visit काबिनी
    • अक्टूबर - मार्च
  • 33जोग फाल्स, कर्नाटक

    जोग फाल्स - राजसी प्रकृति  में सर्वश्रेष्ठ   जोग फॉल्स शायद प्रकृति की महिमा का सबसे शानदार उदाहरण है।वह शरावती नदी से उत्पन्न होता है और चार अलग धाराओं को मिलाकर बनता है और इन्हें राजा,रानी,रोवर और रॉकेट कहते हैं।  

    जोग के क्रिस्टलपानी का जलप्रपातचट्टानों या अन्य प्रकार के ऋण भार से मुक्त 830 फुट की ऊंचाई के नीचे सीधे व्यापक इस शानदार चादर से झरने की दृष्टि से हजारों आगंतुकों का मन मोह गया......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 283 km - 4 Hrs, 45 min
    Best Time to Visit जोग फाल्स
    •  जून - दिसम्बर
  • 34कुद्रेमुख, कर्नाटक

    कुद्रेमुख - एक अलग किस्म का पर्यटन स्‍थल

    कुद्रेमुख कर्नाटक के चिकमगलूर जिले में एक पहाड़ी परिसर है और यह पश्चिमी घाट का एक हिस्सा है। कुद्रेमुख का क्षेत्र एक लोकप्रिय हिल स्टेशन भी है। अपनी उठती-गिरती घास भूमि और घने......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 124 km - 2 Hrs, 45 min
    Best Time to Visit कुद्रेमुख
    • अक्टूबर - मई
  • 35एमएम हिल्स, कर्नाटक

    एमएम हिल्स  -  भगवान शिव से करनी हो मुलाकात तो यहां आइये

    मेल महादेश्‍वरा पहाडि़यों में भगवान शिव का सुंदर मंदिर यात्रा का मुख्‍य आकर्षण है साथ ही साथ यह क्षेत्र  प्रकृति प्रेमियों के लिए भी देखने लायक है। यह तेजस्‍वी......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 220 Km - 4 Hrs, 5 min
    Best Time to Visit एमएम हिल्स
    • अक्टूबर - मार्च
  • 36मैंगलोर, कर्नाटक

    मैंगलोर पर्यटन - कर्नाटक का प्रवेश द्वार

    अक्सर कहा जाता है कि मैंगलोर कर्नाटक का प्रवेश द्वार है। खूबसूरत मैंगलोर शहर अरब सागर के नीले पानी और पश्चिमी घाट के हरे, विशाल पहाड़ों के बीच बसा हुआ है। इस शहर का नाम भगवान......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 132 km - 2 Hrs, 20 min
    Best Time to Visit मैंगलोर
    • दिसंबर - फरवरी
  • 37श्रीरंगापट्नम, कर्नाटक

    श्रीरंगापट्नम - जहाँ इतिहास जीवंत होता है।

    श्रीरंगापट्नम एक ऐतिहासिक शहर है जो आपकी कर्नाटक यात्रा को यादगार बना देता है। श्रीरंगापट्नम कावेरी नदी की दो धाराओं से घिरा एक उपद्वीप है। यह उपद्वीप मैसूर के बहुत पास लगभग 13......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 146 km - 2 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit श्रीरंगापट्नम
    • सितम्बर - मार्च
  • 38बनवासी, कर्नाटक

    बनवासी- मंदिरों और घाट का

    प्राचीन मंदिरों का शहर है, जिसकी जड़ें 4000 ईसा पूर्व पुरानी हैं, बनवासी पश्चिमी घाट के जंगलों के बीच दबा है। उत्तर कन्‍नड़ ज़िले में स्थित यह शहर वरदा नदी के किनारे बसा है।......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 286 km - 5 Hrs, 5 min
    Best Time to Visit बनवासी
    • अक्टूबर - मई
  • 39बांदीपुर, कर्नाटक

    बांदीपुर  – जंगली प्राणियों के साथ आमना सामना

    बांदीपुर  वन संरक्षित क्षेत्र भारत में प्रमुख रूप से बाघ संरक्षित (टाइगर रिजर्व) क्षेत्र के रूप में जाना जाता है, जहाँ बाघों की आबादी लगभग 70 है। लगभग 900 वर्ग किलोमीटर में......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 235 km - 4 Hrs, 15 min
    Best Time to Visit बांदीपुर
    • जनवरी - दिसंबर
  • 40बनरगट्टा, कर्नाटक

    बनरगट्टा  - एक हाईटेक सिटी के पास जब प्रकृति ने किया वास

    यदि आप बैंगलोर में रहते हैं और सप्ताहांत में घूमने के लिए किसी स्थान की खोज में हैं तो बनरगट्टा जाने का प्‍लान बनाइए। यह एक प्रख्यात गंतव्य है जो संपूर्ण विश्व के लोगों को......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 247 km - 4 Hrs, 30 min
    Best Time to Visit बनरगट्टा
    • जनवरी - दिसंबर
  • 41चिकमंगलूर, कर्नाटक

    चिकमंगलूर पर्यटन- अशांतों के लिए एक बेहतर ठहरने योग्य गंतव्य

    चिकमंगलूर टाउन कर्नाटक प्रांत में इसी नाम के जिले में स्थित है। यह क्षेत्र बड़ा लोकप्रिय है क्योंकि यहां कई एक पर्यटन स्थल हैं। चिकमंगलूर पर्वतीय व दलदली भूमि मलनाड के समीप......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 63 km - 1 Hr, 15 min
    Best Time to Visit चिकमंगलूर
    • जनवरी - दिसंबर
  • 42भटकल, कर्नाटक

    भटकल - इतिहास के पन्नों में डूबा शहर

    भटकल उत्तर कर्नाटक के कारवार से 130 कि. मी दूर है। भटकल शहर और इसके बंदरगा दोनों ही बहुत प्राचीन है। भटकल का गौरवशाली इतिहास और उसके सुंदर समुद्री तट इसके आकर्षण का केंद्र है।......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 272 km - 4 Hrs, 25 min
    Best Time to Visit भटकल
    •  सितम्बर - मार्च
  • 43भद्रा, कर्नाटक

    भद्रा पर्यटन – हरियाली में एक स्वर्ग

    भद्रा एक ऐसा क्षेत्र है जो मुख्य रुप से भद्रा वन्यजीव अभयारण्य के लिए प्रसिद्ध है, और यह कर्नाटक के चिकमंगलूर जिले में स्थित है। पश्चिमी घाटों में स्थित, यह वन्यजीव अभयारण्य हाल......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 108 km - 2 Hrs, 40 min
    Best Time to Visit भद्रा
    • अक्टूबर - मार्च
  • 44कुक्के सुब्रमण्य,

    कुक्के सुब्रमण्य - जहाँ नाग देवता निवास करते हैं

    कुक्के सुब्रमण्य मंदिर सुलिया में मैंगलौर के पास, कर्नाटक में स्थित है। यह मंदिर अद्वितीय है क्यों कि भगवान सुब्रामय यहाँ साँपों के स्वामी के रूप में पूजे जाते हैं। यह मंदिर एक......

    + अधिक पढ़ें
    Distance from Sakleshpur
    • 58 km - 1 Hr, 3 min
    Best Time to Visit कुक्के सुब्रमण्य
    • जनवरी - दिसंबर
One Way
Return
From (Departure City)
To (Destination City)
Depart On
25 Mar,Mon
Return On
26 Mar,Tue
Travellers
1 Traveller(s)

Add Passenger

  • Adults(12+ YEARS)
    1
  • Childrens(2-12 YEARS)
    0
  • Infants(0-2 YEARS)
    0
Cabin Class
Economy

Choose a class

  • Economy
  • Business Class
  • Premium Economy
Check In
25 Mar,Mon
Check Out
26 Mar,Tue
Guests and Rooms
1 Person, 1 Room
Room 1
  • Guests
    2
Pickup Location
Drop Location
Depart On
25 Mar,Mon
Return On
26 Mar,Tue
  • Today
    Sakleshpur
    32 OC
    90 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy
  • Tomorrow
    Sakleshpur
    23 OC
    74 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy
  • Day After
    Sakleshpur
    22 OC
    71 OF
    UV Index: 7
    Partly cloudy